सरकारी योजना समाचार ट्रैक्टर समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

मटर की खेती : किसानों को प्रशिक्षण एवं खाद-बीज का वितरण करेंगी सरकार

मटर की खेती : किसानों को प्रशिक्षण एवं खाद-बीज का वितरण करेंगी सरकार
पोस्ट - November 01, 2022 शेयर पोस्ट

किसान हित में चलाई जा रही योजनाओं का लाभ लेकर अपनी आय में वृद्धि करें

देश में राज्य सरकारें किसानों की आर्थिक तौर पर मदद के लिए विभिन्न प्रकार की नई-नई योजनाओं को लाती रहती है। इन योजना के माध्यम से राज्य सरकारें विभिन्न फसलों का उत्पादन एवं किसानों की आय बढ़ाने के लिए अपने-अपने राज्य में किसानों को प्रशिक्षण के साथ-साथ उन्नत किस्मों के बीज एवं खाद उपलब्ध करती है। ताकि किसानों अपनीे आर्थिक स्थिति को बेहतर कर आय को दोगुना कर सके। इसी क्रम में राजस्थान सरकार की ओर से किसानों के हित में बेहद अच्छी खबर आयी है। राजस्थान सरकार ने डिस्ट्रिक्ट मिनिरल फाउण्डेशन ट्रस्ट मद से मटर उत्पादन पायलट प्रोजेक्ट के अन्तर्गत पंचायत समिति निम्बाहेड़ा के परिसर में किसानों को मटर उन्नत खेती पर प्रशिक्षण एवं मटर बीज व आदान वितरण किया गया। इस अवसर पर समारोह के मुख्य अतिथि सहकारिता मंत्री श्री उदयलाल आंजना ने किसानों को संबोधित करते हुए राज्य सरकार द्वारा किसानों के हित में चलाई जा रही योजनाओं का लाभ लेकर अपनी आय में वृद्धि करें। जानकारी के लिए बता दें कि सरकार विभन्न फसलों के उत्पादन को बढ़ने के लिए प्रशिक्षण के साथ-साथ उन्नत किस्मों के बीज किसानों को देती है। ट्रैक्टरगुरू के इस लेख के माध्यम से  हम आपको इस खबर से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे है।  

New Holland Tractor

बुवाई से लेकर कटाई तक आय-व्यय के ब्यौरे का विवरण डायरी में नोट करें

राजस्थान सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने किसानों को संबोधित करते हुए बताया की सरकार राज्य में किसानों की आय में वृद्धि करने व फसल का उत्पादन बढ़ाने के लिए हर साल उन्हें प्रशिक्षण के साथ-साथ उन्नत किस्मों के बीज देती हैं। उन्होंने ने आगे कहा की राजस्थान के अन्य जिलों में कृषि के क्षेत्र में नई ईजाद हुई कृषि तकनीक के ज्ञान वृद्धि हेतु डिस्ट्रिक्ट फाउंडेशन (डीएमएफटी) मद से भेजने के लिए निर्देशित किया। सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने किसानों को संबोधित करते हुए अनुरोध किया कि जिन किसानों का मटर खेती हेतु चयन किया गया है, वे किसान बुवाई से लेकर कटाई तक आय-व्यय के ब्यौरे का विवरण डायरी में नोट करें, ताकि अंत में गेहूं, जौ एवं चना आदि फसलों से फायदे की तुलना की जा सके। 

500 कृषकों को उन्नत खेती करने हेतु पायलट प्रोजेक्ट लिया गया है

समारोह में उपस्थित कृषकों को संबोधित करते हुए जिला कलक्टर अरविन्द कुमार पोसवाल ने कहा कि उप निदेशक कृषि (आइपीएम) चित्तौडगढ़ ओम प्रकाश शर्मा द्वारा कृषकों को रबी फसलों की बुवाई एवं उन्नत खेती एवं कृषि शष्य क्रियाओं के बारे में जानकारी दी गई। आगे जानकारी देते हुए कहा कि मटर उत्पादन हेतु डिस्ट्रिक्ट मिनिरल फाउण्डेशन ट्रस्ट मद अन्तर्गत जिले की पंचायत समिति निम्बाहेड़ा के 500 कृषकों को उन्नत खेती करने हेतु पायलट प्रोजेक्ट के लिए चयन किया है। उन्होंने कहा की चयनित कृषकों को वाट्सप ग्रुप बनाकर 20-20 किसानों का समूह बनाते हुए एक कृषि पर्यवेक्षक कों पर्यवेक्षण हेतु लगाया जाए जिससे वास्तविक परिणाम प्राप्त किए जा सके।

चयनित कृषकों को दिए गए बीज के किट

जिला कलक्टर अरविन्द कुमार पोसवाल द्वारा मटर उत्पादन हेतु लिए गये पायलट प्रोजेक्ट के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि चयनित कृषकों को 0.1 हेक्टेयर (आधा बीघा) भूमि हेतु मटर का 10 किलोग्राम उत्तम क्वालिटी बीज किस्म सोना 1010 तथा 250 मिलीलीटर जैविक उर्वरक की बोटल, 5 किलो यूरिया खाद एवं 25 किलोग्राम सिंगल सुपर फास्फेट उर्वरक तथा 5 किलोग्राम सूक्ष्म पोषक तत्व मिक्सर के सहित बीज किट किसानों को फ्री में दिए गए। खरपतवार एवं रोग नियंत्रण के लिए कीटनाशी रसायन फसल अवधि के दौरान आवश्यकतानुसार किसानो को उपलब्ध कराया जाएगा। 

राज्य सरकार द्वारा दिये जा रहे अनुदान के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई

इस अवसर पर सहायक निदेशक उद्यान चित्तौडगढ़ डॉ. शंकरसिंह राठौड़ द्वारा किसानों को उद्यान विभाग से कृषकों के हित में राजस्थान सरकार द्वारा संचालित योजना जैसे सौलर ऊर्जा संयत्र, ड्रिप संयत्र, पोली हाउस की स्थापना एवं बगीचे स्थापना पर राज्य सरकार द्वारा दिये जा रहे अनुदान के बारे में भी विस्तृत जानकारी किसानों को दी गई। 

उन्नत तकनीकी अपनाने के बारे में जानकारी प्रदान की गई

समारोह में उपस्थित कृषि विज्ञान केन्द्र के मुख्य उद्यानिकी वैज्ञानिक डॉ. राजेश जलवानिया द्वारा किसानों को मटर की उन्नत खेती करने के लिए उन्नत तकनीकी अपनाने के बारे में जानकारी प्रदान की गई। इस दौरान उप निदेशक कृषि विस्तार एवं पदेन परियोजना निदेशक आत्मा चित्तौडगढ़ दिनेश कुमार जागा द्वारा आत्मा योजनान्तर्गत कृषकों के हित में चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी गई। और जिला स्तरीय रबी गोष्ठी का आयोजन किया भी किया गया।

रबी सीजन 2022-23 के लिए बीज बांटे गए

पिछले दिनों राज्य में किसानों को समय पर उत्तम क्वालिटी का बीज वाजिब कीमत पर मिल सके, इसके लिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन की तरफ से सरसों के उन्नत बीज निशुल्क उपलब्ध करवाया गया है। किसानों को समय पर उत्तम क्वालिटी का बीज वाजिब कीमत पर मिल सके, इसके लिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन की तरफ से रबी सीजन 2022-23 के लिए किसानों को सरसों, गेहूं और चना सहित अन्य रबी सीजन फसलों के उन्नत बीज निशुल्क उपलब्ध करवाया गया है। सरकार ने प्रदेश में 734440 सरसों के बीज मिनी किट बांटने का निर्णय किया है। रबी फसल की बिजाई के लिए सरसों बीज के मिनी किट किसानों को फ्री में दिए गए। सरसों के बीजों के इन मिनी किट का वितरण राज्य के 30 जिलों में किया गया।

ट्रैक्टरगुरु आपको अपडेट रखने के लिए हर माह स्वराज ट्रैक्टर व महिंद्रा ट्रैक्टर कंपनियों सहित अन्य ट्रैक्टर कंपनियों की मासिक सेल्स रिपोर्ट प्रकाशित करता है। ट्रैक्टर्स सेल्स रिपोर्ट में ट्रैक्टर की थोक व खुदरा बिक्री की राज्यवार, जिलेवार, एचपी के अनुसार जानकारी दी जाती है। साथ ही ट्रैक्टरगुरु आपको सेल्स रिपोर्ट की मासिक सदस्यता भी प्रदान करता है। अगर आप मासिक सदस्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

ट्रैक्टर इंडस्ट्री से जुड़े सभी अपडेट जानने के लिए आप हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें - https://bit.ly/3yjB9Pm

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors