सरकारी योजना समाचार ट्रैक्टर समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

फ्री सब्जी बीज योजना : किसानों को मुफ्त मिलेंगे सब्जियों के बीज, ऐसे कराएं रजिस्ट्रेशन

फ्री सब्जी बीज योजना : किसानों को मुफ्त मिलेंगे सब्जियों के बीज, ऐसे कराएं रजिस्ट्रेशन
पोस्ट - September 27, 2022 शेयर पोस्ट

उद्यान विभाग की तरफ से किसानों को सब्जियों के बीज फ्री में वितरित 

देश की जरूरतें दिन-प्रतिदिन बढ़ रही हैं, किसानों को देश की जरूरतों को पूरा करने के लिए आधुनिक खेती को बढ़ावा देने की जरूरत होगी, और खेती को तेज करने की जरूरत है। केंद्रीय सरकार और राज्य सरकार किसानों को अधिक आत्मनिर्भर और सशक्त बनाने की कोशिश कर रही है, जिसके उद्देश्य से केंद्रीय और राज्य सरकार बागवानी फसलों में खासतौर पर सब्जियों की खेती पर ध्यान केंद्रित कर रही है। बागवानी फसलों की खेती को बढ़ावा देने के लिए केन्द्र सरकार ने राष्ट्रीय बागवानी मिशन को शुरू किया हुआ है। राष्ट्रीय बागवनी मिशन के तहत बागवानी उत्पादन में वृद्धि करने के लिए राज्य सरकारें भी अपने-अपने स्तर पर बागवानी योजना को संचालित कर बागवानी को बढ़ावा दे रही है। इसी कड़ी में  उत्तर प्रदेश में बागवानी फसलों का उत्पादन बढ़ाने और किसानों को सब्जियों की खेती के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए राज्य उद्यान विभाग की तरफ से फतेहपुर जिले के किसानों को सब्जियों के बीज फ्री में वितरित किया जा रहे हैं। इससे किसानों का रुझान पंरपरागत खेती के बजाय सब्जियों की खेती की तरफ बढ पाएगा। इसका लाभ लेने के लिए पंजीकरण कराना जरूरी है। बता दें कि किसानों को पहले आओ-पहले पाओ की तर्ज पर लाभ मिलेगा। इसलिये बिना देरी किये अपने फतेहपुर जिले के उद्यान विभाग के कार्यलय में संपर्क कर लाभ ले सकते हैं।

New Holland Tractor

पहले आओ-पहले पाओ की तर्ज पर मिलेगा लाभ 

उत्तर प्रदेश सरकार ने बागवानी फसलों की खेती को बढ़ावा देने के लिए एक अहम कदम उठाया है। प्रदेश सरकार किसानों को बागवानी मिशन के तहत सब्जियों की बागवानी करने के लिए प्रेरित कर रही है। सब्जियों की बागवानी के लिए किसानों को सब्जियों के बीज फ्री मुहैया करा रही है। यदि आप फतेहपुर जिले के मूल निवासी हैं और सब्जियों की खेती करते हैं, तो राज्य उद्यान विभाग की तरफ से आपको सब्जी के बीज फ्री में मिल जाएगे। सब्जियों के फ्री बीजों को ’पहले आओ पहले पाओ’ के आधार पर ही किसानों को दिए जाएगे।

इस साल 445 हेक्टेयर क्षेत्र में सब्जी खेती का लक्ष्य निर्धारित 

जानकारी के लिये बता दें कि उत्तर प्रदेश में सब्जियों के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए किसानों को सब्जियों की खेती के प्रति प्रोत्साहित किया जा रहा है। इसके लिए उत्तर प्रदेश बागवानी विभाग ने साल 2022 के लिये करीब 445 हेक्टेयर में सब्जियों की खेती करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। यही कारण है कि अब किसानों को पारंपरिक फसलों के बजाय बागवानी फसलों में सब्जियों की खेती के लिए कृषि व उद्यान विभाग की ओर से सब्जी के मुफ्त बीज उपलब्ध कराए जा रहे है। फ्री बीज वितरण योजना के तहत जो भी किसान उद्यान विभाग के कार्यालय में पहले पहुंचकर पंजीकरण करवायेंगे, उन्हें प्राथमिकता से योजना का लाभ दिया जायेगा। 

इन सब्जियों के बीजों का फ्री में किया जाएगा वितरण

फतेहपुर जिले में उद्यान विभाग किसानों को सब्जी की खेती के लिए मुफ्त बीज मुहैया कराएगा। कृषि व उद्यान विभाग की ओर से किसानों का चयन कर उन्हें लाभान्वित किया जाता है। उद्यान विभाग ने पहले आओ-पहले पाओ आधार पर किसानों का चयन शुरू कर दिया है। पंजीयन कराकर कार्यालय पहुंचने वाले किसानों को योजना का लाभ मिल रहा है। फतेहपुर जिले में उद्यान विभाग किसानों को इस बार टमाटर, गोभी, पत्ता गोभी, कद्दू वर्गीय, शिमला मिर्च, धनिया, मिर्च, लहसुन और प्याज का बीज फ्री में मुहैया करा रहा है। इसके अलावा कृषि व उद्यान विभाग की ओर अनुसूचित जाति के किसानों को जैविक खाद भी दी जाएगी। इससे पैदावार बढ़ेगी और सब्जी की खेती से किसान का मुनाफा भी बढ़ेगा। 

इस साल इन सब्जियों का बढ़ाया लक्ष्य

उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के उद्यान विभाग के एक अधिकारी ने योजना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि बागवानी मिशन स्कीम राज्य में पहले से संचालित है। स्कीम को संचालित करने का सरकार का मुख्य उद्देश्य पारंपरिक फसलों की खेती से इतर अधिक आय देने वाली फसलों की खेती के लिए किसानों को प्रोत्साहित करना है। उन्होंने कहा गत वर्ष यानी वर्ष 2021 में सब्जियों की खेती के लिये 375 हेक्टेयर क्षेत्रफल निर्धारित किया गया था, जिसे इस साल यानि 2022 में बढ़ाकर 445 हेक्टेयर कर दिया गया है। फतेहपुर जिले के उद्यान विभाग की ओर से जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक, टमाटर की खेती के लिये 40 हेक्टेयर, गोभी की खेती के लिये 40 हेक्टेयर, पत्ता गोभी की खेती के लिये 40 हेक्टेयर, कद्दू वर्गीय सब्जियों के लिये 70 हेक्टेयर, शिमला मिर्च के लिये 5 हेक्टेयर, मिर्च की खेती के लिये 40 हेक्टेयर, धनिया की खेती के लिये 5 हेक्टेयर, लहसुन की खेती के लिये 75 हेक्टेयर एवं प्याज की खेती के लिये 130 हेक्टेयर क्षेत्रफल इस साल तय किया गया है। योजना का लाभ लेने के लिए पंजीकरण हो रहे हैं। किसानों की रुचि सब्जी की खेती की ओर बढ़ रही है।

ट्रैक्टरगुरु आपको अपडेट रखने के लिए हर माह वीएसटी ट्रैक्टर  व आयशर ट्रैक्टर कंपनियों सहित अन्य ट्रैक्टर कंपनियों की मासिक सेल्स रिपोर्ट प्रकाशित करता है। ट्रैक्टर्स सेल्स रिपोर्ट में ट्रैक्टर की थोक व खुदरा बिक्री की राज्यवार, जिलेवार, एचपी के अनुसार जानकारी दी जाती है। साथ ही ट्रैक्टरगुरु आपको सेल्स रिपोर्ट की मासिक सदस्यता भी प्रदान करता है। अगर आप मासिक सदस्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

ट्रैक्टर इंडस्ट्री से जुड़े सभी अपडेट जानने के लिए आप हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें - https://bit.ly/3yjB9Pm

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors