ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

एमएसपी पर मूंग-उड़द बेचने के लिए पंजीयन शुरू, 8558 और 6950 रुपए मिलेगी कीमत

एमएसपी पर मूंग-उड़द बेचने के लिए पंजीयन शुरू, 8558 और 6950 रुपए मिलेगी कीमत
पोस्ट -25 मई 2024 शेयर पोस्ट

मूंग और उड़द एमएसपी खरीदी के लिए पंजीयन शुरू, उपज बेचने के लिए ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

Zayed Marketing Year 2024-25  : ग्रीष्मकालीन मूंग और उड़द फसलों की खेती करने वाले किसानों के लिए खुशखबरी है। जायद सीजन में लगाई गई मूंग और उड़द की पैदावार का किसानों को उचित दाम दिलाने के लिए मध्यप्रदेश सरकार ने समर्थन मूल्य (MSP) पर उपज खरीदी व्यवस्था योजना लागू की है। इसके तहत सरकार ने किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी कि MSP पर मूंग और उड़द की खरीदी करने का फैसला लिया है। प्रदेश सरकार ने समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर ग्रीष्मकालीन मूंग और उड़द की खरीदी के लिए किसानों के ऑनलाइन पंजीकरण की व्यवस्था भी शुरू कर दी है। इच्छुक किसान समर्थन मूल्य पर मंगू व उड़द बेचने के लिए किसान सहकारी समितियों, एम.पी. ऑनलाइन कियोस्क, कॉमन सर्विस सेन्टर, लोक सेवा केन्द्र एवं साइबर कैफे एवं अन्य माध्यमों के जरिए आगामी 5 जून तक ऑनलाइन पंजीयन करा सकते हैं। 

New Holland Tractor

समर्थन मूल्य पर उपज खरीदी व्यवस्था योजना : 5 जून तक किया जाएगा पंजीयन (Produce purchase system scheme at support price: Registration will be done till June 5)

मध्य प्रदेश में समर्थन मूल्य योजना के तहत विपणन वर्ष 2024-25 में ग्रीष्मकालीन मूंग और उड़द फसलों की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उपार्जन के लिए ऑनलाइन पंजीयन प्रक्रिया 20 मई से प्रारंभ हो चुकी है। एम.पी. ऑनलाइन कियोस्क, कॉमन सर्विस सेन्टर, लोक सेवा केन्द्र एवं अन्य माध्यमों के जरिए किसानों के पंजीयन का काम 20 मई से लेकर 5 जून 2024 तक किया जाएगा। इसके लिए खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग मध्यप्रदेश द्वारा गेहूं के ई-उपार्जन पोर्टल पर ही पंजीयन किए जाने के संबंध में विस्तृत परिपत्र जारी भी कर दिया है। किसानों को एमएसपी पर ग्रीष्मकालीन मूंग व उड़द बेचने के लिए रजिस्ट्रेशन करने से पहले आधार नंबर का वेरीफिकेशन लिंक मोबाइल नंबर पर प्राप्त ओटीपी अथवा बायोमेट्रिक डिवाइस से कराना होगा। ऑनलाइन पंजीयन के वक्त किसानों को बैंक खाता नंबर और आईएफएससी कोड की जानकारी देनी होगी। पंजीयन भू अभिलेख में दर्ज खाता और खसरे में दर्ज नाम का मिलान आधार कार्ड में दर्ज नाम से होने पर ही हो सकेगा। 

मूंग और उड़द के लिए निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य क्या है? (What is the minimum support price fixed for moong and urad?)

रबी और खरीफ मौसम फसलों के लिए केंद्र सरकार द्वारा प्रत्येक वर्ष न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पहले ही घोषित कर दिया जाता है। इसमें केंद्र सरकार ने पिछले खरीफ वर्ष के लिए मूंग का न्यूनतम समर्थन मूल्य 8558 रुपए प्रति क्विंटल और उड़द का न्यूनतम समर्थन मूल्य 6950 रुपए प्रति क्विंटल  निर्धारित किया था। इन उपार्जन मूल्यों पर ही जायद मौसम या विपणन वर्ष 2024-25 के लिए मूंग एवं उड़द की खरीदी सरकारी एजेंसियों के जरिए की जाएगी। सिकमी एवं बटाईदार वर्ग के किसानों का रजिस्ट्रेशन सहकारी समिति और सहकारी विपणन संस्था द्वारा संचालित पंजीयन केन्द्र पर किया जाएगा। वहीं अन्य अपनी सुविधा के अनुसार, निर्धारित सेंटर की मदद से समर्थन मूल्य पर उपज बेचने के लिए अपना ऑनलाइन पंजीयन करा सकते हैं। पंजीयन केंद्र पर किसान को आधार संबंधी दस्तावेज, आधार से पंजीकृत मोबाइल नंबर तथा सिकमी नामे की प्रति साथ में लेकर आना अनिवार्य है। 

मूंग और उड़द के लिए पंजीयन कहां करें? (Where to register for Moong and Urad?)

प्रदेश कृषि विभाग द्वारा पंजीयन हेतु किसानों से आधार कार्ड नंबर से बैंक खाता और मोबाइल नंबर को लिंक कराकर उसे अपडेट रखने की अपील की जा रही है। किसानों को उपार्जन मूल्य पर फसल बेचने के लिए स्लॉट चयन की प्रक्रिया रहेगी। प्रदेश के किसान ग्राम पंचायत कार्यालय में स्थापित सुविधा केंद्र, जनपद पंचायत कार्यालयों में स्थापित सुविधा केन्द्र, तहसील कार्यालयों में स्थापित सुविधा केन्द्र, सहकारी समितियों और सहकारी विपणन संस्थाओं द्वारा संचालित पंजीयन केन्द्र पर एम.पी. किसान एप पर मुफ्त निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। वहीं, एम.पी. ऑनलाईन कियोस्क, कॉमन सर्विस सेन्टर कियोस्क, लोक सेवा केन्द्र, निजी व्यक्तियों द्वारा संचालित साइबर कैफे, कॉमन सर्विस सेन्टर पर प्रति पंजीयन 50 रुपए का शुल्क भरकर अपना पंजीयन करा सकते हैं। 

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर