ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

युवाओं को हर महीने मिलेंगे 10 हजार रुपए, आवेदन के लिए यहां करें आवेदन

युवाओं को हर महीने मिलेंगे 10 हजार रुपए, आवेदन के लिए यहां करें आवेदन
पोस्ट -10 अक्टूबर 2023 शेयर पोस्ट

मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना : युवाओं को हर महीने मिलेंगे 10 हजार रुपए, यहाँ करें आवेदन 

Chief Minister Learn Earn Scheme : देश में पढ़े-लिखे बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने के उद्देश्य से सरकार कई तरह की योजनाएं चला रही है। जिसके जरिये युवाओं को शैक्षणिक योग्यता के आधार पर विभिन्न नौकरियाें के लिए कौशल कोर्सों का प्रशिक्षण दिया जाता है। इसी बीच मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने “मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना” की शुरुआत की है। इस योजना के तहत राज्य के बेरोजगार पढ़े-लिखे युवाओं को आत्म निर्भर बनाने एवं रोजगार के लिए विभिन्न कोर्सों का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा प्रशिक्षण के दौरान लाभार्थियों को उनकी शैक्षणिक योग्यता के आधार पर हर महीने 10 हजार रुपए की आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी।

New Holland Tractor

अगर आप भी मध्यप्रदेश के निवासी हैं, तो “मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना” में आवेदन करके आप अपने शैक्षणिक योग्यता के आधार पर कोर्स का प्रशिक्षण लेकर आत्म निर्भर बन सकते हैं। प्रशिक्षण पूरा होने के बाद आपके लिए रोजगारों के कई अवसर उपलब्ध हो जाएंगे। आईए, इस पोस्ट की मदद से “मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना” के बारे में विस्तारपूर्वक जानते हैं।

शैक्षणिक योग्याता के आधार पर आर्थिक सहायता

दरअसल, मध्यप्रदेश में इन दिनों मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना का काफी जिक्र हो रहा है। क्योंकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सरकार की ओर से इस योजना के तहत राज्य के युवाओं को उनकी शैक्षणिक योग्यता के आधार पर आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है। इसमें 12वीं कक्षा पास लाभार्थियों को हर महीने 8 हजार रुपए, आईटीआई पास कर चुके विद्यार्थी को 8500 रुपए, डिग्री डिप्लोमा रखने वाले बेरोजगार युवाओं को 9 हजार रुपए और उच्च शैक्षणिक योग्यता रखने वाले युवाओं को सरकार द्वारा प्रति महीने 10 हजार रुपए प्रदान किए जाएंगे। इसके लिए लाभार्थियों को “मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना” के तहत अपनी शैक्षणिक योग्यता के आधार पर आवेदन करना होगा। जानकारी के लिए बता दें कि मध्य प्रदेश युवा कौशल कमाई योजना का नाम बदलकर “मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना’’ किया गया है। मध्यप्रदेश सरकार द्वारा इसकी शुरूआत राज्य में बेरोजगारी दर को घटाने एवं स्वरोजगार के अवसर तैयार कर नागरिकों को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से किया गया है।

मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना से युवाओं को होने वाले लाभ

  • जानकारी के बता दें कि मध्यप्रदेश युवा कौशल कमाई योजना का नाम बदलकर “मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना’’ किया गया है। 
  • मध्यप्रदेश सरकार द्वारा इसकी शुरूआत राज्य में बेरोजगारी दर को घटाने एवं स्वरोजगार के अवसर तैयार कर नागरिकों को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से की गई है।
  • इस योजना के तहत बेरोजगार पढ़े-लिखे युवाओं को 46 सेक्टर में सात सौ से अधिक कोर्सों का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। 
  • राज्य सरकार द्वारा इस योजना के प्रथम चरण में करीब 1 लाख युवाओं को बैंकिंग सेक्टर, मीडिया, मार्केटिंग, इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी, इंजीनियरिंग जैसे विभिन्न कौशल का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। 
  • मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना के तहत राज्य के युवाओं को शैक्षणिक योग्यता के आधार पर सरकार द्वारा 1 साल तक की आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी। 
  • “मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना’’ में मध्यप्रदेश का कोई भी 12वीं कक्षा का पास विद्यार्थी, आईटीआई पास कर चुके युवा, डिग्री डिप्लोमा या इससे भी अधिक शिक्षा रखने वाले कोई भी पात्र नागरिक लाभ लेने के लिए आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं।
  • “मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना” के तहत कौशल प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद युवा विभिन्न सेक्टरों में नौकरी को प्राप्त करके अपने आप को आत्म निर्भर कर सकते हैं।  

मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना के लिए नियम एवं शर्तें 

मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना के तहत आवेदन करने वाला इच्छुक लाभार्थी मध्यप्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए। आवेदन करने वाले नागरिक की आयु 18 से 29 वर्ष के बीच होनी चाहिए। इच्छुक पात्र उम्मीदवार के नाम आधार लिंक बैंक खाता होना चाहिए। उम्मीदवार सरकारी नौकरी पर नहीं होना चाहिए। अभ्यर्थी की शैक्षणिक योग्यता कम से कम 12वीं कक्षा पास होनी चाहिए।

प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए कैसे करें रजिस्ट्रेशन?

मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना के तहत विभिन्न कोर्सों के प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए पात्र उम्मीदवारों को पहले पोर्टल https://mmsky.mp.gov.in/  पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। पोर्टल पर अभ्यर्थी पंजीयन वाले विकल्प पर क्लिक करना है। ‌इसके बाद योजना की पात्रता को अच्छे से पढ़कर बॉक्स में राइट टिक लगाकर आगे बढ़े वाले विकल्प पर क्लिक करना है। इसके पश्चात अभ्यर्थी को अपनी समग्र आईडी का ब्यौरा दर्ज करना है। बिना समग्र आईडी के इच्छुक उम्मीदवार इस योजना के तहत काम सीखने के लिए पंजीयन नहीं कर सकेंगे। अब अभ्यर्थी को कैप्चा कोड भरना है। इसके बाद “सत्यापित करें” वाले सेक्शन पर क्लिक करना होगा। ‌इसके बाद सबमिट वाले ऑप्शन पर क्लिक कर पंजीयन सबमिट करना होगा। 

प्रशिक्षण प्रतिष्ठान भी कर सकते हैं पोर्टल पर पंजीयन

मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना के तहत अगर कोई प्रशिक्षण प्रतिष्ठान युवाओं को प्रशिक्षण देना चाहता है, तो वह https://mmsky.mp.gov.in/  पोर्टल पर प्रतिष्ठान पंजीयन पर पंजीकरण करा सकते हैं और अभ्यर्थियों को प्रशिक्षण दे सकते हैं। पंजीकरण करने के लिए प्रतिष्ठानों (संस्थान) के पास जीएसटी नंबर होना चाहिए। मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना के तहत प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए लगभग 9 लाख अभ्यर्थी अपना पंजीकरण करा चुके हैं और लगभग 69334 प्रशिक्षण देने वाले प्रतिष्ठानों का पंजीयन पोर्टल पर हो चुका है। 

मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना में आवेदन प्रोसेस क्या है?

मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना के तहत युवाओं को विभिन्‍न क्षेत्रों में कौशल प्रशिक्षण दिलावाया जाएगा। इस योजना के माध्यम से, मध्यप्रदेश सरकार राज्य के युवाओं को उनके कौशल और प्रशिक्षण का संवर्धन करने में मदद करेगी। जिससे वे अच्छे रोजगार के अवसरों का लाभ उठा सकें। अगर प्रदेश का कोई भी इच्छुक युवा योजना के तहत काम सीखने का प्रशिक्षण लेना चाहता है, तो उन्हें सबसे पहले पंजीयन की प्रक्रिया को पूरी करना होगा। इसके बाद योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://mmsky.mp.gov.in/ पर लॉगिन वाले सेक्शन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद संस्थान या बेरोजगार युवा (अगर है, तो) वाले ऑप्शन पर सेलेक्ट करना है। इसके बाद आवेदन फॉर्म में मांगी गई सारी जानकारी सही से दर्ज करना होगा। इसके बाद मांगे गए जरूरी डॉक्यूमेंट को अपलोड करना होगा। अब रजिस्टर वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है। इस प्रोसेस को पूरा करते ही आपका आवेदन कंप्लीट हो जाएगा। 

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर