सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार ट्रैक्टर समाचार कृषि व्यापार समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार सामाजिक समाचार

किसान पेंशन योजना : 23 लाख किसानों को वृद्धावस्था में सरकार से मिलेगी 3 हजार रुपए की पेंशन

किसान पेंशन योजना : 23 लाख किसानों को वृद्धावस्था में सरकार से मिलेगी 3 हजार रुपए की पेंशन
पोस्ट - June 03, 2022 शेयर पोस्ट

किसान पेंशन योजना में रजिस्ट्रेशन करवाकर पेंशन के लिए हो जाइए पात्र 

देश के आर्थिक रूप से कमजोर लघु एवं सीमान्त किसानों के भविष्य को सुरक्षित करने व उन्हें वृद्धावस्था में पेंशन के माध्यम से सामाजिक सुरक्षा का लाभ प्रदान करने के उद्देश्य से केन्द्र सरकार ने पीएम किसान मानधन योजना की शुरूआत की है। मानधन योजना एक प्रकार की किसान पेंशन योजना है, जिसका लाभ केवल छोटे आर्थिक रूप से कमजोर लघु एवं सीमान्त किसान भाई ही उठा सकते हैं। इस योजना के तहत लाभार्थी किसानों को 60 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद प्रतिमाह 3000 रूपये पेंशन दी जाती है, जिससे वृद्धावस्था में आवेदक किसान बिना किसी आर्थिक समस्या के मिलने वाली पेंशन राशि से आराम से अपना जीवन यापन कर सकेंगे। केन्द्र सरकार की इस पेंशन योजना में अभी तक देश के 22,69,892 किसान अपना रजिस्ट्रेशन करवाकर पेंशन के लिए पात्र हो चुके हैं। इसमें 6,77,214 महिला किसान भी शामिल हैं। कुल मिलकार इतने किसानों ने योजना के तहत अपना रजिस्ट्रेशन करवा कर अपना बुढ़ापा सुरक्षित करवा लिया हैं। किसान पेंशन योजना में रजिस्ट्रेशन करवाने वाले सबसे ज्यादा किसान 26 से 35 साल उम्र वर्ग के है। यदि आप इसमें शामिल नहीं हुए हैं, तो जल्दी से रजिस्ट्रेशन करवाकर पेंशन के लिए पात्र हो जाए साथ ही अपना बुढ़ापा सुरक्षित करे। योजना में 18 साल के किसान को 55 रूपये और 40 साल वाले उम्र वाले किसान को 200 रूपये प्रीमियम देना होगा। इस योजना में आधा प्रीमियम केन्द्र सरकार दे रही है। यही नहीं जब चाहें तब आप इस योजना से बाहर भी आ सकते हैं। आपको जमा पैसे का साधारण ब्याज मिल जाएगा। योजना में बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, ओडिशा और जम्मू और कश्मीर राज्य से सबसे ज्यादा किसान शामिल हुए हैं। लेकिन कुछ राज्यों के किसान इस योजना में कोई दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं। हालांकि, कृषि विशेषज्ञों का कहना है कि किसानों के लिए यह योजना फायदे का सौदा है क्योंकि इसमें पूरा प्रीमियत देने की कोई मजबूरी नहीं है। इसके रजिस्ट्रेशन के लिए कोई फीस नहीं लगती हैं। 

New Holland Tractor

ट्रैक्टरगुरू की इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको जानकारी देंगे कि किन राज्यों में सबसे ज्यादा किसान इस योजना में शामिल हुए है, योजना किसानों के लिए कैसे फायदे का सौदा है, योजना में शामिल होने की प्रक्रिया से जड़ी सभी जानकारी इस पोस्ट के माध्यम से उपलब्ध करा रहे हैं।

पीएम किसान मानधन योजना का लक्ष्य पूरा होता नहीं दिख रहा

पीएम किसान मानधन योजना एक प्रकार की किसान पेंशन योजना है, जिसकी शुरूआत प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा 31 मई 2019 में की गई थी। इस योजना को देश के आर्थिक रूप से कमजोर छोटे एवं सीमान्त किसानों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए शुरू किया गया है। इस योजना के तहत पहले फेस में 5 करोड़ किसानों को शामिल किया जाना था। लेकिन अभी तक केवल 50 लाख किसानों ने भी इस योजना पेंशन योजना में दिलचस्पी नहीं दिखाई है। जबकि इस योजना की औपचारिक शुरूआत 12 सितंबर 2019 को हुई थी। रजिस्ट्रेशन 9 अगस्त 2019 को ही शुरू हो गया था। हालांकि, अब सरकार चाहती है कि सभी बारह करोड़ छोटे एवं सीमांत किसान इस योजना में शामिल हों।

किसान सम्मान के खाताधारक ऐसे उठा सकते हैं लाभ

पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ लेने वाले किसानों को पीएम किसान मानधन योजन में रजिस्ट्रेशन के लिए फिर से दस्तावेज जमा कराने की जरूरत नहीं है। अगर पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसान का खाता है तो बिना किसी कागजी कार्रवाई के सीधे किसानों के लिए पेंशन स्कीम पीएम किसान मानधन में वे रजिस्टर्ड हो जाएंगे। क्योंकि पीएम किसान सम्मान निधि योजना में रजिस्ट्रेशन के समय ही उनसे सारे जरूरी दस्तावेज ले लिए जाते हैं। इस पेंशन स्कीम के लिए अंशदान भी किसान सम्मान निधि के तहत मिलने वाली राशि से कट जाएगी। इसका मतलब यह हुआ कि अगर किसान सम्मान खाता है तो अलग से अंशदान करने की किसानों को जरूरत नहीं पड़ती है।

सबसे ज्यादा बिहार राज्य के किसानों ने रजिस्ट्रेशन करवाकर किया अपना बुढ़ापा सुरक्षित 

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना को केंद्र सरकार द्वारा देश के सभी छोटे और सीमांत किसानों को बुढ़ापे में पेंशन प्रदान करने के लिए शुरू किया है। योजना के तहत छोटे और सीमांत किसानो को 60 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद 3000 रुपए की पेंशन राशी प्रतिमाह दी जाती है। बिहार राज्य के 3,29,069 किसानों ने पेंशन योजना में रजिस्ट्रेशन कर अपना बुढ़ापा सुरक्षित करवा लिया है। इस पेंशन योजना में बिहार राज्य के सबसे अधिक किसानों अपना रजिस्ट्रेशन करवाबकर पेंशन के लिए पात्र बने। इसके बाद दुसरे नंबर पर उत्तर प्रदेश राज्य के 2,49,471 किसानों ने इस योजना में अपना रजिस्ट्रेशन करवाया हैं। इनके अलावा झारखंड 248247, छत्तीसगढ़ 201865, ओडिशा 151947, जम्मू और कश्मीर 125233, मध्यप्रदेश 1142202, तमिलनाडु 109324, महाराष्ट्र 78886 और हरियाणा राज्य के 67719 किसान अपना रजिस्ट्रेशन करवाकर इस योजना में शामिल हुए हैं। 

किसान मानधन पेंशन योजना में ऐसे करें आवेदन

आवेदन करने के आपके पास दो तरीके है। या तो आप अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) में जाकर के ऑफलाइन आवेदन कर सकते है या प्रधानमंत्री मानधन योजना की ऑफिसियल वेबसाइट https://maandhan.in/auth/login  पर जाकर के खुद से ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

  • किसान पेंशन योजना में आवेदन करने के लिए आवेदन करने वाले लाभार्थी किसान को इसकी अधिकारिक वेबसाइट https://maandhan.in/auth/login  पर ऑनलाइन पंजीकरण करवाना होगा।

  • इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करने के बाद आपके सामाने स्क्रीन पर होम पेज खुलेगा। अब आपको होम पेज पर आपको क्लिक अप्लाई नाउ के बटन के आप्शन पर क्लिक करना होगा।

  • जिसके बाद आपके सामने फिर से एक और नया पेज खुल जायेगा। इस पेज खुलने पर आपको सेल्फ एनरोलमेंट का ऑप्शन दिखाई देगा, वहाँ पर क्लिक करना होगा। 

  • जिसके बाद आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज करके प्रोसीड के बटन पर क्लिक कर दें। 

  • अब दिए गए कैप्चा कोड़ को दर्ज करके जेनरेट ओटीपी के विकल्प पर क्लिक कर दें।

  • अब आपके मोबाइल नंबर पर आपकों ओटीपी प्राप्त होगा जिसे आप बॉक्स में भर दें और प्रोसीड पर क्लिक कर दें।

  • जिसके बाद आपके सामने डैशबोर्ड खुल जायेगा, यहाँ आपको एनरॉलमेट के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

  • इस ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जायेगा।

  • इसके बाद आप अपनी मांगी गयी सभी जानकारी भरकर सबमिट कर दें।

  • इस तरह आपकी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

पीएम किसान मानधन योजना में ऐसे पाएं फ्री रजिस्ट्रेशन

फ्री रजिस्ट्रेशन के लिए किसान को अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) में जाकर अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके लिए किसान के आधार कार्ड और खसरा खटियान की कॉपी लेेनी होगी। इसके साथ ही किसान के 2 पासपोर्ट साइज फोटो और बैंक की पासबुक भी जरूरी होगी। पंजीकरण के दौरान किसान को पेंशन यूनकि नंबर और पेंशन कार्ड दिया जाएगा। इसके लिए जाएगा। इसके लिए अलग से कोई शुल्क नहीं है। 

ट्रैक्टरगुरु आपको अपडेट रखने के लिए हर माह मैसी फर्ग्यूसन ट्रैक्टर  व करतार ट्रैक्टर कंपनियों सहित अन्य ट्रैक्टर कंपनियों की मासिक सेल्स रिपोर्ट प्रकाशित करता है। ट्रैक्टर्स सेल्स रिपोर्ट में ट्रैक्टर की थोक व खुदरा बिक्री की राज्यवार, जिलेवार, एचपी के अनुसार जानकारी दी जाती है। साथ ही ट्रैक्टरगुरु आपको सेल्स रिपोर्ट की मासिक सदस्यता भी प्रदान करता है। अगर आप मासिक सदस्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

ट्रैक्टर इंडस्ट्री से जुड़े सभी अपडेट जानने के लिए आप हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें - https://bit.ly/3st5ozQ

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors