सरकारी योजना समाचार ट्रैक्टर समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

ई-श्रम पोर्टल से जुड़े 28 करोड़ श्रमिक, मिलेगा 2 लाख रूपए तक का बीमा

ई-श्रम पोर्टल से जुड़े 28 करोड़ श्रमिक, मिलेगा 2 लाख रूपए तक का बीमा
पोस्ट -20 दिसम्बर 2022 शेयर पोस्ट

ई-श्रम कार्ड (E-Shram Card) :  ई-श्रम कार्ड योजना में 28 करोड़ से अधिक श्रमिकों ने कराया रजिस्ट्रेशन, श्रमिकों को मिलेगा 2 लाख रूपए तक का बीमा

देश में गरीब वर्ग के लोगों सहित असंगठित क्षेत्र में श्रमिकों (मजदूरों) के दैनिक जीवन गुजर बसर के लिए मोदी सरकार कई तरह की वित्तीय योजना लेकर आई। इन्हीं में से ई-श्रम कार्ड योजना भी एक है। केंद्र की मोदी सरकार ने इस योजना को साल 2020 में शुरू किया था, जब पूरे देश में करोना महामारी के दौरान लॉकडाउन हुआ था। लॉकडाउन के कराण देश में करोडों लोगों को अपने दैनिक रोजगार से हाथ धोना पड़ा और अपने घरों को जाना पड़ा। इसका सबसे ज्यादा असर असंगठित क्षेत्र से जुड़े लोगों पर पड़ा। असंगठित क्षेत्र से जुड़े करोड़ो श्रमिकों को इस दौरान जीवन गुजर बसर करने के लिए काफी आर्थिक परेशानियों का सामना भी करना पड़ा। ऐसे में ई-श्रम कार्ड योजना के तहत सरकार की ओर से देश में असंगठित श्रमिकों के भरण-पोषण के लिए विभिन्न प्रकार की आर्थिक सहायता प्रदान की गई ताकि श्रमिकों को दैनिक जीवन गुजर बसर में किसी भी परेशानियों का सामना ना करना पड़े। ई-श्रम कार्ड योजना में रजिस्टर्ड श्रमिकों को 2 लाख रुपए तक का बीमा भी दिया जा रहा है। श्रम कल्याण विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, ई-श्रम पोर्टल पर देश का बजट जारी होने से पहले कई श्रमिकों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवा लिया है। रिपोर्ट की माने तो इस योजना में अब तक करीब 28 करोंड़ से भी अधिक मजदूरों ने अपना पंजीकरण करवा चुके है। यानि बजट जारी होने से पहले इस योजना में 28 करोड़ से अधिक श्रमिक 2 लाख रुपए तक के बीमा लाभ के हकदार हो चुके है। तो आइए ट्रैक्टर गुरु के इस लेख के माध्यम से योजना के बारें में विस्तार से जानते है।

New Holland Tractor

ई-श्रम पोर्टल पर 28 करोड़ से अधिक मजदूरों ने कराया रजिस्ट्रेशन

बता दें कि असंगठित क्षेत्र से जुड़े श्रमिक जैसे कंस्ट्रक्शन वर्कर, स्ट्रीट वेंडर, प्रवासी मजदूर, घरेलू कामगार, कृषि श्रमिक और भी दूसरा कर्मचारी, रेजा, कुली, रिक्शा चालक, ब्यूटी पार्लर, टयूटर, सफाई कर्मचारी, गार्ड, घर का नौकर-नौकरानी (काम वाली बाई), खाना बनाने वाली बाई, नाई, मोची, दर्जी, बढ़ई और विभिन्न ऑफिस के दैनिक वेतन भोगी मजदूरों के लिए केंद्र सरकार इस योजना का संचालन कर रही है। योजना में रजिस्टर्ड श्रमिकों को सरकार द्वारा प्रतिमाह 1,000 रूपये की आर्थिक सहायता दी जाती है। यह राशि को ई-श्रम कार्ड धारक श्रमिकों के खातें में भेजी जाती है। श्रम कल्याण विभाग ने योजना में रजिस्ट्रेशन को असान बनाने के लिए साल 2021 में पोर्टल लॉन्च किया था। श्रम कल्याण विभाग (Ministry of Labour)  ने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर जानकारी देते हुए बताया है कि इस पोर्टल पर अब तक करीब 28 करोड़ से ज्यादा श्रमिकों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है। साथ यह भी बताया गया कि आप असंगठित क्षेत्र में काम कर रहे हैं, तो आप ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं और ई-श्रम कार्ड के अंतर्गत आने वाली सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं।

3,000 रुपए तक प्रति माह पेंशन का लाभ

श्रम कल्याण विभाग की ओर आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर दी गई जानकारी के अनुसार ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्टर्ड श्रमिकों को ई-श्रम कार्ड के अंतर्गत आने वाली पेंशन सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं। श्रमिकों को पेंशन के रूप में हर महीने 1000 से लेकर 3000 रुपए तक पेंशन राशि देने का प्रावधान किया गया है। ई-श्रम कार्ड योजना से जुड़े पंजीकृत कमगारों को 60 वर्ष की आयु के बाद प्रति माह करीब 3,000 रुपए तक की राशि पेंशन के तौर पर प्राप्त कर सकते है। इसके लिए पंजीकृत श्रमिकों को स्कीम के तहत हर महीने 50-100 रुपए का निवेश करना होता है। जिस प्रकार ईपीएफ खाते में यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) होता है, ठीक वैसे ही ई-श्रम कार्ड के लिए भी 12 अंकों का यूनिक नंबर होता है। इसी नंबर की मदद से हर तरह के ट्रांजैक्शन होते हैं।

ई-श्रम कार्ड पर 2 लाख रुपए तक का बीमा

ई-श्रम कार्ड में रजिस्टर्ड श्रमिकों को आर्थिक सहायता के साथ-साथ सामाजिक सुरक्षा के लिए प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत 2 लाख रुपए के बीमा की सुविधा दी जाती है। यदि किसी कारणवश श्रमिक की दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है, तो उसके परिवार को 2 लाख रुपये मिलते हैं। वहीं, यदि व्यक्ति विकलांग हो जाता है मतलब शारीरिक रूप से काम करने योग्य नहीं रहता है, तो 1 लाख रुपये की राशि दिए जाते है। वहीं, पंजीकृत श्रमिक को श्रम विभाग की से संचालित सभी योजनाए का लाभ भी दिया जाता है।

ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

ई-श्रम कार्ड

श्रम कल्याण विभाग द्वारा लॉन्च ई-श्रम पोर्टल https://eshram.gov.in/  पर देश का काई भी असंगठित क्षेत्र से संबंधित श्रमिक अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकता है। रजिस्ट्रेशन करने के लिए उसकी आयु 16 से 59 साल के बीच होनी चाहिए। इ-श्रम पोर्टल पर आप मोबाइल या कम्प्यूटर की सहायता स्वयं भी रजिस्ट्रेशन कर सकते है। इसके लिए आपको पोर्टल पर जाना होगा। पोर्टल https://eshram.gov.in/  पर जाने के पश्चात आपको रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरना होगा। रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरने के बाद इसे सबमिट करवा कर प्रक्रिया को पूर्ण करना होगा। यदि किसी कारणवश रजिस्ट्रेशन करने में परेशानी हो रही है, तो आप कॉमन सर्विस सेंटर की मदद भी ले सकते है। इसके अतिरिक्त आप जिलों/उपजिलों में राज्य सरकार के क्षेत्रीय कार्यालयों द्वारा भी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

ई-श्रम कार्ड बनवाने के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट्स

श्रम एवं रोजगार मंत्रालय की जानकारी के मुताबकि ई-श्रम कार्ड के लिए केवल ऐसे ही श्रमिक पात्र होगे, जो कंस्ट्रक्शन वर्कर, स्ट्रीट वेंडर, प्रवासी मजदूर, घरेलू कामगार, कृषि श्रमिक है। ऐसे पात्र मजदूरों को ई-श्रम कार्ड बनवाने के लिए आधार कार्ड, आधार नंबर से लिंक मोबाइल नंबर, बैंक अकाउंट नंबर, आय प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ और आईएफएससी कोड राशन कार्ड जैसे जरूरी डॉक्यूमेंट्स की आवश्यकता होगी।

ई-श्रम पोर्टल से संबंधित प्रश्न

प्रश्न : ई-श्रम कार्ड योजना क्या हैं ?

उत्तर भारत सरकार की ओर से देश में असंगठित क्षेत्र से जुड़े लोगों को सामाजिक सुरक्षा एवं आर्थिक फायदा पहुंचाने के लिए साल 2020 में ई-श्रम कार्ड योजना को शुरू किया था। सरकार की ओर से इस स्कीम के जरिए मजदूरों को लाखों का फायदा भी पहुंचाया जा रहा है।

प्रश्न : ई-श्रम पोर्टल पर अब तक रजिस्टर्ड श्रमिकों की संख्या कितनी हैं ?

उत्तर श्रम कल्याण मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार ई-श्रम पोर्टल पर 14 दिसंबर 2022 तक करीब 28 करोड़ से अधिक असंगठित क्षेत्र से जुड़े मजदूर अपना रजिस्ट्रेशन करवा चुके है।

प्रश्न : ई-श्रम कार्ड योजना में पंजीकृत वर्कर्स को कौनसे लाभ है ?

उत्तर योजना में पंजीकृत वर्कर्स को श्रम कल्याण विभाग की सभी योजनाओं का लाभ दिया जाता है।

ट्रैक्टरगुरु आपको अपडेट रखने के लिए हर माह सोनालिका ट्रैक्टर व महिंद्रा ट्रैक्टर कंपनियों सहित अन्य ट्रैक्टर कंपनियों की मासिक सेल्स रिपोर्ट प्रकाशित करता है। ट्रैक्टर्स सेल्स रिपोर्ट में ट्रैक्टर की थोक व खुदरा बिक्री की राज्यवार, जिलेवार, एचपी के अनुसार जानकारी दी जाती है। साथ ही ट्रैक्टरगुरु आपको सेल्स रिपोर्ट की मासिक सदस्यता भी प्रदान करता है। अगर आप मासिक सदस्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors