ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

रोमनेस्का ब्रोकली : किसान इटली की ब्रोकली को अपने खेतों में उगाएं, मिलेगा डबल मुनाफा

रोमनेस्का ब्रोकली : किसान इटली की ब्रोकली को अपने खेतों में उगाएं, मिलेगा डबल मुनाफा
पोस्ट -11 अगस्त 2023 शेयर पोस्ट

Romanesco Broccoli : बीज मंगाकर शुरू की ऑर्गेनिक खेती, बाजार में कीमत 2200 रुपए प्रति किलो

भारत में विदेशी फलों और सब्जियों का उत्पादन तेजी से बढ़ रहा है। आज के वक्त में देश के कई इलाकों के किसान विदेशों से कई विदेशी सब्जी फसल के बीज मंगाकर ऑर्गेनिक उत्पादन कर रहे हैं। एक ऐसे ही किसान ने इटली में उगने वाली रोमानिया ब्रोकली (एक तरह की फुलगोभी) का बीज मंगाकर पॉली हाउस में ऑर्गेनिक खेती का सफल प्रयोग किया है। 
 
किसान ने ऑर्गेनिक तरीके से उगाई इटली की फूलगोभी, रंगरूप और कीमत देखकर हो जाएंगे हैरान

New Holland Tractor

Romanesco Broccoli : कृषि योग्य भूमि की घटती उपजाऊ शक्ति से भूमि बंजर होती जा रही। जिस वजह से  किसानों को कृषि में काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं, देश में कृषि का क्षेत्र भी काफी प्रभावित हो रहा है। तेजी से पैर फैलाती इन समस्याओं से निपटने के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकारें आपस में मिल जुलकर प्रयासरत है। देश में कैमिकल मुक्त फसल उत्पादन, मृदा स्वास्थ्य एवं पर्यावरण-संरक्षण के लिए कई योजनाएं भी चलाई जा रही है। जिनके माध्यम से राज्यों के कृषि विभाग और उद्यान विभागों द्वारा किसानों को ऑर्गेनिक खेती करने का प्रशिक्षण और खेती अपनाने पर आर्थिक मदद भी दी जा रही है। 

आज के वक्त देश के कई इलाकों में गन्ना, गेंहू, धान सहित देशी-विदेशी सब्जियों की भी ऑर्गेनिक खेती किसानों द्वारा की जा रही है। वहीं, देश में विदेशी फलों और सब्जियों की खेती का चलन भी तेजी से बढ़ता जा रहा है। कई किसान विदेशों से फल और सब्जी के बीज मंगाकर ऑर्गेनिक खेती कर रहे हैं। 

आज हम आपको एक ऐसी ही विदेशी सब्जी के बारे में बता रहे हैं, जो इन दिनों देश के बाजारों में देखने को मिल रही है। विदेश में उगने वाली इस सब्जी का नाम रोमनेस्का ब्रोकली (एक तरह की फूलगोभी) है, जो पत्तागोभी, ब्रोकोली और केले जैसी कई सब्जियों की तरह दिखती है। इटली में उगने वाली फूलगोभी (रोमनेस्का ब्रोकली) अपनी सीप जैसी बनावट और पिरामिड जैसी आकृति के कारण इन दिनों भारत में खूब सुर्खियां बटोर रही है। रंगरूप में सुंदर दिखने वाली रोमनेस्का फूलगोभी सेलेक्टिव ब्रीडिंग सब्जी बाजार में 2200 रुपए प्रति किलो के भाव से बिक रही है। आईये इस अजीब बनावट वाली इस विदेशी फूलगोभी के बारे में जानें।

क्या है रोमनेस्का ब्रोकली (Romanesco Broccoli)?

मीडिया रिपोर्ट्स की जानकारी के मुताबिक, रोमनेस्का ब्रोकली (Romanesco Broccoli) इटली में उगने वाली एक तरह की फूलगोभी है, जो अपनी सीप जैसी बनावट और पिरामिड जैसी आकृति के कारण काफी चर्चा में है। इस विदेशी फूलगोभी का स्वाद मूंगफली की भांति होता है। रोमनेस्का ब्रोकली में मिनरल्स, फाइबर, विटामिन्स और एंटी ऑक्सीडेंट्स जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में है। इसमें पाए जाने पोषक तत्वों की वजह से यह स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी है। इस अजीबो गरीब आकार की गोभी (Cauliflower) के फायदों के कारण इसे अमेरिकी और यूरोपीयन देशों में खूब पंसद किया जाता है। यहां के बाजारों में इसकी मांग काफी बड़े स्तर पर होती है। 

रोमनेस्का ब्रोकली का आकार क्यों है पिरामिड जैसा? 

एक साइंस रिपोर्ट के अनुसार, फ्रेंच नेशनल सेंटर फॉर साइंटिफिक रिसर्च के वैज्ञानिक फ्रांकोइस पेरिसी तथा उनके सहयोगी वैज्ञानिकों ने रोमनेस्का ब्रोकली यानी विदेशी फूलगोभी पर कई सालों तक साइंटिफिक रिसर्च कर जाना की इसके पिरामिड जैसे आकार होने के पीछे का कारण क्या है। वैज्ञानिक फ्रांकोइस और उनके सहयोगियों ने शोध में पाया कि यह भी एक फूल है, जो पूरी तरह विकसित नहीं हो सका। फूलगोभी में दानेदार फूल एक साथ मिलकर बड़े फूल के रूप में विकसित होते हैं, लेकिन रोमनेस्का फूलगोभी (Romanesco Cauliflower) में ऐसा नहीं होता है। दरअसल, रोमनेस्को फूलगोभी के बीच में जो दानेदार फूल जैसी आकृतियां दिखाई देती हैं, वे वास्तव में फूल बनना चाहती हैं। लेकिन, ये सही से विकसित न होने के कारण एक कली रह जाती है। जब कली विकसित नहीं हो पाती है, तो नई कलियां दूसरी कलियां के ऊपर बढ़कर पिरामिड की भांति आकार बनाती है। इस कारण इस फुलगोभी का आकार पिरामिड की भांति ही दिखता है।

इटली में उगने वाली इस फूलगोभी की कीमत क्या है?

ऑनलाइन स्टोर्स और रिपोर्ट्स से मिली जानकारी के अनुसार, इटली में उगने वाली इस अजीबो गरीब आकार वाली फूलगोभी की कीमत 2 हजार से 2200 रुपए प्रति किलो तक है, जबकि साधारण फूलगोभी या हरे पत्तादारगोभी की कीमत सब्जी बाजारों में 50-100 रुपए प्रति किलो तक होती है। 

किसान 4 सालों से कर रहा सब्जियों की ऑर्गेनिक खेती  

जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जनपद के मेरवानी गांव के किसान आदित्य त्यागी 4 सालों से ऑर्गेनिक खेती कर सब्जियों का उत्पादन कर रहे हैं। जिले के किसान त्यागी ऑर्गेनिक फॉर्मिग में टमाटर, गोभी, गाजर, शलजम, मूली, प्याज व धनिया जैसी सब्जियां उगा रहे हैं। उनका कहना है कि ऑर्गेनिक तकनीक से उत्पादित सब्जियों की मांग देश के बाजारों में ही नहीं, बल्कि विदेश के सब्जी बाजारों में भी बहुत है। क्योंकि पेस्टिसाइड के प्रयोग से उत्पादित फल और सब्जी से कैंसर व संक्रामक जैसे रोगों का खतरा बढ़ता जा रहा है। इस कारण लोग अब ऑर्गेनिक उत्पादन पर ज्यादा ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। त्यागी का कहना है कि ऑर्गेनिक तकनीक से तैयार उनकी सब्जियां व अन्य फसलों की उपज बाजार में हाथों हाथ बिक जाती है। अब उन्होंने रोमानिया ब्रोकली (एक तरह की विदेशी फूलगोभी) की ऑर्गेनिक तकनीक से खेती करने की ओर कदम बढ़ाया है। 

तुर्की से बीज मंगाकर किसान ने रोमानिया ब्रोकली पॉली हाउस में उगाया

किसान आदित्य त्यागी ने बताया कि सहारनपुर जनपद में कई किसानों ने गन्ना, गेंहू सहित सब्जियों की ऑर्गेनिक खेती में रूचि दिखाई है। इसके लिए जिला उद्यान विभाग भी उन्हें प्रेरित कर रहा है। जनपद के बहुत से किसानों का रुझान खेती में नये प्रयोग करने में बढ़ रहा है। इसी में किसान आदित्य त्यागी ने इटली में उगने वाली रोमानिया ब्रोकली यानी विदेशी फूलगोभी का बीज तुर्की से मंगवाकर पॉली हाउस में लगाया। उनका यह प्रयोग सफल रहा है। उन्होंने बताया कि पॉली हाउस में इस विदेशी गोभी की खेती को ऑर्गेनिक तकनीक से उगाया जा  रहा है। अब इसे पॉली हाउस से बाहर सामान्य पद्धति से भी उगाने की कोशिश की जा रही है। त्यागी का कहना है कि उनका एक बेटा तुर्की में रहता है, तो वहां से उन्होंने एक रोमानिया ब्रोकली मंगवाकर पॉली हाउस में लगाया। बता दें कि इटली में उगने वाली इस फूलगोभी को (रोमनेस्का ब्रोकली) के नाम से जानते हैं। रोमनेस्का ब्रोकली का उल्लेख इटली (रोम) के कुछ प्राचीन दस्तावेज़ों में भी मिलता है।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर