ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

उज्जवला योजना 2.0 : एक महीने में रिकॉर्ड 3.77 लाख महिलाओं ने किये आवेदन, जानें आवेदन प्रक्रिया

उज्जवला योजना 2.0 : एक महीने में रिकॉर्ड 3.77 लाख महिलाओं ने किये आवेदन, जानें आवेदन प्रक्रिया
पोस्ट -22 दिसम्बर 2023 शेयर पोस्ट

पीएम उज्जवला योजना 2.0 : एक महीने में रिकॉर्ड 3.77 लाख महिलाओं ने किया आवेदन, यहाँ करें आवेदन 

PM Ujjwala Yojana 2.0 : पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय (MOPNG) भारत सरकार द्वारा “प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना” 2.0 (पीएमयूवाई 2.0) का संचालन किया जा रहा है। इस योजना के माध्यम से देशभर में शहरी और ग्रामीण इलाकों में निवास करने वाले गरीब परिवारों की मुखिया महिलाओं व गृहणियों को बिल्कुल मुफ्त एलपीजी कनेक्शन दिया जाता है, इसमें गैस चूल्हे के साथ एक भरा हुआ (14.2 किलोग्राम ) एलपीजी सिलेंडर शामिल होता है। इस बीच केंद्र सरकार द्वारा अगले 3 वित्तीय वर्ष के लिए उज्जवला योजना 2.0 (PMUY 2.0) के अंतर्गत 75 लाख परिवारों को अतिरिक्त एलपीजी कनेक्शन जारी करने का लक्ष्य रखा गया है। इसे मिलाकर अब 'प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना' 2.0 (पीएमयूवाई) के तहत कुल आवंटित लक्ष्य 10.35 करोड़ पहुंच गया है। वर्तमान में आवंटित लक्ष्य हासिल करने के लिए एलपीजी कनेक्शन जारी किए जा रहे हैं, इसके लिए पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय की तरफ से उज्जवला योजना 2.0 के तहत आवेदन लिए जा रहे हैं। जिसके मुकाबले बीते महीने में पीएमयूवाई 2.0 के तहत रिकॉर्ड 3.77 लाख गृहणी व महिलाओं ने एलपीजी कनेक्शन के लिए आवेदन किए हैं। ऐसे में आप भी उज्जवला कनेक्शन के लिए आवेदन कर सकते हैं। पीएमयूवाई 2.0 के तहत नए एलपीजी कनेक्शन जारी करने का काम तेजी से चल रहा है। 

New Holland Tractor

पीएमयूवाई 2.0 का उद्देश्य

बलिया, उत्तर प्रदेश में 1 मई 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 'प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना' (पीएमयूवाई) की शुरूआत की गई थी। इस योजना का उद्देश्य ग्रामीण एवं वंचित परिवारों को खाना पकाने के लिए एलपीजी जैसे स्वच्छ ईंधन उपलब्ध कराना है, ताकि महिलाएं खाना पकाने के लिए पारंपरिक ईंधन जैसे लकड़ी, कोयला, गोबर के उपले इत्यादि का उपयोग न करें, इन पारंपरिक ईंधन के उपायों से महिलाओं के स्वास्थ्य के साथ-साथ पर्यावरण पर भी हानिकारक प्रभाव पड़ा। इस योजना के तहत सरकार गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले प्रवासी परिवार एवं पीएम आवास योजना- ग्रामीण (PMAY-G) के सभी अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति वर्ग के परिवारों की महिलाओं व गृहणियों को बिलकुल मुफ्त एलपीजी गैस कनेक्शन दिया जाता है। इसका पूरा खर्च तेल विपणन कंपनियां (ओएमसी) वहन करती है। 

9.60 करोड़ परिवारों को जारी किए जा चुके हैं एलपीजी कनेक्शन 

पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय भारत सरकार की तरफ से 'प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना' (पीएमयूवाई) के माध्यम से मार्च 2020 तक देशभर के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में वंचित परिवारों की मुखिया महिलाओं व गृहणियों को 8 करोड़ एलपीजी कनेक्शन जारी करने का लक्ष्य आवंटित किया था। इसे आगे बढ़ाते हुए उज्जवला 2.0 के अंतर्गत 1.60 करोड़ अतिरिक्त एलपीजी कनेक्शन का लक्ष्य आवंटन किया गया। पीएमयूवाई 2.0 के तहत सरकार द्वारा अब तक कुल 9.60 करोड़ प्रवासी परिवारों को एलपीजी कनेक्शन जारी किए जा चुके हैं। वहीं, सितंबर महीने में पीएमयूवाई 2.0 के तहत 75 लाख और अतिरिक्त कनेक्शन जारी करने को मंजूरी दी गई। वर्ष 2014 में देश के अंदर एलपीजी उपभोक्ताओं की कुल संख्या 14 करोड़ थी, परंतु वर्ष 2023 के दौरान यह संख्या बढ़कर 33 करोड़ पहुंच चुकी है।  

एक महीने में उज्जवला कनेक्शन के लिए रिकॉर्ड आवेदन

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा मामले एवं खेल मंत्री अनुराग ठाकुर की जानकारी के अनुसार, केंद्र सरकार ने पीएम उज्ज्वला योजना 2.0 के तहत मुफ्त 75 लाख नए कनेक्शन देने का अतिरिक्त लक्ष्य आवंटित किया है। जिसके तहत देशभर में लगभग एक महीने से चल रही विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान एक महीने में पीएमयूवाई 2.0 के तहत लगभग 3.77 लाख गृहिणी व महिलाओं ने पीएम उज्ज्वला कनेक्शन के लिए आवेदन किया है जो एक महीने के दौरान प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत एलपीजी कनेक्शन के लिए रिकॉर्ड आवेदन है।

उज्ज्वला लाभार्थियों को 603 रुपए में मिल रहा है एलपीजी सिलेंडर 
 
केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के अनुसार, देश में सामान्य एलपीजी उपभोक्ताओं को 14.2 किलोग्राम वाले लाल रंग का गैस सिलेंडर 903 रुपए प्रति सिलेंडर मिल रहा है, जबकि उज्जवला लाभार्थियों को यह एलपीजी सिलेंडर केवल 603 रुपए की कीमत पर मिल रहा है। 14 किलोग्राम वाले एलपीजी सिलेंडर पर उज्ज्वला योजना के तहत लाभार्थियों को 300 रुपये की सीधी सब्सिडी दी जा रही है। एलपीजी गैस सिलेंडर पर दी जाने वाली यह सब्सिडी राशि लाभार्थी के खाते में डीबीटी के माध्यम से ट्रांसफर की जाती है। वहीं, पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस और आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बीते दिन संसद में बताया कि हमारे पड़ोसी देश नेपाल में एलपीजी सिलेंडर की कीमत 1,198.56 रुपए, पाकिस्तान में 1,059.46 रुपए औेर श्रीलंका में 1,032.35 रुपए है, जबकि भारत में सब्सिडी वाले 14 किलोग्राम के एलपीजी सिलेंडर की कीमत 603 रुपए है।  

पीएमयूवाई 2.0 (PMUY 2.0) हेतु पात्रता मानदंड–

  • इसमें ग्रामीण और प्रवासी परिवार की महिला मुखिया ही आवेदन कर सकती हैं
  • महिला की आयु 18 वर्ष होनी चाहिए
  • आवेदक महिला के घर में किसी भी ओएमसी से कोई अन्य गैस कनेक्शन  नहीं होना चाहिए
  • निम्नलिखित श्रेणियों में से किसी एक से संबंधित वयस्क महिला - एससी, एसटी, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण), सबसे पिछड़ा वर्ग (एमबीसी), अंत्योदय अन्न योजना (एएवाई), चाय व पूर्व-चाय बागान जनजाति, वनवासी, रहने वाले लोग द्वीप और नदी द्वीप, एसईसीसी परिवारों (एएचएल टीआईएन) या 14-बिंदु घोषणा के अनुसार किसी भी गरीब परिवार के तहत सूचीबद्ध
  • महिला या गृहिणी का आधार कार्ड
  • आवेदक महिला की वोटर आईडी या अन्य प्रमाण पत्र पते के लिए (असम और मेघालय के लिए अनिवार्य नहीं)
  • राशन कार्ड, जिस राज्य से आवेदन किया जा रहा है या अन्य राज्य सरकार द्वारा जारी राशन कार्ड
  • अनुबंध के अनुसार पारिवारिक संरचना/स्व-घोषणा प्रमाणित करने वाला दस्तावेज (प्रवासी आवेदकों के लिए)
  • आवेदक के पास जन धन बैंक खाता पासबुक होनी चाहिए।
  • परिवार की स्थिति का समर्थन करने के लिए केवाईसी। 

उज्जवला योजना 2.0 में आवेदन कैसे करें?

पीएमयूवाई 2.0 के अंतर्गत उज्जवला कनेक्शन का लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र आवेदक अपनी पसंद के किसी भी गैस वितरक के पास आवेदन जमा करके या पीएमयूवाई योजना 2.0 के पोर्टल के माध्यम से अनुरोध जमा करके आवेदन कर सकते हैं। पीएम उज्जवला योजना 2.0 में आवेदन करने के लिए लाभार्थी  को सबसे पहले पीएमयूवाई 2.0 की आधिकारिक वेबसाइट https://www.pmuy.gov.in/about.html  पर विजिट करना है। 

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर