Tractor News Sarkari Yojana News Agriculture News Agriculture Machinery News Weather News Agri Business News Social News Success Stories News

Paddy Seeds : किसानों को धान के इन उन्नत बीजों पर तुरंत मिलेगा 50 प्रतिशत अनुदान

Paddy Seeds : किसानों को धान के इन उन्नत बीजों पर तुरंत मिलेगा 50 प्रतिशत अनुदान
Posted -24 May 2024 Share Post

Paddy Farming seeds : धान के इन उन्नत किस्मों के बीजों पर 2 हजार रुपए प्रति क्विंटल का अनुदान

Paddy Farming : देश में खरीफ फसल का मौसम शुरू होने जा रहा है। खरीफ की फसलों में किसान धान सहित कपास, मूंगफली, रागी, बाजरा, मक्का और सोयाबीन की बुवाई जून-जुलाई में करते हैं। जून के महीने को धान की खेती के लिए सबसे उपयुक्त महीना माना जाता है। क्योंकि किसान जून महीने में धान की खेतों की बुवाई/रोपाई के लिए इसकी नर्सरी लगाते हैं। इस महीने में जहां देश के दक्षिणी राज्यों में मानसून पहुंच जाता है, वहीं कुछ क्षेत्रों में प्री-मॉनसून की गतिविधियां भी आरंभ हो जाती है। किसान इस समय को धान की खेती के लिए अच्छा मानते हुए इसकी खेती की तैयारी में लग जाते हैं। धान की खेती करने वाले ज्यादातर किसान नई - नई उन्नत किस्मों का चयन कर खेतों में धान की नर्सरी लगाते है, तो कुछ ऐसे में भी जो धान के उन्नत किस्मों के बीजों (Paddy Farming seeds)की खरीदने में असमर्थ रहते हैं। इसी समस्या का समाधान अब राज्‍य सरकारों की तरफ से किया जा रहा है। किसान उन्नत गुणवत्ता वाली किस्सों की बुवाई अपने खेतों में करें, इसके लिए उत्तर प्रदेश में सरकार की ओर से अब कृषकों को धान के उन्नतशील प्रभेदों के बीजों पर अनुदान दिया जा रहा है यानी किसानों को आधी कीमत में बीज मुहैया कराए जा रहे हैं। आइए, जानते हैं कि किसान इसका लाभ किस तरह से उठा सकते हैं?

New Holland Tractor

धान के बीजों पर इतना मिलेगा अनुदान (This amount will be given as subsidy on paddy seeds)

प्रदेश में बड़े रकबे में गेहूं, गन्ना और धान की खेती (Paddy Cultivation) किसानों द्वारा सबसे ज्‍यादा की जाती है। इस समय प्रदेश के अधिकांश हिस्सों के किसान धान की खेती की तैयारी में जुटे हुए हैं। खेतों में धान की नर्सरी लगाने का समय चल रहा है। फसल बीज की दुकानों पर बीज की खरीदारी करने के लिए किसानों की भीड़ लग रही है। धान के किसानों को सहूलियत देने के लिए इस बार प्रदेश सरकार की तरफ से बीज सब्सिडी योजना लागू की गई। इस योजना के तहत किसानों को धान के उन्नत किस्मों के बीज दिए जा रहे हैं। बीज सब्सिडी योजना के तहत किसानों को ये बीज राजकीय कृषि बीज भंडार से मिल रहे हैं। योजना के तहत किसानों को धान के बीजों पर 50 प्रतिशत तक का अनुदान मिलेगा। बीज सब्सिडी योजना के अंतर्गत किसान को धान की उन्नत प्रजातियों के बीजों पर 50 फीसदी या फिर अधिकतर 2000 रुपए प्रति क्विंटल की सब्सिडी दी जाएगी।

बैंक खाते में दिया जाएगा अनुदान (Grant will be given in bank account)

राज्य सरकार द्वारा बीज सब्सिडी योजना के जरिए किसानों को बड़ी राहत दी गई है। किसानों को इस बार राजकीय बीज गोदाम/कषि रक्षा इकाई केंद्रों से 50 फीसदी या फिर अधिकतम  2000 रुपए प्रति क्विंटल के अनुदान पर धान के अलग-अलग प्रजाति के बीज उपलब्ध कराए गए हैं। इन बीजों को प्राप्त करने के लिए किसानों का रजिस्ट्रेशन कृषि विभाग की वेबसाईट पर होना अनिवार्य है। बीज की खरीदारी करने पर किसानों को मिलने वाला अनुदान सीधे उनके बैंक खाते में दिया जाएगा। प्रदेश के अलग-अलग जिलों में अलग-अलग किस्मों के धान बीज किसानों को आधी कीमत पर उपलब्ध कराए जा रहे हैं। इन बीज को अनुदान पर लेकर किसान उनकी रोपाई अपने खेतों में कर पैदावार बढ़ा सकते हैं और अधिक पैदावार प्राप्त कर सकते हैं।

रजिस्ट्रेशन के लिए कौन से दस्‍तावेज हैं जरूरी (Which documents are required for registration?)

अलग-अलग केंद्र पर किसानों को अलग-अलग प्रजातियों के धान के बीज (Rice Seeds) उपलब्ध कराए जा रहे हैं। सभी बीज की खरीद पर 50 प्रतिशत तक अनुदान दिया जा रहा है। किसान जिस भी किस्म का बीज लेना चाहते हैं, वह कृषि केंद्र या राजकीय बीज गोदाम पर उपलब्ध है। हालांकि, किसानों को वहां बीज प्राप्त करने के लिए पहले कृषि विभाग में अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा। किसान आधार कार्ड, बैंक अकाउंट, निवास प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, आयु प्रमाण पत्र, राशन कार्ड, पासपोर्ट साइज फोटो और आधार से लिंक मोबाइल नंबर जैसे कुछ दस्तावेजों के साथ बीज सब्सिडी योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। इस योजना का लाभ किसानों को 'पहले आओ पहले पाओ' के आधार पर दिया जा रहा है। धान के अलावा किसानों को गेहूं, मटर, चना, सरसों और मसूर के बीज पर अनुदान मिलेगा। पीएम किसान सम्मान निधि में पंजीकृत किसान राजकीय बीज गोदाम पर जाकर बीज की मिनी किट नि:शुल्क प्राप्त कर सकते हैं।

इन वैरायटी पर मिलेगा सब्सिडी का लाभ (Subsidy benefit will be available on these varieties)

कृषि विभाग के राजकीय बीज गोदामों पर धान के अलग-अलग प्रजातियों के उन्नत बीज उपलब्ध है। बीज खरीदने वाले किसानों को गोदामों से बीज खरीदने पर सब्सिडी का लाभ मिलेगा। किसानों को बीज के कुल मूल्य का आधा ही देना होगा। बुलंदशहर जनपद में शासन की ओर से विभाग को चार वैरायटी उपलब्ध कराया गया है, जिसमें पीआर 121, पूसा बासमती 1509, पूसा बासमती 1637, पंत 24 शामिल हैं। इन सभी बीजों की खरीदारी पर किसानों को 50 फीसदी अनुदान मिलेगा। लाभ लेने के लिए किसान का रजिस्ट्रेशन कृषि विभाग में होना आवश्यक है। अमेठी जिले में किसानों को राहत देते हुए कृषि रक्षा इकाई केंद्र पर इस बार खास प्रजाति बासमती सांबा सी 84, पीआर 126, एमटीयू 7029 प्रजातियों के बीज उपलब्ध कराए गए हैं। कृषि विभाग द्वारा पीलीभीत में पीआर 113, पीआर 124 और पीआर 126 वैरायटी धान के बीज (Paddy Seeds) किसानों को अनुदान पर दिया जा रहा है।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors