ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

30 हजार किसानों को मात्र 5 हजार में मिलेंगे सोलर पंप, ऐसे करना होगा आवेदन

30 हजार किसानों को मात्र 5 हजार में मिलेंगे सोलर पंप, ऐसे करना होगा आवेदन
पोस्ट -19 सितम्बर 2023 शेयर पोस्ट

पीएम कुसुम योजना : किसानों को केवल 5 हजार रुपए में मिलेगा सोलर पंप, यहां करें आवेदन

PM Kusum Yojana : उत्तर प्रदेश में किसानों को सोलर पंप भारी सब्सिडी पर दिए जा रहे हैं। इसके लिए प्रदेश की योगी सरकार ने प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा उत्थान महाभियान (पीएम-कुसुम) योजना के क्रियान्वयन को मंजूरी दी है। इसके तहत योगी सरकार राज्य के 75 जिलों में 30 हजार सोलर फोटोवोल्टिक सिंचाई पंप लगाएगी। इसके लिए इच्छुक किसानों को कृषि विभाग, उत्तर प्रदेश की ऑफिशियल वेबसाइट पर पंजीकरण कराना होगा।

New Holland Tractor

Uttar Pradesh Government News : कृषि के क्षेत्र में किसानों को बेहतर उत्पादन मिले, इसके लिए केंद्र एवं राज्य की सरकारें कई प्रकार की नई-नई योजनाएं ला रही है। इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार प्रदेश की बढ़ती ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने के लिए स्वच्छ ऊर्जा विकल्पों पर ध्यान केंद्रित कर रही है। इसके लिए केंद्र द्वारा संचालित प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा उत्थान महाभियान (पीएम कुसुम) योजना को प्रदेश में लागू कराने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा के अनुरूप संशोधित कार्य योजना का अनुमोदन किया गया है। सीएमओ (मुख्यमंत्री कार्यालय) के एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, यूपी  सरकार ने सीएम योगी की मंशा के अनुरूप वित्तीय वर्ष 2023-24 में पीएम कुसुम योजना (PM Kusum Yojana) के तहत 434 करोड़ रुपये (Rupees) व्यय (Expense) करके 30 हजार सोलर फोटोवोल्टिक सिंचाई पंप (solar photovoltaic irrigation pump) स्थापित करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार (Government of Uttar Pradesh) द्वारा इस मद में 217.84 करोड़ रुपए बतौर राज्यांश (state share) खर्च किए जाएंगे, जबकि 217.09 करोड़ रुपए की धनराशि, केंद्रांश के तौर पर केंद्र सरकार (Central government) आवंटित करेगी। आईय जानते है कि योजना के तहत सोलर फोटोवोल्टिक सिंचाई पंप को इंस्टॉल करने के लिए किसानों को क्या करना होगा? 

सरकार किसानों को उपलब्ध कराएगी स्वच्छ ऊर्जा आधारित सिंचाई व्यवस्था

उत्तर प्रदेश सरकार, मुख्यमंत्री योगी (Chief Minister Yogi) की मंशा के अनुरूप राज्य के 75 जिलों में 30 हजार सोलर फोटो वोल्टिक इरिगेशन पंप (solar photovoltaic irrigation pump) की स्थापना करेगी। वित्तीय वर्ष 2023-24 में पीएम कुसुम योजना (PM Kusum Yojana) के अंतर्गत 434 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। सीएम योगी की मंशा के अनुरूप, इस कार्ययोजना को प्रदेश में क्रियान्वित करने की जिम्मेदारी उत्तर प्रदेश नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा अभिकरण (यूपीनेडा) को इसकी जिम्मेदारी दी गई है। जिसके जरिए सर्फेस व सबमर्सिबल पंप इंस्टॉलेशन के जरिए 75 जिलों के किसानों को स्वच्छ ऊर्जा आधारित सिंचाई (irrigation) व्यवस्था उपलब्ध कराई जाएगी। परियोजना (Project) के तहत 30 हजार सोलर फोटो वोल्टिक इरिगेशन पंप को इंस्टॉल किए जाने का लक्ष्य प्रदेश सरकार द्वारा तय किया गया है। 

किसानों को प्रदान किया जाएगा अनुदान

भारत सरकार की मिनिस्ट्री ऑफ न्यू एंड रिन्यूएबल एनर्जी की गाइडलाइंस के मुताबिक, विभिन्न क्षमता के 7.5 हार्स पावर (एचपी) तक के स्टैंड अलोन सोलर पंपों की इंस्टॉलेशन पर बेंचमार्क लागत का 30 प्रतिशत केंद्रांश व 30 प्रतिशत राज्यांश के रूप में कुल 60 प्रतिशत अनुदान के रूप में प्रदान किया जाएगा। इसमें कहा गया है कि किसान कृषि अवसंरचना निधि के तहत स्टैंड अलोन सोलर पंपों के इंस्टॉलेशन के लिए रूचि रखने वाले इच्छुक किसान आवश्यक किसान हिस्सेदारी को बैंक से ऋण प्राप्त करके जमा कर सकते हैं। इसमें केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा कुल 6 प्रतिशत की छूट ब्याज में प्रदान की जाएगी। इसमें कहा गया है राज्य सरकार और केंद्र सरकार द्वारा 3-3 प्रतिशत का योगदान होगा। 

पर्यावरण संरक्षण के लिए साबित होगा एक उल्लेखनीय कदम

बयान में कहा गया है कि पंपों के इंस्टॉलेशन से किसानों को सौर ऊर्जा चालित पंपों की स्थापना करने में मदद मिलेगी। जिससे उन्हें न केवल कम दाम में स्वच्छ ऊर्जा चालित विकल्प मिलेगा, बल्कि पर्यावरण-अनूकूल ऊर्जा का स्त्रोत भी मिलेगा, जो पर्यावरण की रक्षा, जलवायु परिवर्तन के खतरे को कम करने और पर्यावरण के क्षेत्र में कार्बन उत्सर्जन में कमी लाने में एक उल्लेखनीय कदम साबित होगा। वहीं, सिंचाई की लागत में भी कमी आएगी क्योंकि बिजली व डीजल आपूर्ति पर उनकी निर्भरता में कमी आएगी। 

योजना का लाभ लेने के लिए कराना होगा रजिस्ट्रेशन

बयान में आगे कहा गया है कि स्वीकृत की गई संशोधित कार्ययोजना के अनुसार, यूपीनेडा विभिन्न सौर पंपों के इंस्टॉलेशन में मदद करेगा, जिसमें 1800 वॉट 2 एचपी डीसी व एसी सरफेस और सबमर्सिबल पंप, 3000 वॉट 3 एचपी डीसी-एसी सबमर्सिबल पंप, 4800 वॉट 5 एचपी एसी सबमर्सिबल पंप, 6750 वॉट 7.5 एचपी एसी सबमर्सिबल पंप, 9000 वॉट 10 एचपी एसी सबमर्सिबल सोलर पंप शामिल है। इस योजना का लाभ लेने के लिए इच्छुक किसान को कृषि विभाग, उत्तर प्रदेश की वेबसाइट http://upagriculture.com/ पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा।

आवंटन पहले आओ, पहले पाओ के आधार पर होगा

इसमें कहा गया है कि पंजीकरण कराने के बाद किसानों को इंस्टॉल्ड कराए गए पंप की डिटेल्स व उनकी केटेगरीज को सलेक्ट कर पात्रता के लिए आवेदन देना होगा। इसके बाद किसानों के टोकन आवंटन की प्रक्रिया शुरू होगी। यह आवंटन पहले आओ, पहले पाओ पर आधारित होगी। आवेदन प्रक्रिया के समय किसानों को 5,000 रुपए की धनराशि टोकन मनी के रूप में ऑनलाइन जमा करना होगी। इसमें कहा गया है कि सोलर पंपों के इंस्टॉलेशन के लिए सभी जिलों के आवंटित लक्ष्यों के अनुसार लाभार्थी किसानों को सौर पंपों की स्थापना पर सब्सिडी दी जाएगी।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर