ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

टमाटर की खेती : महंगे टमाटर बेचने के लिए अब बारिश के मौसम में करें खेती

टमाटर की खेती : महंगे टमाटर बेचने के लिए अब बारिश के मौसम में करें खेती
पोस्ट -19 जुलाई 2023 शेयर पोस्ट

बारिश में करें टमाटर की खेती, इस तकनीक से होगी बंपर पैदावार 

टमाटर के बढ़ते दाम की वजह से आमतौर पर ऐसी अवधारणा बन जाती है कि अब किसानों को अच्छा मुनाफा मिल रहा होगा। लेकिन ये पूरी तरह सच नहीं है। टमाटर का रेट अक्सर बारिश के मौसम में बढ़ जाता है, जिसका बड़ा कारण बारिश की वजह से टमाटर की फसलों का गलना और मंडी में आवक का कम होना है। आवक कम होने की वजह से डिमांड के हिसाब से सप्लाई नहीं हो पाती है और टमाटर का रेट बढ़ जाता है। बढ़े हुए टमाटर के रेट का फायदा किसानों को न मिलकर बिचौलियों को मिलता है। लेकिन मार्केट में ऐसी तकनीक मौजूद है जब किसान बारिश के मौसम में भी टमाटर की अच्छी खासी खेती कर सकते हैं और अपनी उपज बढ़ा सकते हैं। साथ ही अच्छा खासा मुनाफा भी कमा सकते हैं। हाल ही में इसी तकनीक का इस्तेमाल करते हुए कर्नाटक के एक किसान ने 38 लाख रुपए कमाए हैं। पिछले 1 महीने में टमाटर की कीमत 326.13 प्रतिशत बढ़ी है। जिसका बहुत ज्यादा लाभ इस किसान को हुआ है। 

New Holland Tractor

ट्रैक्टरगुरु के इस पोस्ट में हम टमाटर की खेती के लिए जरूरी टिप्स, किसान भाई ऐसे मौकों का फायदा कैसे उठाएं, बारिश के मौसम में भी टमाटर की खेती कैसे करें, किस तकनीक से खेती करें आदि के बारे में जानकारी दे रहे हैं।

क्यों और किस मौसम में बढ़ते हैं टमाटर के दाम

आजकल खेती में भी वैसे किसान सबसे ज्यादा लाभान्वित होते हैं जो आंकड़ों और परिस्थितियों को समझ कर खेती करते हैं। सामान्यतः बारिश के मौसम आते ही टमाटर के भाव में बढ़ोतरी शुरू हो जाती है। इस मौसम में टमाटर के पौधों को बारिश की वजह से काफी नुकसान होता है। ज्यादातर किसानों की फसल बारिश की वजह से गल जाती है। यही वजह है कि मानसून आने के साथ ही टमाटर के भाव में बढ़ोतरी होनी शुरू होती है।

टमाटर की खेती से इस किसान ने कमाए 38 लाख रुपए

टमाटर के बढ़ते भाव के बीच एक किसान प्रभाकर गुप्ता ने कुछ महीनों में ही 38 लाख रुपए की कमाई की है। प्रभाकर 40 साल से टमाटर की खेती कर रहे हैं। वे 40 एकड़ जमीन के मालिक हैं। इस परिवार ने 15 किलोग्राम टमाटर के बॉक्स को 1900 रुपए प्रति बॉक्स बेचा और अच्छी खासी कमाई की।

आप भी कैसे कर सकते हैं अच्छी कमाई 

किसान टमाटर की खेती के लिए उन्नत तकनीक का सहारा ले सकते हैं। जिसकी वजह से बारिश में भी टमाटर की खेती की जा सके और फसल की बर्बादी को रोका जा सके। आजकल केंद्र सरकार एवं राज्य सरकारें भी किसानों को उनके इस कदम के लिए सहायता प्रदान कर रही है। सरकार किसानों को पॉलीहाउस खेती करने के लिए और पॉलीहाउस बनवाने के 50 से 75% तक सब्सिडी प्रदान करती है। पॉलीहाउस सब्सिडी के लिए देश के अलग-अलग राज्य किसानों को सब्सिडी प्रदान कर रहे हैं। अगर किसान पॉलीहाउस का निर्माण करवा लेते हैं तो विभिन्न फलों और सब्जियों की खेती कर किसान सालभर में 10 से 12 लाख रुपए की कमाई बहुत ही आसानी से कर सकते हैं।

बीजोपचार 

पूसा, पूसा संरक्षित, चेरी टमाटर, नवीन, सरताज प्लस जैसी टमाटर प्रजाति की अच्छी किस्मों का खेती के लिए चुनाव करें। उन्नत और अधिक समय तक चलने वाली किस्म के बीज पैकेट से उपचारित हुए ही आते हैं। इसलिए बीज को फिर से उपचारित करने की जरूरत नहीं होती। 

खेत की तैयारी

टमाटर की खेती में भूमि की तैयारी के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। पॉलीहाउस के अंदर की भूमि को रोटावेटर या कल्टीवेटर की मदद से 2 से 3 बार अच्छी जुताई करा लेनी चाहिए। पहली जुताई के समय पकी हुई गोबर खाद का इस्तेमाल पर्याप्त मात्रा में करना चाहिए। जुताई के बाद भूमि को समतल कर लेनी चाहिए।

पाॅलीहाउस में टमाटर की खेती के फायदे
 
पॉलीहाउस में टमाटर की खेती के कई फायदे होते हैं।

  • पौधों में कीट और रोग से बचाव होता है।
  • सर्दी, गर्मी और बरसात की मार कम झेलने को मिलती है।

सिंचाई

पॉलीहाउस में टमाटर की खेती में सिंचाई फसल की मांग के अनुरूप दें। ड्रिप सिंचाई इस फसल के लिए काफी अच्छी होती है, इससे जल जमाव नहीं होता और फसल को नुकसान झेलना नहीं पड़ता है।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर