ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

कीट प्रबंधन: बाजरे की फसल पर अमेरिकन सुंडी का हमला, किसानों की फसल बर्बाद

कीट प्रबंधन: बाजरे की फसल पर अमेरिकन सुंडी का हमला, किसानों की फसल बर्बाद
पोस्ट -31 अगस्त 2023 शेयर पोस्ट

बाजरे की फसल में अमेरिकन सुंडी कीट का प्रकोप, किसानों को मिलेगा इतने रुपए का मुआवजा

pest management : देश के शुष्क क्षेत्रों में खरीफ सीजन में बोई जाने वाली मुख्य फसल बाजरा अभी गम्भा स्थिति में है। बाजरे के सिट्टों में दाना बनना शुरू हो चुका है। इस बीच हरि‍याणा में बाजरे की खड़ी फसल पर बॉलवर्म हेलीकोवर्पा आर्मिजेर (अमेरिकन सुंडी) का हमला हुआ है। जिसका प्रकोप से बाजरा के सिट्टों पर दिखाई देने लगा है। बाजरे की फसल करीब-करीब तैयार होकर अपने अंतिम स्टेज पर है। लेकिन बाजरे के सिट्‌टों पर अमेरिकन सुंडी के अटैक से फसल को नुकसान पहुंच रहा है। बाजरे की सिट्टों पर अमेरिकन सुंडी कीट लगा हुआ है, जो बाजरे के दानों को खाकर सिट्टों को खाली कर रहा है। इससे बाजरे की फसल को काफी नुकसान हो रहा है। जिसको लेकर किसान काफी चिंतित है। कृषि और किसान कल्याण विभाग द्वारा तैयार की गई प्रारंभिक रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकन सुंडी के प्रकोप के चलते सूबे की कई लाखों एकड़ में खड़ी बाजरा की फसल बर्बाद हो चुकी है। ऐसे में किसान अब अपनी फसल बचाने के लिए कृषि विभाग के कार्यालयों में चक्कर काट रहे हैं। बाजरा फसल बर्बाद होने के चलते किसानों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ेगा। हालांकि कृषि विभाग की टीमों द्वारा निरीक्षण कर फसलों पर लगे रोग को देखते हुए दवाइयों का स्प्रे करने की सलाह दी जा रही है। ऐसे में किसानों ने सरकार से उचित मुआवजा की मांग की है। प्रभावित किसानों ने कृषि विभाग एवं सरकार से इस पर नियंत्रण करने की मांग की है। प्रदेश के 56 हजार से अधि‍क किसानों ने क्षतिपूति के लिए कृषि विभाग के समक्ष आवेदन भी प्रस्तुत कर दि‍या है। 

New Holland Tractor

किसानों को वितरित किया जाएगा मुआवजा

प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला ने कहा कि बाजरा फसल के नुकसान के वेरिफिकेशन की प्रक्रिया पूरी होने के तुरंत बाद किसानों को मुआवजा वितरित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बाजरे की फसल को नुकसान चाहे कीट के हमले से हुआ हो या बाढ़ से हुआ हो। किसानों को फसल नुकसान पर मुआवजा दिया जाएगा। उपमुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला ने बताया कि कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट के अनुसार, वर्तमान में राज्य के 13 जिलों में करीब 11,89,214 एकड़ में बाजरे की फसल बोई गई थी। जिनमें महेंद्रगढ़, दादरी, रेवाड़ी, भिवानी, झज्जर, पलवल, गुरुग्राम, मेवात, रोहतक, हिसार, फतेहाबाद, सिरसा और जींद में बाजरे की फसल की बुवाई हुई थी।

कृषि विभाग द्वारा स्थापित किए गए कुल 1793 शिविर 

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बताया कि जब वैज्ञानिकों को बाजरे पर कीटों के अटैक की जानकारी मिली तो चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय (एचएयू) हिसार ने 12 जुलाई 2023 को बालदार सुंडी के प्रबंधन के लिए एक एडवाइजरी जारी की थी। उन्होंने कहा कि राज्य के महेंद्रगढ़, भिवानी, रेवाड़ी, चरखी, दादरी और झज्जर जिलों में भी अमेरिकन बॉलवर्म का प्रकोप देखा गया है। चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय (HAU) द्वारा 09 अगस्त 2023 को कृषि विभाग को एक एडवाइजरी जारी की गई थी और सभी जिला मुख्यालयों को उपचारात्मक, सुरक्षात्मक उपाय अपनाने के लिए सूचित किया गया था। बाजरे की फसल में हेलिकोवर्पा आर्मिगेरा (अमेरिकन सुंडी) सहित कीटों की निगरानी व नियंत्रण के लिए कृषि विभाग द्वारा कुल 1793 शिविर स्थापित किए गए।

ट्रैक्टर की कीमत की जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें - Tractor

रसायन के स्प्रे करने की नहीं की गई सिफारिश 

डि‍प्टी सीएम चौटाला ने बताया कि हरियाणा में बाजरा की बुआई जुलाई के पहले पखवाड़े में होनी चाहि‍ए। लेकिन पूरे अटेली ब्लॉक में तुलनात्मक रूप से बहुत जल्दी यानी मई के आखिरी सप्ताह से जून के प्रथम सप्ताह में ही बाजरा की बुवाई कर दी गई थी। उन्होंने कहा कि उमस भरे मौसम में नमी के चलते इसका प्रकोप बढ़ा है और काफी सालों बाद इसका प्रकोप बाजरा फसल में देखने को मिला है। उन्होंने कहा कि फसल में कीट व रोग प्रकोप के नियंत्रण के लिए विभाग द्वारा प्रभावित जिलों को 17 लाख रुपए का बजट उपलब्ध कराया गया। फसल की ऊंचाई लगभग 7 से 9 फुट होने के कारण फसल पर स्प्रे करने के लिए ड्रोन का उपयोग करने का प्रयास अव्यवहारिक पाया गया, क्योंकि अधिक ऊंचाई से स्प्रे प्रभावी नहीं होता। उन्होंने बताया कि एचएयू हिसार द्वारा जारी एडवाइजरी के अनुसार भारत सरकार के केंद्रीय कीटनाशक बोर्ड द्वारा वैसे तो बाजरे की फसल में किसी भी रसायन के स्प्रे करने की सिफारिश नहीं की है, लेकिन कुछ कीटनाशक हैं जिन्हें एचएयू की प्रथाओं के पैकेज अनुसार हेलीकोवर्पा आर्मिजेरा के प्रबंधन के लिए कपास और चने की फसल में रि‍क्मेंड किया गया है।

मिनी ट्रैक्टर की कीमत की जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें - Mini Tractor 

इन 6 जिलों में प्रभावित हुई फसल

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला ने कहा कि कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट के अनुसार, हरियाणा में 11,89, 214 एकड़ क्षेत्र में बाजरे की बुवाई हुई थी। जिनमें महेंद्रगढ़, चरखी दादरी, रेवाड़ी, भिवानी, झज्जर और गुरुग्राम जिलों में कुल 3,02,344 एकड़ क्षेत्र में लगी बाजरे की फसल हेलिकोवर्पा आर्मिगेरा बॉलवर्म (अमेरिकन सुंडी) से प्रभावित है। हरि‍याणा के कृषि‍ वि‍भाग के अनुसार महेंद्रगढ़ में 1,15,950 एकड़, चरखी दादरी में 34,225 एकड़, रेवाड़ी में कुल 53,127 एकड़, भिवानी में 81,500 एकड़, झज्जर में 12,600 एकड़ और गुरुग्राम में कुल बोए गए 1,75,120 एकड़ क्षेत्र में से 4,942 एकड़ क्षेत्र पर लगी बाजरे की फसल प्रभावित हुई है।

मुआवजा के लिए ई-क्षतिपूर्ति पोर्टल पर करना होगा आवेदन

उपमुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला ने बताया कि जिन प्रभावित किसानों ने पीएम फसल बीमा योजना के माध्यम से फसल का बीमा करवाया है, उन्हें फसल कटाई प्रयोगों के परिणाम के आधार पर फसल की उपज का आकलन करने के पश्चात बाजरे की उपज में हुए नुकसान की क्षतिपूर्ति की जाएगी। बाजरे की फसल में नुकसान की सत्यापन प्रक्रिया पूरी होने के बाद मुआवजा का वितरण तुरंत किया जाएगा। इसके लि‍ए प्रभावित किसानों को ई-क्षतिपूर्ति‍ पोर्टल (e-compensation portal) पर आवेदन करना होगा। क्षतिपूर्ति पोर्टल (compensation portal)  पर मौजूदा आंकड़ों के अनुसार, हरियाणा के 19 जिलों के 56,366 किसानों ने करीब 2,00,566 एकड़ क्षेत्र में बाजरा की फसलों में अमेरिक सुंडी से फसल नुकसान की क्षतिपूर्ति की मांग की है। 

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर