ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

Turmeric Price : हल्दी की कीमत में जोरदार तेजी, 21 हजार रुपए पहुंचा भाव

Turmeric Price : हल्दी की कीमत में जोरदार तेजी, 21 हजार रुपए पहुंचा भाव
पोस्ट -16 मार्च 2024 शेयर पोस्ट

हल्दी की कीमतों में आया 200 प्रतिशत का उछाल, जानिए आखिर क्यों बढ़े दाम

Turmeric Price : देशभर के लाखों परिवारों पर वित्तीय बोझ कम करने के लिए एक ओर जहां केंद्र सरकार एलपीजी सिलेंडर व पेट्रोल डीजल के दामों में कटौती कर रही है, तो दूसरी ओर मसालों की बढ़ती कीमतों ने आम जनता और सरकार को परेशानी में डाल दिया है। टमाटर, प्याज, लहसुन और अदरक के बाद अब हल्की के भाव आसमान छूने लगे हैं। तमिलनाडु के इरोड जिले में हल्‍दी के दाम 21369 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गए हैं। किसी को समझ नहीं आ रहा है कि आखिर हल्दी के दाम में इतनी जोरदार तेजी कैसे हो गई है। स्थानीय व्‍यापारियों के अनुसार, इस सीजन के लिए जिले के हल्दी बाजार में हल्दी की आवक पिछले महीने से चालू हो गई थी। शुरुआत में ताजी हल्दी की खरीद कीमत 15 हजार रुपए प्रति क्विंटल थी, जो तीन हफ्तों के अंदर ही 21 हजार रुपए प्रति क्विंटल को पार कर गई। आगे आने वाले समय में हल्दी की खरीद कीमत में और बढ़ोतरी होने की पूरी उम्‍मीद बाजार विक्रेताओं द्वारा बताई जा रही है।

New Holland Tractor

हल्दी का वर्तमान बाजार भाव

इरोड देश का दूसरा सबसे बड़ा हल्दी बाजार है। जिले के गोबिचेट्टीपलायम व करुंगलपलायम में कृषि उत्पादक सहकारी विपणन समितियां, पेरुंदुरई में विनियमित बाजार और इरोड हल्दी व्यापारियों और गोदाम मालिकों के संघ के स्वामित्व वाले बाजार परिसर में हल्दी की नीलामी की जाती है। इन चार स्थानों पर हल्दी की नीलामी हर दिन आयोजित की जाती है। इरोड हल्दी बाजार में जब इस सीजन में हल्दी नीलामी को शुरू किया, जब हल्दी की खरीद कीमत 15 हजार रुपए थी, बीते बुधवार को ताजी हल्दी की खरीद कीमत 20,000 रुपए प्रति क्विंटल के पार तक बढ़ गई। चालू सीजन 2023-24 के लिए हल्ली की खरीद कीमतों का अनुमानित दायरा एक छोटे पैटर्न को दर्शाता है। वर्तमान में हल्दी के भाव 19 हजार  के उच्च स्तर के पार चल रहे हैं। वर्तमान बाजार दरों के अनुसार, हल्दी का औसत खरीद मूल्य 14126.72 प्रति क्विंटल है। सबसे कम हल्दी की कीमत 4 हजार रुपए प्रति क्विंटल और सबसे अधिक हल्दी की कीमत  20 हजार रुपए प्रति क्विंटल चल रही है।

हल्दी की कीमत बढ़ने का कारण

इरोड हल्दी व्यापारी और गोदाम मालिक संघ के अनुसार, कर्नाटक, इरोड व अन्य जिलों से कच्ची हल्दी की आवक मार्च में भी कम बनी हुई है। चालू वर्ष में खेती की अवधि के दौरान गंभीर सूखे की वजह से हल्दी का उत्पादन प्रभावित हुआ, जिसके चलते हल्दी बाजारों में कच्ची हल्दी की आवक कम हुई है। उत्पादन घटने और सक्रिय त्योहारी मांग के कारण हल्दी की कीमतों में जोरदार वृद्धि हुई है। संघ के अनुसार, “जिले के इतिहास में पहले कभी भी ताजा हल्दी की कीमत 20,000 रुपये प्रति क्विंटल से अधिक नहीं हुई थी। लेकिन बीते बुधवार को, यह 20,500 रुपये (उंगली किस्म) को छू गई। बल्ब किस्म की खरीद कीमत 18,300 रुपये प्रति क्विंटल तक पहुंच गई। पुरानी हल्दी की बात करें तो फिंगर वेरायटी की कीमत 16,900 रुपये प्रति क्विंटल और बल्ब वैरायटी की कीमत 15,900 रुपये प्रति क्विंटल हो गई। साथ ही, बुधवार को पहली बार 726 लॉट बाजार में आए।'

बाजारों में 9050 टन हल्दी की आवक

हल्दी की मौजूदा खरीद कीमत अप्रैल 2023 के 6452 रुपए प्रति क्विंटल के निचले स्तर की तुलना में 205 प्रतिशत अधिक हैं, जो कच्ची हल्दी की आवक में कमी और उत्पादन घटने के कारण देखने को मिल रही है। इस साल हल्दी के उत्पादन में कम से कम 30-35 प्रतिशत की कमी आई है। देशभर में हल्दी की खेती के रकबे में 30 प्रतिशत से अधिक की गिरावट आई है, जिससे हल्दी की प्रति हेक्टेयर उत्पादन में  कमी देखने को मिल रही है, जिससे हल्दी पैदावार का पूर्वानुमान कम है। साल 2023-24 सीजन के लिए भारत की कुल आपूर्ति 94.4 लाख बोरी रहने का अनुमान है। हल्दी के उत्पादन में 60 लाख बैग की गिरावट आई है। मार्च 2024 में अब तक प्रमुख एपीएमसी बाजारों में केवल 9050 टन हल्दी की आवक हुई है, जबकि पिछले साल की समान अवधि में 18373 टन हल्दी की आवक हुई थी, मौजूदा आपूर्ति की कमी स्टॉकिस्टों को हर कीमत में गिरावट पर हल्दी खरीदने के लिए प्रोत्साहित कर सकती है।

आने वाले समय में हल्दी की खरीद मूल्य आ सकती है कमी

तकनीकी रूप से मामूली ओवरबॉट जोन यानी अपनी आंतरिक या उचित मूल्य की तुलना में अधिक के साथ आपूर्ति दबाव के चलते कुछ मुनाफावसूली देखी जा सकती है।  हालांकि, आगे अप्रैल से जून महीने तक हल्दी की कीमतें 21 हजार 700 से 25 हजार रुपए तक के उच्च स्‍तर पर रहने की उम्‍मीद है। लेकिन, जुलाई महीने में  इसके भाव में थोड़ी कमी आ सकती है। कहा जा रहा है कि बाजार में नई फसल की आवक, मौसमी बदलाव और उपभोक्ता में बदलाव जैसे कई अन्य कारणों के चलते हल्दी की खरीद मूल्य में कमी आ सकती है। वहीं, बागवानी व वृक्षारोपण फसलों के अधिकारियों के अनुसार, “हालांकि हल्दी की खरीद मूल्य में वृद्धि हुई है, उम्मीद है कि इस वर्ष ज्यादा किसान हल्दी की खेती करेंगे। हल्दी बीज की कीमत 15 से 20 रुपए से बढ़कर 45 रुपए प्रति किलोग्राम हो गई है।”

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर