सरकारी योजना समाचार ट्रैक्टर समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

खुशखबरी: दिल्ली-एनसीआर में रैपिड रेल से सब्जी और दूध की ढुलाई, किसानों को होगा बड़ा फायदा

खुशखबरी: दिल्ली-एनसीआर में रैपिड रेल से सब्जी और दूध की ढुलाई, किसानों को होगा बड़ा फायदा
पोस्ट - August 18, 2022 शेयर पोस्ट

सब्जियों और दूध की सप्लाई के लिए चलेगी स्पेशल ट्रेन, एनसीआर किसानों को मिलेगा ट्रैफिक जाम से छुटकारा

किसानों को खेती में विभिन्न प्रकार समस्याओं जैसे फसल उत्पादन से लेकर फसल की कटाई, फसल का विक्रय, भंडारण एवं प्राकृतिक आपदा इत्यादि परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इन सभी परेशानियों में सबसे पुरानी और जटिल समस्या फसल उत्पाद को बेचने के लिए एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचाने की है। क्योंकि हमारे देश में अधिकतर किसान छोटे और सीमांत श्रेणी के है, जो आर्थिक रूप से संपन्न नहीं है। ऐसे किसानों को पास कृषि उत्पादन को बेचने के लिए एक स्थान से दूसरे स्थान पर लाने-ले जाने के लिए उचित साधन नहीं होते है। मजबूरन किसानों को अपने कृषि उत्पादनों को अपने क्षेत्रीय स्तर पर बेहद कम दामों में बेचनी पड़ जाती हैं, जिससे उन्हें आर्थिक हानि होती है। किसानों की फसल उत्पादन ट्रांसपोर्ट की इसी समस्या को देखते हुए केन्द्र सरकार ने दिल्ली एनसीआर में सब्जियों और दूध की सप्लाई के लिए एक स्पेशल ट्रेन चलाने का फैसला किया है। नेशलनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (एनसीआरटीसी) की योजना है कि दिल्ली एनसीआर में रैपिड रेल के जरिए सब्जियों और दूध की सप्लाई के लिए  जाए। रैपिड रेल की योजना पर काम चल रहा है। इस योजना का उद्देश्य दिल्ली और आसपास के इलाकों में रहने वाले किसानों को खाने पीने के सामान की सप्लाई के आवागमन काे तेज गति प्रदान करना है। इससे न केवल पूरे क्षेत्र में सामान की सप्लाई सुनिश्चित होगी, बल्कि किसान अपना सामान तेजी के साथ बाजार तक पहुंचा सकेंगे। तो आइए ट्रैक्टर गुरू के इस लेख के माध्यम से इस खबर के बारे में जानते हैं कि इससे किसानों को किस तरह का फायदा होगा।  

New Holland Tractor

आम लोगों और किसानों को जाम से मिलेगी मुक्ति

नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (एनसीआरटीसी) ने दावा करते हुए कहा है कि दिल्ली एनसीआर को जल्द जोड़ने वाली रैपिड रेल अब सब्जी और दूध की भी ढोएगी। आने वाले समय में दिल्ली एनसीआर में सरकार की इस योजना से सड़क पर चलने वाले भारी वाहनों में कमी आएगी जिससे आम लोगों और किसानों को जाम से मुक्ति मिलेगी। रैपिड रेल के पहले चरण में दिल्ली-मेरठ रूट पर तीन वेयरहाउस बनाए जाएंगे। इतना ही नहीं किसानों के साथ होम डिलीवरी करने वाली कंपनियों को भी इसका बड़ा लाभ मिलने वाला है। मीडिया रिपोर्ट्स के साथ बातचीत में नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (एनसीआरटीसी) के एमडी विनय कुमार सिंह ने बताया कि रैपिड रेल यात्रियों के साथ-साथ एनसीआर में माल ढोने का भी बड़ा जरिया बनेगी।

बनाए जाएंगे वेयरहाउस

नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (एनसीआरटीसी) की रैपिड रेल योजना के मुताबिक दिल्ली एनसीआर में रैपिड रेल के जरिए सब्जियों और दूध की सप्लाई की जाएगी। इसके लिए रैपिड रेल के दिल्ली और मेरठ रूट पर मोदीपुरम, दुहाई और जंगपुरा में वेयरहाउस बनाए जाएंगे। इसे कोल्डचेन के तौर पर विकसित किया जाएगा। इसके जरिए एनसीआर क्षेत्र में आने वाले किसानों को सब्जी और दूध को दिल्ली तक पहुंचाने में काफी आसानी होगी। किसान अपने जल्द खराब होने वाले कृषि उत्पादों को दूर तक समय पर पहुंचा पाएंगे। किसान इन वेयरहाउस में अपना माल रखेंगे और खाली समय में रैपिड रेल उन्हें दिल्ली तक पहुंचाएगी। इसके लिए रूट पर स्पेशल ट्रेन चलाने की तैयारी है। इन ट्रेन को खास तौर पर माल ढोने के लिए विकसित किया जाएगा। आने वाले समय में ऐसे कई वेयर हाउस पूरे दिल्ली एनसीआर में होंगे। 

किसानों की आय में होगी बढ़ोत्तरी

केन्द्र सरकार की यह योजना नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (एनसीआरटीसी) की सहायता से शुरू किया जा रहा है। इस योजना के तहत रैपिड रेल के जरिए सब्जियों और दूध की सप्लाई की जाएगी। इसके लिए नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (एनसीआरटीसी) स्पेशल ट्रेन चलाएंगी। इस स्पेशल ट्रेन में बाकी ट्रेनों की तरह सीट नहीं होगी। यह स्पेशल रैपिड रेल रात के समय भी समान लेकर पटरी पर दौड़ेगी। इस ट्रेन की सहायता से कृषि सामानों को तेजी के साथ एक स्थान से दूसरे स्थान पर कम समय में पहुंचाय जा सकेगा। जिससे आपूर्ति बनी रहेगी और बेवजह कीमतों में तेज नहीं आएगी। किसानों का उत्पाद खराब नहीं होगा जिससे उनका नुकसान घटेगा और बाजार में उनका उत्पादन समय पर बिना खराब हुए आसानी से पहुंच पाएगा। जिससे उन्हें इन उत्पादनों का बेहतर दाम मिल पाएगा। सामान को रैपिड रेल से पहुंचाने का कारण सड़क से भारी वाहनों की बोझ कम होगा। इससे ट्रैफिक बोझ घटेगा और किसानों का कीमती समय और फ्यूल बचेगा।

ट्रैक्टरगुरु आपको अपडेट रखने के लिए हर माह पॉवरट्रैक ट्रैक्टर  व  सोनालिका ट्रैक्टर  कंपनियों सहित अन्य ट्रैक्टर कंपनियों की मासिक सेल्स रिपोर्ट प्रकाशित करता है। ट्रैक्टर्स सेल्स रिपोर्ट में ट्रैक्टर की थोक व खुदरा बिक्री की राज्यवार, जिलेवार, एचपी के अनुसार जानकारी दी जाती है। साथ ही ट्रैक्टरगुरु आपको सेल्स रिपोर्ट की मासिक सदस्यता भी प्रदान करता है। अगर आप मासिक सदस्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

ट्रैक्टर इंडस्ट्री से जुड़े सभी अपडेट जानने के लिए आप हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें - https://bit.ly/3yjB9Pm

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors