ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

कृषि यंत्रीकरण मेला : किसानों को 108 कृषि यंत्रों के साथ ट्रैक्टर पर मिली सब्सिडी

कृषि यंत्रीकरण मेला : किसानों को 108 कृषि यंत्रों के साथ ट्रैक्टर पर मिली सब्सिडी
पोस्ट -11 दिसम्बर 2023 शेयर पोस्ट

कृषि मेले में किसानों को ट्रैक्टर समेत विभिन्न कृषि यंत्रों पर मिली लाखों रुपए की सब्सिडी, जानें पूरी जानकारी

Agricultural Machinery Fair : देश में अंतरराष्ट्रीय कृषि प्रदर्शनी एवं राज्य स्तरीय कृषि मेले का आयोजन केंद्र एवं राज्य की सरकारों द्वारा किया जाता है। इन कृषि मेलाें का आयोजन किसानों को उन्नत खेती, कृषि में आधुनिक तकनीकों के प्रयोग, नवीन अवधारणाओं और कृषि में नवीनतम उत्पादों के उपयोग से अवगत कराया जाता है। साथ ही कई राज्य की सरकारें इन कृषि मेलों के तहत किसानों को कृषि यंत्रों की सब्सिडी पर खरीदारी करने का मंच भी प्रदान करती है। सरकार कृषि प्रदर्शनी मेले में लॉटरी प्रक्रिया के माध्यम से किसानों का चयन कर उन्हें खरीदी गई मशीनों पर कृषि यंत्रीकरण योजना के प्रावधानों के अनुसार अनुदान उपलब्ध करवाती है। इस बीच संयुक्त कृषि भवन परिसर, दरभंगा में दो दिवसीय कृषि यांत्रिकरण मेला का आयोजन किया गया। इसके तहत किसानों को नवीनतम कृषि यंत्रों से अवगत कराया गया। साथ ही आवेदक किसानों को नए यंत्र प्रदान किए गए। कृषि यांत्रिकरण मेले में किसानों को 108 कृषि यंत्र के साथ 12 लाख वाले ट्रैक्टर पर 9 लाख 60 हजार की सब्सिडी मिली। इसके अतिरिक्त, किसानों को 5 लाख वाले कृषि यंत्रों पर 80% का अनुदान भी कृषि यंत्र मेले में मिला। आइए, इस पोस्ट की मदद से जानते हैं कि किसानों को इस कृषि मेले में क्या लाभ मिला।

New Holland Tractor

किसानों को उन्नत कृषि के बारे में बताया गया

दरभंगा में आयोजित इस दो दिवसीय कृषि मेले में राज्य के किसानों को राजेन्द्र कृषि विश्वविद्यालय पूसा व कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकों द्वारा उन्नत खेती, कृषि में आधुनिक तकनीक का प्रयोग, फसल चक्र, उन्नत बीज, मृदा स्वास्थ्य कार्ड, बीज की गुणवत्ता जांच के लाभ, जैविक खेती के लाभ के बारे में बताया गया। किसानों को अवगत कराया गया कि उन्नत कृषि अपनाकर हरियाणा व पंजाब के किसान कृषि को अपना आधार बना चुके हैं। दो दिवसीय कृषि यांत्रिकरण मेले में किसानों को संबोधित करते हुए अपर समाहर्ता (अतिरिक्त कलक्टर) ने बताया कि प्रथम चरण के आवेदकों का चयन कर उनके यंत्रों को परमिट निर्गत कर दिया गया है। आगामी दिनों में कृषि यंत्रों के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू होगी। इसके साथ ही, जिला परिषद अध्यक्ष ने कृषि यांत्रिकरण मेला को किसानों के लिए लाभप्रद बताया और कहा कि इससे कृषि में उन्नति होगी। इस मेले में जिला परिषद उपाध्यक्ष एवं कृषि विभाग के पदाधिकारियों ने संबोधित किया। जिला परिषद अध्यक्ष रेणु देवी ने कहा, " कृषि मेले से किसानों को नवीनतम तकनीकों एवं  आधुनिक यंत्रों के लाभ का अनुभव होगा जो उन्हें आगे बढ़ने में सहायता करेगा।"

कृषि से संबंधित 108 प्रकार के उपकरण/औजार पर अनुदान

अपर समाहर्ता (अतिरिक्त कलक्टर) ने मेले में उपस्थित किसानों को संबोधित करते हुए बताया कि कृषि यांत्रिकरण मेले में कृषि से संबंधित 108 प्रकार के उपकरण/औजार पर अनुदान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा किसान स्कीम के तहत कृषि यंत्रों पर उपलब्ध अनुदान की जानकारी प्राप्त कर लाभ उठाएं। अपर समाहर्ता ने बताया कि आर्थिक रुप से कमजोर किसान जो उन्नत कृषि तकनीक से अनभिज्ञ है और इसका लाभ नहीं उठा पाए हैं, ऐसे सभी किसानों को इस मेले से लाभ होगा। किसानों ने बताया कि मेले में उन्हें 5 लाख 35 हजार रुपए वाली कृषि मशीन पर  2 लाख रुपए का अनुदान प्राप्त हुआ है। वह इस मशीन का उपयोग फसल की कटाई के लिए किया जाएगा। क्षेत्र के स्थानीय किसानों को भी फसल कटनी के लिए कम भाड़े पर मशीन मुहैया कराएंगे। इस मेले में किसान उत्पादक समूह के प्रतिनिधि धर्मेंद्र कुमार चौरसिया को सब्सिडी पर ट्रैक्टर प्रदान किया गया है।  सहायक निदेशक कृषि अभियंत्रण डॉ. आकांक्षा ने बताया कि किसान उत्पादक समूह को 80 प्रतिशत के अनुदान पर कृषि यंत्र उपलब्ध कराया जाता है, 12 लाख के ट्रैक्टर पर लगभग 9 लाख 60 हजार रुपए अनुदान शामिल है। कृषि यांत्रिकरण मेला में आवेदक किसान को रीपर कम बाइंडर की चाबी भी प्रदान की गई।

वित्तीय वर्ष 2023-24 हेतु 108 कृषि यंत्रों पर अनुदान देने का लक्ष्य

कृषि विभाग, बिहार सरकार द्वारा राज्य में कृषि यांत्रिकरण योजना के अतंर्गत वित्तीय वर्ष 2023-24 हेतु 108 प्रकार के कृषि यंत्रों पर अनुदान दिया जा रहा है। इसमें मैन्युअल कृषि यंत्र किट (खुरपी, कुदाल, विडर, दांतेदार हसिया ) आदि से लेकर फसल कटाई, बुआई एवं फसल अवशेषों के प्रबंधन के लिए उपयोगी कृषि यंत्रों पर किसानों को 40 प्रतिशत से लेकर 80 प्रतिशत तक अनुदान दिया जा रहा है। विभाग द्वारा यह अनुदान किसान वर्ग के अनुसार अलग-अलग तय किया गया है। इसमें अनुसूचित जाति / जनजाति / अत्यंत पिछड़ा वर्ग के आवेदक किसानों को अधिकतम 80 प्रतिशत तक अनुदान लाभ मिलता है। बता दें योजना के तहत अनुदानित कृषि यंत्रों को खरीदने के लिए पहले लाभार्थी किसान को कृषि विभाग के प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (डीबीटी) पर रजिस्ट्रेशन कराकर आईडी नबंर लेना होता है। वहीं, पोर्टल पर पंजीकृत किसान योजना में सीधे आवेदन कर सकते हैं। किसान भाई- बहन आईडी नंबर लेने के लिए सीएससी केंद्र या वसुंधरा केंद्र की मदद से अपने जरुरी सभी दस्तावेज के साथ प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (डीबीटी) पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। 

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors