ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

पैक हाउस : सरकार ने पैक हाउस बनाने के लिए दी मंजूरी, किसानों को होगा लाभ

पैक हाउस : सरकार ने पैक हाउस बनाने के लिए दी मंजूरी, किसानों को होगा लाभ
पोस्ट -29 जून 2023 शेयर पोस्ट

मिर्जापुर जनपद में बनेगा पैक हाउस, फल और सब्जी के निर्यात से किसानों की बढ़ेगी आय

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में बने पूर्वांचल के पहले स्वदेशी पैक हाउस से मुख्यमंत्री योगी द्वारा विदेशों में एक्सपोर्ट के लिए आम और हरी सब्जियों के कंटेनर्स को रवाना किया गया था। इस पैक हाउस से कृषि उत्पाद को विदेशों में एक्सपोर्ट किया जा रहा है, जिससे किसानों को बड़ा लाभ हो रहा है। ऐसे में अब मिर्जापुर जनपद में भी पैक हाउस बनाने के लिए योगी कैबिनेट द्वारा मंजूरी दे दी गई है। इससे मिर्जापुर और सोनभद्र के हजारों किसानों की आय में वृद्धि होगी। 

New Holland Tractor

उत्तर प्रदेश में किसानों को आत्मनिर्भर कर उनकी आय में वृद्धि करने के लिए मुख्यमंत्री आदित्य योगी नाथ की यूपी सरकार (Government of Uttar Pradesh) लगातार काम कर रही है। उत्तर प्रदेश के वाराणसी में मेक इन डंडिया के उपकरणों से लैस पैक हाउस का लोकार्पण प्रधानमंत्री मोदी द्वारा किया जा चुका है। पूर्वांचल के इस पहले स्वदेशी एकीकृत पैक हाउस से मुख्यमंत्री योगी द्वारा बनारसी लंगडा आम और हरी सब्जियों से भरे कंटेनर्स को दुबई के लिए रवाना किया गया है। केंद्र और यूपी सरकार के इस प्रयास से पूर्वांचल को काफी बड़ा फायदा हो रहा है। वहीं, इससे बिचौलियों की भूमिका भी खत्म होने से किसानों को एक्सपोर्ट का सीधा लाभ मिल रहा है, जिससे उनका मुनाफा बढ़ने के साथ आय में भी वृद्धि हुई है। 

दरअसल, यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने प्रदेश के किसानों की आय को दोगुना करने के अपने लक्ष्य को पूरा करने की दिशा में एक और बड़ा कदम बढ़ाया है। प्रदेश से फल और सब्जियों के निर्यात को बढ़ाने के लिए अब मिर्जापुर जनपद में भी पैक हाउस बनाने के प्रस्ताव को योगी कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है। इस पैक हाउस से मिर्जापुर और सोनभद्र के किसानों को बड़ा लाभ होगा। एक्सपोर्ट से बिचौलियों की भूमिका खत्म होने से अब फूड और वेजीटेबल के एक्सपोर्ट में तेजी आएगी, जिससे किसानों का आय में वृद्धि और मुनाफा बढ़ेगा।  

पूर्वांचल के साथ-साथ बिहार के किसानों को पहुंच रहा है लाभ

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में 15.78 करोड़ की लागत से 4461 वर्गफुट पर बने इंटीग्रेटेड पैक हाउस से फल और सब्जियों को विदेश में निर्यात की दिशा में तेजी आई है। पूर्वांचल के अलग अलग जिलों से फलों और सब्जियों की खेप को इस पैक हाउस से सीधे विदेशों में निर्यात किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री प्रताप शाही बताते हैं कि वाराणसी के पैक हाउस के संचालित होने के बाद प्रदेश ने आम और सब्जियों के निर्यात में नई ऊंचाइयों को छुआ है। इस इंटीग्रेटेड पैक हाउस से साल 2022 में 550 मीट्रिक टन सब्जियों और फलों के कंटेनर्स को विदेश भेजा गया जबकि, इस साल यह आंकड़ा अब तक 300 मीट्रिक टन पहुंच चुका है। पूर्वांचल के किसानों के साथ-साथ बिहार के किसानों की सब्जी और फल को विदेश में निर्यात किया जा रहा है, जिससे उत्तर प्रदेश में पूर्वांचल सब्जी एक्सपोर्ट से 10,000 से अधिक किसानों को लाभ पहुंच रहा है। किसानों को विकास के पथ पर आगे ले जाने के लिए सरकार अब जल्द ही मिर्जापुर जनपद में नए पैक हाउस का निर्माण कार्य शुरू करवाएगी। 

बिचौलियों की भूमिका खत्म होने से किसानों का बढ़ेगा मुनाफा

एक रिपोर्ट के मुताबिक, एपीडा के अधिकारियों का कहना है कि पूर्वांचल के किसानों की सब्जी और फलों को विदेशों में निर्यात करने के लिए वाराणसी के करखियाव में इंटीग्रेटेड पैक हाउस तैयार किया गया है। कृषि और खाद्य प्रसंस्कृत उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीडा) ने मंडी परिषद् की मदद से इस पैक हाउस का निर्माण करवाया गया है। उन्होंने बताया कि इस इंटीग्रेटेड पैक हाउस के शुरू होने से यहां काशी और पूर्वांचल सहित बिहार के निर्यातक किसानों को विश्व स्तरीय सुविधा प्रदान की जाएगी। इसके माध्यम से बिना किसी बिचौलिये के किसानों की फल और सब्जियों का निर्यात किया जाएगा। बिचौलियों की भूमिका खत्म होने से किसान निर्यातक बाजार से सीधा जुड़ सकेंगे, जिससे किसानों का मुनाफा बढ़ेगा। 

बनारसी लंगड़ा आम दुबई में हुआ है निर्यात

बनारस की सब्जी और फलों की डिमांड धीरे-धीरे विदेशों में होने लगी है। बनारसी लंगड़ा आम को जी आई टैग मिलने के बाद इसका निर्यात अब दुबई में भी किया जा रहा है। इससे पहले साल 2019 में लंदन, ऑस्ट्रेलिया सहित कई अन्य देशों में बनारसी लंगड़ा आम समेत कई प्रकार के फल, सब्जी और अनाजों का निर्यात किया जा चुका है। इसके अलावा, लखनऊ स्थित मैंगो एंड वेजीटेबल पैक हाउस से जापान ,ओमान को दशहरी आम का एक्सपोर्ट किया जा चुका है। 

पैक हाउस में मेक इन इंडिया उपकरणों का प्रयोग 

एपीडा के अधिकारियों का कहना है कि इस नवनिर्मित इंटीग्रेटेड पैक हाउस में मेक इन इंडिया उपकरणों का प्रयोग किया गया है, जो स्वदेशी और आत्म निर्भर भारत का संदेश देते हैं। इस पैक हाउस में वेपर हीट ट्रीमेंट यूनिट, हॉट वाटर ट्रीमेंट प्लांट मैंगो/फ्रूट प्रोसेसिंग, ग्रेडिंग व सॉर्टिंग लाइन, कोक्स रूप, प्री कोल्ड रूप, वेजिटेबल प्रोसेसिंग लाइन और राइपिनिंग रूम जैसे स्वेदशी उपकरणों को लगाया गया है। 

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर