ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार सामाजिक समाचार

सरसों का भाव में तेजी : जानें, किस मंडी में कितना मिल रहा है सरसों का भाव

सरसों का भाव में तेजी : जानें, किस मंडी में कितना मिल रहा है सरसों का भाव
पोस्ट -24 जनवरी 2023 शेयर पोस्ट

सरसों भाव में तेजी: देश की प्रमुख सरसों मंडियों में सरसों के ताजा भाव की जानकारी

सरसों भाव : बाजार में इन दिनों सरसों की डिमांड बढ़ती जा रही है, जिसके कारण देश की प्रमुख सरसों मंडियों में सरसों के भावों में तेजी का दौर बना हुआ है। मार्केट जानकारों के मुताबिक देश में तिलहन की बढ़ती मांग की वजह से तिलहन फसलों में प्रमुख सरसों के भावों में निरंतर तेजी देखी जा रही है। ऐसे में सरसों मंडियों में सरसों की अगेती फसल भी आना शुरू हो गई है। परंतु डिमांड के हिसाब से फिलहाल मंडियों में सरसों की पूर्ति नहीं हो पा रही है, जिसके कारण सरसों के भाव अभी आसमान छू रहे है। ऐसे में किसानों को बाजार में सरसों के तय एमएसपी से ऊंचे भाव मिल रहे हैं। सरसों की अगेती फसल लगाने वाले किसानों पर इस समय पैसा बरस रहा है। किसानों की सरसों से मोटी कमाई हो रही है। बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा इस वित्तीय सीजन के लिए सरसों का एमएसपी 5050 रुपए प्रति क्विंटल रखा गया। जबकि फिलहाल बाजार में अच्छी क्वालिटी के सरसों का भाव 6 हजार रुपए से लेकर 7 हजार रुपए तक किसानों को मिल रहा है। इस तरह किसानों को सरसों का शुरुआती भाव भी काफी अच्छा मिल रहा है। मार्केट जानकारों का कहना है कि इससे उम्मीद लगाई जा रही है आने वाले दिनों में भी बाजार में सरसों के भाव ऊंचे रह सकता है। अगर ऐसा होता है, तो सरसों किसानों के लिए यह काफी अच्छी खबर है, उन्हें सरसों की फसल से काफी लाभ होगा। आईए, ट्रैक्टर गुरु के इस लेख के माध्यम से जानते है कि देश की प्रमुख सरसों मंडियों में सरसों का क्या भाव चल रहा है और आने वाले दिनों में इन मंडियों में सरसों का क्या भाव रहेगा।  

New Holland Tractor

बाजार में किसानों को सरसों के अच्छे भाव मिलने का कारण 

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, अब बाजार में सरसों की अगेती फसल आना शुरु हो चुकी है। लेकिन सरसों की अगेती फसल डिमांड से भी कम मात्रा में बाजार में पहुंच रही है। इससे भी सरसों के भाव किसानों को अच्छे मिल रहे हैं। रिपोर्ट के अनुसार पिछले सीजन के मुकाबले इस सीजन देश में सरसों के प्रमुख उत्पादक राज्यों में किसानों ने ज्यादा रकबे में इसकी बुवाई की है, इससे उम्मीद लगाई जा रही है कि पिछले सीजन के मुकाबले इस सीजन 7 से 8 प्रतिशत सरसों का उत्पादन अधिक होगा। लेकिन मार्केट में सरसों तेल की तेजी से बढ़ती डिमांड के देखते हुए सरसों व्यापारी किसानों को मोटी रकम देकर सरसों का स्टॉक कर रहे है। जिस कारण बाजार में अगेती आवक आने पर भी सरसों के भाव ऊंचे बने हुए है। लेकिन जब बाजार में सरसों की पूर्ण आवक शुरू हो जाएगी, तो सरसों के रेट को लेकर सही स्थिति का पता चलेगा। अभी फिलहाल जो रेट बाजार में चल रहा है उससे तो यही उम्मीद लगाई जा रही है कि आने वाले समय में भी बाजारों में सरसों का रेट ऊंचा ही रहेगा। हालांकि, सरसों की पूरी खेप मंडियों में आने से इसके भावों में थोड़ा बहुत ऊपर-नीचे हो सकता है। 

प्रमुख मंडियों में अभी सरसों के चल रहे भाव

मीडिया रिपोर्टस के मुताबकि, देश की विभिन्न प्रमुख सरसों मंडियों में इस समय सरसों का भाव 6 हजार से लेकर 7 हजार रुपए के बीच चल रहा है। सरसों के आवक के हिसाब से इन प्रमुख सरसों मंडियों में सरसों के भाव ऊपर-नीचे बने रहते है। नीचे विभिन्न सरसों मंडियें के भाव दिखाए जा रहे है, जो इस प्रकार है।

राजस्थान की प्रमुख सरसों मंडियों में सरसों के भाव

  • जयपुर मंडी में 6020 रुपए प्रति क्विंटल सरसों का किसानों को मिल रहा है। 
  • गंगानगर मंडी में इस समय किसानों को 6030 रुपए प्रति क्विंटल के आसपास सरसों का भाव मिल रहा है। 
  • मेड़ता सिटी पीली सरसों के भाव 6120 रुपए प्रति क्विंटल किसानों को मिल रहा है। 
  • जोधपुर मंडी में सरसों का रेट 5990 रुपए प्रति क्विंटल के आसपास चल रहा है।

उत्तर प्रदेश की प्रमुख सरसों मंडियों में सरसों के चल रहे भाव

  • मेरठ मंडी में इस वक्त 5940 रुपए प्रति क्विंटल तक का रेट सरसों का चल रहा हैं।
  • मैनपुरी मंडी में सरसों का रेट अभी 6010 रुपए प्रति क्विंटल तक किसानों को मिल रहा है। 
  • बरेली मंडी में सरसों के रेट 6020 रुपए प्रति क्विंटल के आसपास चल रहा हैं।
  • ललितपुर मंडी में 6050 रुपए प्रति क्विंटल सरसों का भाव चल रहा हैं।
  • इटावा मंडी में इस वक्त 6000 रुपए प्रति क्विंटल भाव चल रहा हैं।

मध्यप्रदेश की प्रमुख सरसों मंडियों में सरसों के भाव

  • काला कैलारस में सरसों का भाव 5800 रुपए प्रति क्विंटल चल रहा है।
  • बतूल मंडी में 5910 रुपए प्रति क्विंटल तक सरसों का भाव किसानों को मिल रहा है।

बिहार चंपारण में 8160 रुपए प्रति क्विंटल, मुंबई मंडी मार्केट में 7000 रुपए प्रति क्विंटल, गुजरात के राजकोट में 5200 रुपए प्रति क्विंटल तक सरसों का भाव चल रहा है। ऊपर दिए गए सरसों के भाव उच्चतम भाव है, जो अलग-अलग मंडियों में प्रतिदिन बदलते रहते हैं। इसलिए आप अपनी उपज बेचने से पहले अपने स्थानीय मंडी में उपज के भावों जानकारी जरूर पता कर लें।

सरसों का उत्पादन करने वाले प्रमुख राज्य 

देश में सरसों की खेती राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और मध्य प्रदेश जैसे कुछ चुनिंदा राज्य में ही होती है। ये चुनिंदा राज्य ही प्रमुखता से सरसों का उत्पादन करते है। जिनमें सरसों उत्पादक में राजस्थान का स्थान प्रथम हैं, जो कुल सरसों उत्पादन में 46.06 प्रतिशत की हिस्सेदारी करता है। वहीं, हरियाणा 12.60 प्रतिशत, मध्य प्रदेश 11.38 प्रतिशत, उत्तरप्रदेश 10.49 प्रतिशत और पश्चिम बंगाल 7.81 प्रतिशत भागीदारी के साथ क्रमशः द्वितीय, तृतीय, चतुर्थ और पंचम स्थान पर भागीदारी करता है। 

मार्केटिंग सीजन 2023-24 के लिए निर्धारित सरसों एमएसपी

रबी मार्केटिंग सीजन 2023-24 के लिए सरकार द्वारा सरसों का एमएसपी 5450 रुपए प्रति क्विंटल तय किया गया है। जिसमें पिछले साल की तुलना में 400 रुपए प्रति क्विंटल की बढ़ोत्तरी की गई है। हांलाकि, अभी देश की प्रमुख सरसों मंडियों में काली सरसों का भाव 6000 से लेकर 7000 रुपए के बीच चल रहा है। पिछले साल रबी मार्केटिंग सीजन 2022-23 के लिए सरसों का एमएसपी 5050 रुपए प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया था। 

देश में सरसों की बंपर पैदावार होने की उम्मीद

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अगर मौसम सही रहा तो इस सीजन देश में सरसों की बंपर पैदावार हो की उम्मीद है। क्योंकि पिछले सीजन के मुकाबले इस सीजन किसानों ने अधिक क्षेत्रफल में सरसों की फसल लगाई है। सरकार द्वारा जारी आँकड़ों मे अनुसार इस बार सरसों फसलों रकबा बढ़ा है। इस सीजन 10 मिलियन हेक्टेयर में सरसों की बुवाई किसानों द्वारा की गई है। अखिल भारतीय खाद्य तेल व्यापारी महासंघ ने रिकॉर्ड बुवाई और अच्छी फसल को देखते हुए 130 लाख टन सरसों उत्पादन का अनुमान लगाया हैं। वहीं, पिछले साल देश में 117.46 लाख टन सरसों का उत्पादन हुआ था। देश में सरसों का रकबा बढ़ने का मुख्य कारण विभिन्न सरकारी योजनाओं को माना जा रहा है। जिनके माध्यम से किसानों को उन्नत किस्मों के बीज वितरित किए गए हैं। 

 

ट्रैक्टरगुरु आपको अपडेट रखने के लिए हर माह महिंद्रा ट्रैक्टर व कुबोटा ट्रैक्टर कंपनियों सहित अन्य ट्रैक्टर कंपनियों की मासिक सेल्स रिपोर्ट प्रकाशित करता है। ट्रैक्टर्स सेल्स रिपोर्ट में ट्रैक्टर की थोक व खुदरा बिक्री की राज्यवार, जिलेवार, एचपी के अनुसार जानकारी दी जाती है। साथ ही ट्रैक्टरगुरु आपको सेल्स रिपोर्ट की मासिक सदस्यता भी प्रदान करता है। अगर आप मासिक सदस्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors