सरकारी योजना समाचार ट्रैक्टर समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

मौसम रिपोर्ट : पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी, देश के इन राज्यों में ठंड ने दी दस्तक

मौसम रिपोर्ट : पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी, देश के इन राज्यों में ठंड ने दी दस्तक
पोस्ट - November 14, 2022 शेयर पोस्ट

उत्तर भारत में दिखने लागा ठंड का असर, अगले 24 घंटों के दौरान हल्की से भारी बारिश होने का पूर्वानुमान

भारत के पहाड़ी क्षेत्र के राज्यों में हो रही बर्फबारी एवं दक्षिण के मैदानी क्षेत्र के  राज्यों बारिश का असर अब उत्तर और मध्य भारत में दिखने लगा हैं। जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में हो रही बर्फबारी के कारण उत्तर और मध्य भारत में ठंड ने दस्तक दे दी है। निजी वेदर एजेंसी स्काईमेट के मौसम वैज्ञानिकों की रिपोर्ट् के अनुसार उत्तरकाशी, चमोली ,बागेश्वर, पिथौरागढ़ और रुद्रप्रयाग के ऊंचाई वाले इलाकों में कहीं-कहीं हल्की बारिश के साथ ही बर्फबारी के बाद मैदानी इलाकों में गुलाबी ठंड का एहसास होने लगा है। मौसम एजेंसी का कहना है कि वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के कारण उत्तर भारत के हिमालयी इलाकों में बारिश के साथ बर्फबारी होने के कारण तापमान में गिरावट दर्ज किया गया है। जिस वजह से मध्य प्रदेश में उत्तर भारत से आने वाली हवाओं का असर दिखने लगा है। यहा तापमान में भी हल्की गिरावट दर्ज की गई है। वहीं, उत्तर प्रदेश में ठंड की शुरूआत हो चुकी है। राजधानी दिल्ली सहित बिहार में भी ठंड ने दस्तक दे दी है। सुबह शाम हल्की ठंड का एहसास भी होने लगा है। मौसम विभाग की मानें तो अगले दो दिनों में सूबे में ठंड और ज्यादा बढ़ सकती है। कई इलाकों में तापमान 16 डिग्री सेल्सियस तक भी पहुंचने के आसार हैं। मौसम विभाग ने आशंका व्यक्त की है कि आने वाले दिनों में अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, केरल के कुछ हिस्सों और लक्षद्वीप में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक या दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।

New Holland Tractor

वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के कारण देश भर में बने मौसमी सिस्टम

मौसम विभाग ने आशंका व्यक्त की है कि आने वाले दिनों में दक्षिण-पूर्व अरब सागर और लक्षद्वीप के आसपास के क्षेत्रों पर कम दबाव का क्षेत्र अब कमजोर हो गया है। जिस वजह से संबंधित चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र अभी भी बना हुआ है। वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के कारण एक ट्रफ रेखा दक्षिण-पूर्व अरब सागर के ऊपर बने हुए चक्रवाती परिसंचरण से बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पश्चिम तक फैली हुई है। पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी पाकिस्तान और इससे सटे जम्मू-कश्मीर पर बना हुआ है। प्रेरित चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र मध्य पाकिस्तान और आसपास के क्षेत्रों पर बना हुआ है। एक कम दबाव का क्षेत्र 16 नवंबर के आसपास हमारे दक्षिणपूर्व बंगाल की खाड़ी और आसपास के क्षेत्रों को विकसित होने की संभावना है।

इन राज्यों में हो सकती है हल्की से मध्यम बारिश

मौसम विभाग ने मौसम की पूर्वानुमान देते हुए आशंका व्यक्त की है कि आनें वाले दिनों में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण तमिलनाडु, दक्षिण आंध्र प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है और कर्नाटक में एक या दो जगहों पर हल्की बारिश हो सकती है। वहीं, रिपोर्ट की मानें, तो गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद, जम्मू कश्मीर, लद्दाख और हिमाचल प्रदेश में कुछ स्थानों पर और उत्तराखंड में एक या दो स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी की आशंका व्यक्त की है। इसके अलावा पंजाब उत्तरी राजस्थान और हरियाणा में एक-दो जगहों पर हल्की बारिश देने को मिल सकती है। 

इन राज्यों में दिखने लगा ठंड का असर

मौसम एजेंसी की ताजा रिपोर्ट के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण तमिलनाडु, कर्नाटक के कुछ हिस्सों, केरल, रायलसीमा और लक्षद्वीप में हल्की से मध्यम बारिश हुई। जम्मू कश्मीर में हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी हुई। वहीं,  हिमाचल प्रदेश में छिटपुट हिमपात के साथ हल्की बारिश हुई। उत्तरी पंजाब और उत्तर पश्चिमी राजस्थान में छिटपुट बारिश हुई। रिपोर्ट की मानें तो पहाड़ों में हो रही बर्फबारी और बारिश का असर राजधानी दिल्ली सहित उत्तर प्रदेश, बिहार, हरियाणा, राजस्थान और मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की ठंड का असर देखने को मिल रहा है। मौसम एजेंसी का कहना है कि आनें वाले दिनों में बारिश और बर्फबारी के चलते देश के कई हिस्सों में तापमान में गिरावट आएंगी। जिसके चलते तेजी से ठंड बढ़ने की संभावना है। इसके अलावा मंडी, कुल्लू, शिमला, सोलन, चंबा, हमीरपुर, बिलासपुर, ऊना और कांगड़ा में बारिश की संभावना जाहिर की गई है. तो वहीं 15 नवंबर के बाद से पूरे राज्य में मौसम साफ बना रहेगा।

ठंड बढ़ने की संभावना  

मौसम विभाग के अनुसार वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के कारण से पहाड़ी राज्यों में हो रही बर्फबारी से मैदानी इलाकों में ठंड बढ़ने की संभावना है। उत्तर भारत में भी मौसम बदल रहा है। मौसम विभाग का कहना है कि उत्तर भारत के हिमालयी इलाकों में बारिश के साथ बर्फबारी होने से उत्तर भारत के बिहार, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में ठंड के साथ कोहरा भी दिख रहा हैं। पहाडी राज्यों में हो रही बर्फबारी का असर राजधानी दिल्ली में दिखने लगा है। यहां तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। इसी के साथ आने वाले कुछ दिनों में न्यूनतम तापमान 12 से 13 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। दिल्ली के आस-पास के इलाकों में से नोएडा (उत्तर प्रदेश) में भी हल्की ठंड का अहसास होने लगा है। सप्ताह के अंत तक राज्य में न्यूनतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस के आस पास रहने की संभावना है, जिससे साफ है कि महज चंद दिनों में पूरे राज्य में ठंड का अहसास होने लगेगा।

कृषि वैज्ञानिकों ने किसानों के लिए जारी किया अलर्ट 

मौसम विभाग ने आशंका व्यक्त की है कि आने वाले दिनों में उत्तर प्रदेश में ठंड बढ़ सकती है। उत्तर प्रदेश में अगले दो दिनों में सूबे में ठंड और ज्यादा बढ़ सकती है। प्रदेश के कई इलाकों में तापमान 16 डिग्री सेल्सियस तक भी पहुंचने के आसार हैं। इसकी को लेकर  कृषि वैज्ञानिकों ने राज्य के किसानों के लिए अलर्ट जारी किया है। राज्य में बढ़ती ठंड के चलते पडने वाले पाले की संभावना को देखते हुए कृषि वैज्ञानिकों ने किसानों को कुछ जरूरी सावधानियों को बरतनें को कहा। इसके साथ ही राज्य में 15 नवंबर के बाद तापमान में और गिरावट देखने को मिल सकती है। अगले 24 घंटों के दौरान राज्य में बादल छाने के साथ हल्की बूंदाबांदी हो सकती है।

ट्रैक्टरगुरु आपको अपडेट रखने के लिए हर माह फार्मट्रैक ट्रैक्टर व स्वराज ट्रैक्टर कंपनियों सहित अन्य ट्रैक्टर कंपनियों की मासिक सेल्स रिपोर्ट प्रकाशित करता है। ट्रैक्टर्स सेल्स रिपोर्ट में ट्रैक्टर की थोक व खुदरा बिक्री की राज्यवार, जिलेवार, एचपी के अनुसार जानकारी दी जाती है। साथ ही ट्रैक्टरगुरु आपको सेल्स रिपोर्ट की मासिक सदस्यता भी प्रदान करता है। अगर आप मासिक सदस्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

ट्रैक्टर इंडस्ट्री से जुड़े सभी अपडेट जानने के लिए आप हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें - https://bit.ly/3yjB9Pm

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors