ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

Monsoon Update : केरल और पूर्वोत्तर राज्यों में मानसून की एंट्री, जानें मौसम पूर्वानुमान

Monsoon Update : केरल और पूर्वोत्तर राज्यों में मानसून की एंट्री, जानें मौसम पूर्वानुमान
पोस्ट -31 मई 2024 शेयर पोस्ट

Weather update : समय से पहले इन राज्यों में मानसून ने दी दस्तक, जानें मौसम पूर्वानुमान

IMD Monsoon Update : प्रचंड लू और भीषण गर्मी का कहर झेल रहे बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और राजस्थान को गुरुवार को भी राहत नहीं मिली। गर्मी के कारण इन प्रदेशों में तापमान इतना अधिक रहा कि कई लोगों की जान चली गई। गर्मी और हीटवेव के कारण इन राज्यों में लोगों की मौत होने की खबरें सामने आ रही हैं। भीषण गर्मी के कारण अब तक कुल 43 लोगों की मौत हो चुकी है।  बिहार में 20, ओडिशा में 10, झारखंड में 5 और राजस्थान राज्य में 5 लोगों की जान गर्मी के कारण चली गई। हालांकि, तपती गर्मी के बीच लोगों के लिए राहत भरी खबर आई है। दक्षिणी-पश्चिमी मानसून ने समय से 2 दिन पहले केरल और पूर्वोत्तर राज्यों में एक साथ दस्तक दे दी है। भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने कहा कि अगले 4 से 5 दिनों में पूर्वोत्तर में भारी बारिश होगी। इसके कारण उत्तर-पश्चिम भारत और मध्य भारत में लू का प्रकोप कम होगा, जिससे लोगों को राहत मिलेगी।

New Holland Tractor

आईएमडी के मुताबिक अगले 24 घंटों के दौरान दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल बनी हुई है। इधर, मौसम केंद्र जयपुर के राजस्थान में 25 जून के आसपास मानसून की एंट्री होने की भविष्यवाणी मौसम पूर्वानुमान में दी गई। हालांकि, 1 जून से प्रदेश में हीटवेव का दौर कुछ थम सकता है। मौसम विभाग के अनुसार 31 मई से राज्य के 11 जिलों में तेज आंधी के साथ हल्की बारिश की संभावना है।

मानसून ने केरल में ली एंट्री

मौसम विज्ञान विभाग ने औपचारिक तौर पर दक्षिण-पश्चिम मानसून के केरल पहुंचने की पुष्टि कर दी है। वैसे तो मानसून एक जून को केरल पहुंचता है पर इस साल अपने तय समय से 2 दिन पहले ही मानसून ने केरल में एंट्री ले ली है, जबकि पूर्वोत्तर के 7 राज्यों त्रिपुरा, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश तथा असम को भी मानसून ने पूरी तरह से कवर कर लिया है। वैसे तो आमतौर पर इन राज्यों में पांच जून तक मानसून आता है, लेकिन समय से 6 दिन पहले ही पूर्वोत्तर राज्यों में मानसून प्रवेश कर लिया है। मौसम विज्ञान विभाग ने कहा है कि दक्षिण-पश्चिम मानसून 30 मई, 2024 को केरल पहुंच गया है। यह पूर्वोत्तर भारत के अधिकांश क्षेत्रों को कवर कर आगे बढ़ गया है। केरल के विभिन्न हिस्सों में मानसून के आगमन पर भारी वर्षा हो रही है और तेज हवाएं चल रही हैं। वहीं, मौसम विभाग का अनुमान है कि बिहार, महाराष्ट्र में 10 जून, तेलंगाना, गुजरात, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड एवं उत्तर प्रदेश में 15 से 20 जून के बीच मानसून पहुंच सकता है। आइएमडी के मुताबिक़, मानसून की अभी उत्तरी सीमा अमिनी, कन्नूर, कोयंबटूर, कन्याकुमारी, अगरतला और धुबरी में है।

अगले 24 घंटों के दौरान इन हिस्सों में बारिश संभव

वेदर एजेंसी स्काई मेट के मौसम पूर्वानुमान रिपोर्ट के अनुसार, अगले दो दिनों के दौरान मध्य अरब सागर के कुछ और हिस्सों, दक्षिण अरब सागर के शेष हिस्सों, लक्षद्वीप और केरल के कुछ हिस्सों में मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हो रही हैं। उत्तर-पूर्व असम और आसपास के क्षेत्रों पर चक्रवाती परिसंचरण औसत समुद्र तल से 3.1 किलोमीटर ऊपर तक फैला हुआ है। पश्चिमी विक्षोभ को जम्मू और आसपास के क्षेत्रों पर चक्रवाती परिसंचरण के रूप में देखा जा रहा है। उत्तर-पश्चिम उत्तर प्रदेश पर 1.5 किलोमीटर तक एक चक्रवाती परिसंचरण फैला हुआ है। इसके प्रभाव से अगले 24 घंटे के दौरान लक्षद्वीप, केरल, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, सिक्किम, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर भारत में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश संभव है।

लू से लेकर भीषण लू की स्थिति का पूर्वानुमान

रिपोर्ट के अनुसार, तटीय और दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक, पूर्वोत्तर बिहार, ओडिशा, झारखंड, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु और पश्चिमी हिमालय में अलगे 24 घंटों के दौरान हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। अगले दो दिनों के बीच उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और राजस्थान में गरज के साथ बारिश के साथ धूल भरी आंधी चल सकती है। विदर्भ, छत्तीसगढ़ और कोंकण और गोवा में छिटपुट हल्की बारिश संभव है। 31 मई और 01 जून को उत्तर और पश्चिमी राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, झारखंड, बिहार और ओडिशा के कुछ हिस्सों में लू से लेकर भीषण लू की स्थिति बन सकती है और उसके बाद इसमें कमी आ सकती है।

राजस्थान में 25 जून तक एंट्री कर सकता है मानसून 

मौसम विज्ञान विभाग IMD  के मुताबिक़ दक्षिण-पश्चिम मानसून केरल में समय से तीन दिन पहले प्रवेश कर चुका है। राजस्थान में मानसून सामान्य तौर पर 25 जून को एंट्री करता है। संभावना है कि जून के आखिरी सप्ताह में राज्य में मानसून की एंट्री हो सकती है। हालांकि, इस बार राज्य में मानसून अच्छा रहने की उम्मीद है। कई स्थानों पर सामान्य और कई जगह सामान्य से ज्यादा बारिश का पूर्वानुमान है।

मौसम केंद्र जयपुर के अनुसार  राज्य में 1 जून से हीटवेव का दौर कुछ थम सकता है। अलगे 24 घंटों के दौरान पूर्वी राजस्थान के भरपुर, जयपुर संभागों में कही-कहीं पर तेज आंधी के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है। बारिश-आंधी का यह दौर 2 जून तक जारी रह सकता है। वहीं पश्चिमी राजस्थान में अगले 24 घंटों के दौरान मौसम शुष्क रहने की संभावना है। 1 जून व 2 जून के दौरान पश्चिचमी राजस्थान के बीकानेर संभाग के कुछ हिस्सों में बारिश होने की संभावना है।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर