ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार सामाजिक समाचार

सुकन्या समृद्धि योजना : सरकार से बेटियों को 74 लाख रुपए मिलेंगे

सुकन्या समृद्धि योजना : सरकार से बेटियों को 74 लाख रुपए मिलेंगे
पोस्ट -19 दिसम्बर 2022 शेयर पोस्ट

सुकन्या समृद्धि योजना : बेटियों के सुनहरे भविष्य के लिए मात्र 250 रुपए के निवेश पर मिलेंगे 74 लाख रुपए

सुकन्या समृद्धि योजना - (Sukanya Samriddhi Yojana) ब्याज दर 2022 : देश में लड़कियों के अनुपात में सुधार करने और महिला शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से केंद्र एवं राज्य सरकारें कई प्रकार की योजनाएं चला रही है। इन योजना के तहत लड़कियों के अनुपात में सुधार लाना, लिंग निर्धारण व कन्या भूर्ण हत्या को रोकने के लिए माता-पिता को आर्थिक मदद भी दी जाती है। जिससें समाज में लड़कियों के साथ हो रहे भेद-भाव  को कम कर बेटियों के भविष्य को उज्जवल बनया जा सके। समाज में बेटियों के प्रति लोगो की नकारात्मक सोच को बदलकर बेटियों को शिक्षा की ओर बढ़ावा दिया जा सके। ऐसे में केंद्र सरकार की ओर से संचालित सुकन्या समृद्धि योजना भी एक है। बेटियों के भविष्य को उज्जवल एवं सुरक्षित बनाने के लिए इस योजना को बनाया गया है। सुकन्या समृद्धि योजना एक प्रकार की बचत खाता योजना है। सरकार इस योजना के तहत बेटियों के खुलवाए गए बचत खाते पर काफी मोटा ब्याज देती है और यह खाता टैक्स फ्री भी होता है। सुकन्या समृद्धि योजना में आप 250 रुपए की छोटी सी राशि निवेश कर बेटी के नाम से खाता खुलवा सकते हैं। और अपनी बेटी के भविष्य को उज्जवल एवं सुरक्षित बनाने सकते है। केन्द्र सरकार द्वारा आरंभ इस योजना के माध्यम से आपके द्वारा निवेश करके लगभग 74 लाख रुपए की एकमुश्त राशि बेटी की शिक्षा या फिर शादी के लिए व्यवस्था कर सकते है। इस प्रकार बेटियों के माता-पिता को उनकी परवरिश, शिक्षा एवं शादी की कोई चिंता भी नहीं होगी। हम आपको ट्रैक्टरगुरु के इस लेख के माध्यम से जानकारी देने जा रहे है कि कैसे आप इस योजना के तहत बेटी के नाम से खाता खुलवा कर सिर्फ 250 रूपए के निवेश से  आप लाख रूपए की व्यवस्था कर सकते हैं। 

New Holland Tractor

सुकन्या समृद्धि योजना 2022

भारत सरकार की ओर से बेटियों के भविष्य को सुरक्षित बनाने के लिए सुकन्या समृद्धि योजना का संचालन किया जा रहा हैं। इस योजना को ’बेटी बचाओं, बेटी पढ़ाओं अभियान के तहत लॉन्च किया था। यह एक प्रकार की विशेष बचत योजना है जिसे केवल बेटियों के सुरक्षित भविष्य के लिए बनाया गया। सुकन्या समृद्धि योजना से जुड़ने पर माता-पिता को अपनी बेटियों की शिक्षा से लेकर उनकी शादी तक के लिए खर्च उठाने में मदद मिलती है। सुकन्या समृद्धि खाता 250 रुपये के मिनिमम बैलेंस के साथ खोला जा सकता है। बता दें कि इससे पहले इसमें 1000 रुपये जमा करने पड़ते थे। साथ ही, किसी भी फाइनेंशियल ईयर में सुकन्या समृद्धि खाता में 1.5 लाख रुपए की अधिकतम राशि जमा करा सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि खाता खोलकर उठा सकते है लाभ

सुकन्या समृद्धि खाता योजना डाकघर की छोटी-छोटी बचत योजनाओं में से एक है।  इस बचत खाता योजना के तहत आप अपनी बेटी का भविष्य सुरक्षित कर सकते है। अगर आपकी बेटी की उम्र 10 साल से कम है, तो आप कभी भी सुकन्या समृद्धि खाता खुलवा सकते हैं। आप इस योजना के तहत एक बेटी के नाम पर एक ही सुकन्या समृद्धि खाता खोल सकते हैं और दो अलग-अलग बेटियों के नाम पर अधिकतम दो खाते खुलवा सकते हैं। कुछ विशेष परिस्थितियों में एक परिवार की तीन बेटियों का खाता खुलवाया जा सकता है। खाता किसी भी पोस्ट ऑफिस या फिर कमर्शियल ब्रांच की अधिकृत बैंक शाखा में खुलवाया जा सकता है। खाते पर 7.6 की उच्च दर पर वार्षिक ब्याज के अतिरिक्त आयकर में छूट भी देय है। सुकन्या समृद्धि खाते का संचालन बेटी की आयु 21 वर्ष की होने या फिर 18 वर्ष की आयु के बाद शादी होने तक किया जा सकता है। बेटी की उच्च शिक्षा के लिए 18 वर्ष की आयु के पश्चात 50 प्रतिशत तक की रकम की निकासी की जा सकती है। 

सुकन्या समृद्धि खाता योजना में मैच्योरिटी अवधि  

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए बेटी की 10 वर्ष की आयु होने से पहले अकाउंट खुलवाना होगा। सुकन्या समृद्धि खाता में माता-पिता को  खोलने की तारीख से लेकर 15 साल तक न्यूनतम राशि जमा करनी होती है। क्यों कि सुकन्या समृद्धि खाता योजना की मैच्योरिटी अवधि तब तक होता है जब तक कि बालिका की आयु 21 वर्ष नहीं हो जाती है या 18 वर्ष की आयु तक पहुंचने के बाद उसकी शादी नहीं हो जाती। 

सुकन्या समृद्धि खाता योजना 2022 में ब्याज दर

सुकन्या समृद्धि खाता योजना के तहत न्यूनतम जमा राशि 250 रूपये है तथा अधिकतम 1,50,000 रूपये है। इस निवेश से बेटी की उच्च शिक्षा या फिर शादी के खर्चे के लिए है। इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा निवेश पर 7.6 फीसदी की दर से ब्याज प्रदान किया जा रहा है जो आयकर छूट के साथ दिया जा रहा है। अगर माता-पिता इस योजना में 3000 रूपये प्रतिमाह निवेश करते हैं तो 14 साल के बाद 7.6 फीसदी वार्षिक कंपाउंडिंग पर 9,11,574 रूपये प्राप्त होंगे। 21 वर्ष बाद मैच्योरिटी पर यह राशि लगभग 15,22,221 रूपये होगी। 

सुकन्या समृद्धि खाता योजना के अंतर्गत मिल सकते है 74 लाख रुपए

सुकन्या समृद्धि खाता योजना के अंतर्गत यदि आप 12500 रुपए प्रतिमाह निवेश करते है, तो आपको कुल 150,000 रुपए का सालाना निवेश करना होगा। सुकन्या समृद्धि खाता पर सरकार अभी 8.5 प्रतिशत सालाना कंपाउंडिंग के हिसाब से ब्याज दे रही है। ऐसे में  15 साल के बाद 8.5 फीसदी वार्षिक कंपाउंडिग पर 74,96,270 लाख प्राप्त होंगे और 21 साल बाद मैच्योरिटी पर यह राशि लगलभग 75 लाख रुपए के आस- पास हो सकती है। इस निवेश पर इनकम टैक्स के सेक्शन 80 सी के तहत टैक्स छूट का भी फायदा दिया जाता है। 

पेनल्टी न चुकाने पर दिया जाता है 4 प्रतिशत ब्याज दर

सुकन्या समृद्धि खाता योजना के अंतर्गत खोले गए बचत खाते में हर साल न्यूनतम 250 रुपए का निवेश करना होता है। इस खातें में अधिकतम 1.50 लाख रुपए तक का निवेश सालाना कर सकते है। यह निवेश हर साल करना होता हैं। यदि किसी साल कम से कम 250 रूपये जमा नहीं किये जाते है, तो खाता बंद कर दिया जाता है। और यदि उस साल के लिए जमा की जाने वाली राशि के साथ प्रति वर्ष 50 रूपये पेनल्टी दिया जाये तो खाता दुबारा खोला जा सकता है। यदि पेनल्टी नहीं चुकाई गई तो सुकन्या समृद्धि योजना खाते पर सेविंग अकाउंट के बराबर ही ब्याज दर मिलेगा जो कि 4 प्रतिशत  है।

सुकन्या समृद्धि योजना की विशेषता

सुकन्या समृद्धि खाता में राशि को नकद, चेक या डिमांड ड्राफ्ट के जरिए जमा किया जा सकता है, आईपीपीबी खाताधारक ऑनलाइन भी इस खाते में पैसा जमा कर सकते है। खाते में राशि खोलने की तिथि से 21 वर्ष बाद अथवा बालिका के विवाह से पूर्व खाता बंद कर प्राप्त की जा सकती है, बेटी की उच्च शिक्षा के लिए भी खाते से 50 फीसदी की रकम निकाली जा सकती है। खाता खुलवाने के लिए बेटी का बर्थ सर्टिफिकेट के लिए चिकित्सा प्रमाण पत्र के साथ माता-पिता/अभिभावक का पहचान पत्र/आधार कार्ड भी देना होगा। 

इन अधिकृत बैंक शाखा में खुलवा सके है सुकन्या समृद्धि खाता

सुकन्या समृद्धि खाता योजना के तहत बैंक या पोस्ट ऑफिस में जाकर अभिभावक अपनी बेटी के लिए खाता खुलवा सकते है। खाता खोलने के लिए भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा अधिकृत कुल 28 बैंक हैं। जिनमें पोस्ट ऑफिस, इलाहाबाद बैंक, भारतीय स्टेट बैंक, ऐक्सिस बैंक, आंध्रा बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, बैंक ऑफ इंडिया, कॉर्पोरेशन बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, केनरा बैंक, देना बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, इंडियन ओवरसीज बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, आईडीबीआई बैंक, सिंडीकेट बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, यूको बैंक, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, विजय बैंक, पंजाब एंड सिंध बैंक और एचडीएफसी बैंक में खाता खुलवा सकते हैं।

ट्रैक्टरगुरु आपको अपडेट रखने के लिए हर माह सोनालिका ट्रैक्टर व महिंद्रा ट्रैक्टर कंपनियों सहित अन्य ट्रैक्टर कंपनियों की मासिक सेल्स रिपोर्ट प्रकाशित करता है। ट्रैक्टर्स सेल्स रिपोर्ट में ट्रैक्टर की थोक व खुदरा बिक्री की राज्यवार, जिलेवार, एचपी के अनुसार जानकारी दी जाती है। साथ ही ट्रैक्टरगुरु आपको सेल्स रिपोर्ट की मासिक सदस्यता भी प्रदान करता है। अगर आप मासिक सदस्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

अगर आप एसी ट्रैक्टर, 4WD ट्रैक्टर, ट्रैक्टर टायर, मिनी ट्रैक्टर खरीदना चाहते हैं तो आप हमसे संपर्क करे। इसके साथ ही आप ट्रैक्टर गुरु के लेटेस्ट एग्रीकल्चर न्यूज़, सरकारी न्यूज़, और ट्रैक्टर ऑन रोड प्राइस की जानकारी भी आसानी से प्राप्त कर सकते है।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors