ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

नए साल पर बड़ा तोहफा, सुकन्या समृद्धि और डाकघर एफडी दरों में बढ़ोतरी

नए साल पर बड़ा तोहफा, सुकन्या समृद्धि और डाकघर एफडी दरों में बढ़ोतरी
पोस्ट -02 जनवरी 2024 शेयर पोस्ट

Post office scheme : सरकार ने सुकन्या समृद्धि समेत डाकघर की इन योजनाओं पर बढ़ाया ब्याज

Sukanya Samriddhi Yojana scheme : भारत सरकार द्वारा किसानों सहित देश की आम जनता को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए कई प्रकार की वित्तीय सहायता योजनाएं चलाई जा रही है। इसमें आम नागिरकों और किसान परिवारों कई प्रकार की वित्तीय सहायता गारंटी योजना जैसे महिला सम्मान बचत पत्र, किसान विकास पत्र, सुकन्या समृद्धि योजना और बुढ़ापे में हर महीने एक मंथली इनकम के लिए नेशनल सेविंग्स मंथली इनकम जैसी डिपॉजिट योजना का संचालन डाक विभाग, संचार मंत्रालय भारत सरकार द्वारा किया जाता है। इस बीच नए साल के मौके पर भारत सरकार ने देश के किसानों और आम जनता को बहुत बड़ा तोहफा दिया है। सरकार ने जनवरी से मार्च 2024 तिमाही के लिए डाक घर की छोटी बचत योजनाओं (small savings schemes) की ब्याज दरों में संशोधन किया है।  31 मार्च, 2024 को समाप्त होने वाली तिमाही अवधि के लिए केंद्र सरकार ने सुकन्या समृद्धि एवं 3 वर्षीय पोस्ट ऑफिस एफडी दरों में 20 बेसिक पॉइंट तक बढ़ोतरी की है।  हालांकि,  सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ) पर ब्याज दरों में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है। संधोशधित नई दरें चालू वित्त वर्ष की चौथी तिमाही के लिए लागू होंगी।
 
सरकार तिमाही आधार पर प्रत्येक तिमाही के अंत करती है संशोधन
 
खास बात यह है कि भारत सरकार तिमाही आधार पर डाकघर की किसान विकास पत्र (केवीपी), सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ), मासिक आय योजना (एमआईएस) और वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (एससीएसएस) जैसी स्माल सेविंग डिपॉजिट योजनाओं पर लागू ब्याज दरों की समीक्षा कर प्रत्येक तिमाही के अंत में किसी भी संशोधन का ऐलान करती है। सरकार ने अपने पिछली घोषणा में  पांच वर्ष की आवर्ती जमा (RD) दरों में मामूली वृद्धि को छोड़कर अक्टूबर से दिसंबर तिमाही के लिए लघु बचत ब्याज दरों को स्थिर रखा था।
 
तीन वर्षिय टाइम डिपॉजिट में बढ़ोतरी

New Holland Tractor

बता दें कि केंद्र सरकार ने 3 वर्षीय टाइज डिपॉजिट पर दरों में भी बढ़ोतरी की गई है। इस अवधि की बचत के लिए ब्याज दर बढ़कर 7.1 प्रतिशत हो गई है, जो इससे पहले 7 प्रतिशत थी। हालांकि,  पीपीएफ या सार्वजनिक भविष्य निधि फंड की ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया गया है। इसमें अप्रैल-जून 2020 में इसे परिवर्तित किया गया था। इस दौरान इसे 7.9 प्रतिशत से घटाकर 7.1 प्रतिशत कर दिया गया था। इससे पहले पीपीएफ या पब्लिक प्रोविडेंट फंड की ब्याज दर में जुलाई-सितंबर 2019 में कटौती की गई थी। सीनियर सिटीन सेविंग स्कीम (एससीएसएस) पर लगातार दो तिमाहियों में वृद्धि के बाद, जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए ब्याज दर को 8.2 प्रतिशत पर स्थिर रखा गया था।  अप्रैल-जून अवधि में एससीएसएम की ब्याज दर 8 प्रतिशत से बढ़ाकर 8.2 प्रतिशत कर दी गई।  

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत जमा पर ब्याज दर
 
वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) की ओर से जारी सर्कुलर के मुताबिक, सुकन्या समृद्धि योजना के तहत जमा पर ब्याज दर मौजूदा 8 प्रतिशत से बढ़ाकर 8.2 प्रतिशत किया गया है। भारत सरकार द्वारा ’बेटी बचाओं, बेटी पढ़ाओं अभियान के तहत सुकन्या समृद्धि योजना की शुरूआत की गई थी। यह योजना पोस्ट ऑफिस की एक विशेष तरह की सेविंग डिपॉजिट योजना है। इसमें केवल बेटियों के सुरक्षित भविष्य के लिए सेविंग खाता खोला जाता है। यह खाता  250 रुपये के मिनिमम बैलेंस के साथ खोला जा सकता है। बता दें कि इससे पहले इसमें 1000 रुपये जमा करने पड़ते थे। साथ ही, किसी भी फाइनेंशियल ईयर में सुकन्या समृद्धि खाता में 1.5 लाख रुपए की अधिकतम राशि जमा करा सकते हैं।
 
सुकन्या समृद्धि योजना में 10 साल से कम उम्र की बेटियों का खाता खुलाव सकते हैं। इस योजना के तहत एक बेटी के नाम पर एक ही खाता खोल सकते हैं और दो अलग-अलग बेटियों के नाम पर अधिकतम दो खाते खुलवा सकते हैं। कुछ विशेष परिस्थितियों में एक परिवार की तीन बेटियों का खाता खुलवाया जा सकता है। खाता किसी भी पोस्ट ऑफिस या फिर कमर्शियल ब्रांच की अधिकृत बैंक शाखा में खुलवाया जा सकता है। खाते पर 7.6 की उच्च दर पर वार्षिक ब्याज के अतिरिक्त आयकर में छूट भी देय है। सुकन्या समृद्धि खाते का संचालन बेटी की आयु 21 वर्ष की होने या फिर 18 वर्ष की आयु के बाद शादी होने तक किया जा सकता है। बेटी की उच्च शिक्षा के लिए 18 वर्ष की आयु के पश्चात 50 प्रतिशत तक की रकम की निकासी की जा सकती है।
 
जनवरी-मार्च 2024 तिमाही के लिए संशोधित ब्याज दर
 
सरकार ने पीपीएफ (PPF) पर ब्याज दर 7.1 प्रतिशत और सेविंग डिपॉजिट पर ब्याज दर 4 प्रतिशत पर बरकरार रखी गई हैं। वहीं, एक साल की अवधि वाले पोस्ट ऑफिस सेविंग डिपॉजिट पर ब्याज दर 6.9 प्रतिशत की गई , जबिक 2 साल टाइम पीरियड वाले डिपॉजिट पर 7 प्रतिशत , 5 साल के सेविंग डिपॉजिट पर 7.5 प्रतिशत ब्याज कर दी गई है। वहीं, 5 साल के रेकरिंग डिपॉजिट (RD) पर ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। इसमें ब्याज दर 6.7 प्रतिशत बरकरार रखी गई है। किसान विकास पत्र (KVP) पर ब्याज दर 7.5 प्रतिशत  है।  इसकी मैच्योरिटी अवधि 115 माह है।  नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (NSC) पर ब्याज दर एक जनवरी से 31 मार्च 2024 के तिमाही के लिए 7.7 प्रतिशत पर यथावत रखी गई है। मासिक आय योजना (Post office Monthly income scheme) के लिए ब्याज दर में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है। इसमें निवेशकों को ब्याज दर 7.4 प्रतिशत ही मिलेगी। नई दरें 1 जनवरी 2024 से लागू होंगी। 

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors