ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

फसलों को कीटों से बचाने के लिए सरकार दे रही है 75 फीसदी सब्सिडी, यहाँ करें आवेदन

फसलों को कीटों से बचाने के लिए सरकार दे रही है 75 फीसदी सब्सिडी, यहाँ करें आवेदन
पोस्ट -18 जनवरी 2024 शेयर पोस्ट

फसलों पर दिख रहा है कीटों का प्रकोप, बचाने के लिए करें ये उपाय, सरकार से मिलेगी 75 प्रतिशत की सब्सिडी

Fish Farming :  कड़ाके ठंड और न्यूनतम तापमान में लगातार गिरावट के चलते रात में कोहरे के साथ पाला पड़ने डर किसानों को सता रहा है, तो दूसरी ओर दलहन, तिलहन फसलों के समेत अन्य फसलों में कीट लगाने की संभावना भी बनी हुई है। हालांकि कुछ किसानों का मानना है कि सर्दियों के मौसम में फसलों पर कीटों का प्रकोप नहीं दिखाई देता है यानी इन दिनों में फसलों में कीट नहीं लगते हैं। लेकिन तापमान में गिरावट के कारण इस समय फसलों में विभिन्न प्रकार के कीट और रोग प्रभाव देखा जा सकता है, जिससे फसलों को नुकसान पहुंचने की संभावना बन सकती है। ऐसे में किसान समय पर इन कीटों की पहचान करके उनका नियंत्रण कर फसलों में होने वाले नुकसान से बच सकते है। फसलों को कीटों से बचाने के लिए कीटनाशकों एवं उनके छिड़काव तक के इनपुट लागत पर सरकार किसानों को अनुदान देती है। इसी कड़ी में बिहार राज्य सरकार द्वारा फसलों को कीटों के प्रकोप से बचाने के लिए अनुदान दिया जा रहा है। फसलों की गुणवत्ता पर कीटनाशकों का बुरा असर नहीं पड़े इसके लिए राज्य सरकार फसलों में लाइट ट्रैप, फेरोमेन ट्रैप, स्टिकी ट्रैप, लाइफ लाइम ट्रैप लगाने पर किसानों को 75 प्रतिशत तक का अनुदान दे रही है। किसान फसलों में इन्हें लगाकर बिना किसी कीटनाशक छिड़काव के अपनी दलहनी, तिलहनी फसलों के साथ ही फल, सब्जी आदि फसलों का बचाव कीटों से कर सकते हैं। इससे फसलों की गुणवत्ता पर भी बुरा असर नहीं पड़ेगा।

New Holland Tractor

किसानों को कितना दिया जाएगा अनुदान

दलहन, तिलहन फसलों के साथ ही फल, सब्जी की फसलों का बचाव कीटों से किसान (Farmers) बिना किसी कीटनाश के इस्तेमाल के कर सकते हैं। बिहार सरकार किसान खेतों में लाइट ट्रैप लगाने के लिए 75 फीसदी तक सब्सिडी (Subsidy) दे रही है। किसान खेतों में लाइट ट्रैप, फेरोमोन ट्रैप, स्टिकी ट्रैप, लाइफ ट्रैप लगाकर कीटों से फसालों का बचाव कर सकते हैं। कृषि विभाग, बिहार सरकार के मुताबिक,  रैयत (जमीन वाले किसान) और गैर-रैयत (बटाईदार) किसान दोनों तरह के किसान इस योजना का लाभ ले सकते हैं। इस योजना के तहत एक किसान को अधिकतम एक एकड़ के लिए सब्सिडी (Subsidy) दी जाएगी, जबकि टाल क्षेत्र के लिए एक किसान को अधिकतम 3 एकड़ के लिए अनुदान देने का प्रावधान किया गया है।

किसानों को लाइट ट्रैप पर अनुदान के रुप में मिलेंगे इतने रुपए

कृषि विभाग के मुताबिक, दलहन, तिलहन और उद्यानिकी फसलों के लिए लाइट ट्रैप सेट एक सेट प्रति एकड़ मूल्य 1152 रुपए हैं, जिस पर किसानों को प्रति एकड़ दर से 864 रुपए या 75 प्रतिशत तक की राशि अनुदान के रुप में  दिए जाएंगे। शेष लागत किसान को स्वयं ही खर्च करनी होगी। दलहन, तिलहन और उद्यानिक फसलों के लिए फार्म गार्ड सेट (एक सेट प्रति एकड़) लागत 1700 रुपए है। इस पर योजना के तहत किसानों को 75 प्रतिशत यानी 1275 रुपए तक की राशि अनुदान के तौर पर मिलेंगे

अनुदान के लिए किसान यहां कर सकते हैं आवेदन

कृषि विभाग, बिहार सरकार द्वारा किसानों को दलहन, तिलहन और उद्यानिकी फसलों के खेतों में लाइट ट्रेप/फार्म गार्ड सेट पर प्रति एकड़ लागत पर 75 प्रतिशत तक का अनुदान दिया जा रहा है। सरकार ने योजना के तहत दलहन, तिलहन और खाद्यान्न फसलों के लिए फेरोमोन ट्रैप सेट (1 ट्रैप स्टैंड तथा 3 त्योर) 5 सेट प्रति एकड़ लागत का 75 प्रतिशत 450 रुपए, फल, सब्जी, दलहन और तिलहन के लिए स्टिकी ट्रैप पीला व नीला ए-4 साइज प्रति एकड़ 315 रुपए अनुदान मिलेंगे। वहीं, फल, सब्जियों के लिए लाइफ टाइम ट्रैप सेट (5 सेट) के लिए 750 रुपए अनुदान का प्रावधान है। इच्छुक किसान अनुदान के लाभ के लिए बिहार कृषि विभाग की आधिकारिक पोर्टल https://dbtagriculture.bihar.gov.in/  पर आवेदन कर सकते हैं। योजना से जुड़ी संबंधित जानकारी के लिए किसान अपने प्रखंड या जिले के कृषि भवन में संपर्क भी कर सकते हैं।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर