ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

पशुपालकों को बिना गारंटी के मिलेगा केसीसी लोन, यहाँ करें आवेदन

पशुपालकों को बिना गारंटी के मिलेगा केसीसी लोन, यहाँ करें आवेदन
पोस्ट -04 दिसम्बर 2023 शेयर पोस्ट

केसीसी लोन : सरकार बिना गारंटी के दे रही इतने लाख रुपए का केसीसी लोन, यहां करें संपर्क

Kisan Credit Card Apply Online : किसानों की आर्थिक स्थिति मजूबत करने एवं राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार सृजन करने के लिए राज्य सरकार कई तरह की योजनाएं संचालित कर रही है। इसके माध्यम से किसानों को एग्री सेक्टर में निवेश करने हेतु सरकार द्वारा सस्ते ब्याज दर पर लोन की सुविधा उपलब्ध करवाई जाती है। इस बीच उत्तर प्रदेश के किसानों के लिए खुशखरी है। राज्य सरकार प्रदेश में खेती-किसानी करने वाले किसानों की तर्ज पर अब पशुपालकों को भी केसीसी लोन लेने के लिए प्रेरित कर रही है। राज्य में अब पशुपालक भी पशुओं के भरण पोषण और उनकी अच्छी देखभाल के लिए बिना किसी दस्तावेज के केसीसी (किसान क्रेडिट कार्ड) लोन प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए पशुपालक के पास किसान क्रेडिट कार्ड होना अनिवार्य है। खास बात यह है कि अब प्रदेश सरकार राज्य में किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) उपलब्ध कराने जा रही है। इसके लिए पशुपालन विभाग द्वारा लक्ष्य तय किया गया है। जिसके तहत अब प्रदेश के पशुपालक भी पशुओं के लिए किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) बनवा सकेंगे। आइए जानते हैं केसीसी बनवाने के लिए पशुपालक को क्या करना होगा?

New Holland Tractor

किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने का लक्ष्य निर्धारित 

मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. अतुल कुमार अवस्थी ने बताया कि अब उत्तर प्रदेश में खेती-किसानी करने वाले किसानों की तर्ज पर पशुपालकों को भी पशुओं के भरण पोषण और उनकी अच्छे से देखभाल करने के लिए किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) जारी किया जाएगा। इसके लिए पशुपालन विभाग ने 11 हजार 712 पशुपालकों को किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) बनवाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। पशुपालकों को पशुचिकित्सक जागरूक कर केसीसी कार्ड बनवाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। मुख्य सतर्कता अधिकारी (सीवीओ) ने बताया कि पशुपालक केसीसी हेतु स्थानीय पशु चिकित्सालय से संपर्क कर आवेदन जमा करेंगे। उसमें पशु की संख्या के आधार पर लोन की राशि और उनकी नस्ल निर्धारित होगी।

बैंकर्स समिति के सत्यापन के बाद बन सकेगी केसीसी

सीवीओ ने बताया कि जिले में लगभग 8 लाख पशुओं की संख्या है, इनमें समस्त तरह के पशु शामिल हैं। छोटे पशु भेड़-बकरी से लेकर समस्त प्रकार के पशुओं के लिए किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card Apply) बनवाया जा सकता है। बैंकर्स समिति के सत्यापन के बाद केसीसी बन सकेगा। पशुओं के लिए बनने वाले किसान क्रेडिट कार्ड की धनराशि का प्रयोग पशुपालक अपने मवेशियों के भरण पोषण, उनके रहने के स्थान का निर्माण एवं उनके देखरेख और इलाज जैसे कार्यों के लिए खर्च कर सकेंगे। इस योजना के तहत केसीसी लेने के लिए अब 4879 पशुपालकों ने अप्लाई किया है, जिसमें से 3572 पशुपालकों काे विभिन्न बैंकों द्वारा केसीसी जारी भी किया जा चुका है और इनमें 2705 पशुपालकों को बैंकों द्वारा बिना गारंटी के केसीसी लोन भी उपलब्ध कराया जा चुका है। 

1.60 लाख रुपये का केसीसी लोन बिना किसी दस्तावेज (गारंटी) के मिलेगा

सीवीओ ने बताया कि प्रशासन जिले में पशुपालकों को केसीसी के लिए प्रेरित कर रही है। जिले में 1.60 लाख रुपए का केसीसी लोन कार्ड बनवाने के लिए पशुपालकों को किसी प्रकार का दस्तावेज (गारंटी) देने की कोई जरूरत नहीं है। इससे अधिक के लोन पर किसानों और पशुपालकों को पशुओं के अतिरिक्त जमीन या अन्य संपत्ति इत्यादि के दस्तावेज गारंटी के लिए देने होंगे। बैंकर्स समिति आवेदनों का सत्यापन करने के पश्चात ही केसीसी के लिए स्वीकृति देंगे। पशुपालकों को बैंकर्स समिति पशुओं की संख्या और उनकी मालियत ( वास्तविक कीमत) के आधार पर केसीसी जारी करेंगी।

चलाया जा रहा है केसीसी घर-घर अभियान 

बता दें कि, केंद्र सरकार द्वारा देश में किसानों को केसीसी योजना से जोड़ा जा रहा है। इसके लिए केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय की ओर से 31 दिसंबर 2023 तक केसीसी घर-घर अभियान भी चलाया जा रहा है। इसमें देशभर के पीएम किसान सम्मान निधि योजना के गैर-केसीसी धारकों के किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) बनाए जा रहे हैं। केसीसी घर-घर अभियान के तहत इस वर्ष लगभग 1.5 करोड़ और नए किसानों के केसीसी बनवाने का लक्ष्य जारी किया है। सरकारी रिपोर्ट्स की जानकारी के मुताबिक, देश में लगभग 7.35 करोड़ किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड दिया जा चुका है। केसीसी ऋण सेवाओं को आसानी से किसानों तक पहुंचाने के लिए हाल ही में केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, वित्तीय सेवा विभाग (DFS), पशुपालन और डेयरी विभाग (DAH&D), मत्स्य विभाग (DoF), भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) और  नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट (नाबार्ड) के सहयोग से किसान ऋण पोर्टल भी तैयार किया गया है। 

अपने किसी भी नजदीकी बैंक से बनवा सकते है केसीसी

किसान ऋण डिजिटल पोर्टल का उद्देश्य देश में सभी किसानों तक किसान क्रेडिट कार्ड के अतंर्गत उपलब्ध ऋण सेवाओं को पहुंचाना है। इस डिजिटल पोर्टल पर अब किसान क्रेडिट कार्ड लोन खाताधारकों से जुड़ी सभी जानकारियां व्यापक तौर पर उपलब्ध है। इसके अतिरिक्त समस्त केसीसी खाताधारकों का सत्यापन आधार कार्ड के माध्यम से किया जाता है। इससे पात्र किसानों तक कृषि ऋण पहुंचाने में सहायता प्राप्त होती है । साथ ही इंटरेस्ट सब्सेंशन दावों का भुगतान भी किसान ऋण पोर्टल के माध्यम से सीधे किसानों तक पहुंचाया जाता है। किसान केसीसी बनवाने के लिए अपने नजदीकी किसी भी बैंक समिति या वित्तीय संस्थान पर जाकर आवेदन जमा करा सकते हैं। बैंक शाखा या समिति द्वारा आवेदन का सत्यापन कर 14 से 15 दिनों में केसीसी स्वीकृत कर जारी कर दिया जाता है। किसान क्रेडिट कार्ड पर कार्डधारकों को महज 4% की वार्षिक ब्याज दर से 3 लाख रुपए का अल्पावधि एग्रीकल्चर ऋण उपलब्ध कराया जाता है। वैसे तो यह ऋण खाताधारकों को 9 प्रतिशत की वार्षिक ब्याज दर से दिया जाता है। हालांकि केंद्र सरकार इस ऋण पर खाताधारकों को 2 प्रतिशत की दर से ब्याज से अनुदान देती है और समय पर ऋण चुकाने पर ब्याज दरों में 3 प्रतिशत की अतिरिक्त राहत भी  प्रदान करती है। जिससे यह केसीसी ऋण मात्र 4 प्रतिशत की वार्षिक ब्याज दर किसानों को मिलता है।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर