ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

टॉप 3 एग्रीकल्चर बिजनेस: खेती के साथ करें ये व्यवसाय, होगी ज्यादा कमाई

टॉप 3 एग्रीकल्चर बिजनेस: खेती के साथ करें ये व्यवसाय, होगी ज्यादा कमाई
पोस्ट -16 जून 2023 शेयर पोस्ट

टॉप 3 एग्रीकल्चर बिजनेस से किसान बन सकते हैं अमीर, जानें कितना होगा मुनाफा

बिज़नेस करना ज्यादातर लोगों का सपना होता है। बिज़नेस किसी भी व्यक्ति को फाइनेंशियल इंडिपेंडेंट बनाने में सहायक होता है। लेकिन ज्यादा लागत की वजह से बहुत से लोग बिजनेस की शुरुआत नहीं कर पाते। बिजनेस की सही आइडिया और सही प्लानिंग न होने की वजह से भी बहुत से लोग बिज़नेस में नुकसान भी उठाते हैं। जबकि भारत जैसे कृषि प्रधान देश में बिजनेस की बहुत ज्यादा ऑपर्च्युनिटी एग्रीकल्चर सेक्टर में देखने को मिलती है। यही वजह है कि केंद्र सरकार एवं राज्य सरकारें कृषि से जुड़े उद्योगों, व्यापार को बढ़ावा दे रही है। कहा गया है कि बिजनेस में कृषि सबसे बड़ा भविष्य है, जिससे लाखों लोगों के सपने पूरे हाेते हैं। कृषि व्यापार में ज्यादातर उपभोक्ताओं की बेसिक जरूरतों को पूरा करता है। 

New Holland Tractor

ट्रैक्टर गुरु के इस पोस्ट में हम ऐसे तीन बिजनेस के बारे में जानकारी दे रहे हैं, जिसकी मांग कभी कम नहीं हो सकती और इस व्यापार से काफी अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है।

एग्रीकल्चर बिजनेस के फायदे

भारत में कृषि से जुड़े बिजनेस का बहुत ज्यादा स्कोप है और कृषि से जुड़े छोटे और बड़े सभी प्रकार के बिजनेस का स्कोप है। कृषि से जुड़े व्यापार में कच्चे माल की उपलब्धता आसानी से हो जाती है। देश के अलग अलग जगहों, मिट्टी आदि की खासियत की वजह से बहुत सारे ऐसे उत्पादों की पैदावार होती है, जो दुनिया में कहीं और मुश्किल से ही होती है। यही वजह है कि कृषि से जुड़े बिजनेस में काफी ज्यादा ऑपर्च्युनिटी होती है। आयात निर्यात, ट्रेडिंग, उत्पाद की ब्रांडिंग, जैविक खेती आदि करके इस व्यापार में अच्छे लेवल तक पहुंचा जा सकता है। 

टॉप 3 एग्रीकल्चर बिजनेस

दूध बेचने का बिजनेस

दूध एक सालभर मांग में रहने वाला उत्पाद है। गांव हो या शहर हर जगह इस बिजनेस को बड़ा फायदा होता है। गांव में इस व्यापार के लिए दूध की उपलब्धता पर्याप्त मात्रा में होती है। गांव से दूध की खरीदी, पैकेजिंग, ब्रांडिंग करके इसे शहर में महंगे रेट पर बेचा जा सकता है। अगर दूध की क्वालिटी पर ध्यान देते हुए अच्छी ब्रांडिंग करते हुए इसे शहरों में सप्लाई करें तो 60 से 70 रुपए लीटर दूध बेचा जा सकता है। अच्छी ब्रांडिंग और अच्छी प्रोडक्ट क्वालिटी होने पर उपभोक्ता दूध के ज्यादा रेट देते हैं और इसमें कस्टमर का भरोसा भी बना रहता है।

दूध के बिजनेस में मार्जिन भले थोड़ा सा कम हो लेकिन मांग बहुत होता है। इससे अच्छी कमाई की जा सकती है। सामान्यतः गांव से दूध की खरीदी थोक भाव में 40 से 45 रुपए लीटर की जा सकती है। इसे पैक कर 60 रुपए लीटर तक बेच कर अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है। अगर छोटे स्तर पर बिजनेस की शुरुआत की जाती है और 100 लीटर दूध का ही सप्लाई किया जाता है। तो प्रति लीटर 15 से 20 रुपए का शुद्ध बचत किया जा सकता है। इस तरह प्रति दिन 2000 रुपए का मुनाफा कमाया जा सकता है। इस तरह हर महीने 60 हजार रुपए की कमाई की जा सकती है। दूध के इस बिजनेस की और भी ख़ास बातें हैं जैसे इस व्यापार में पूरे दिन मेहनत की जरूरत नहीं होती है। लोग दूध की सप्लाई सुबह और शाम को ही चाहते हैं। इसलिए इसे जॉब के साथ भी छोटे स्तर पर शुरू किया जा सकता है।

मछली बिजनेस

कृषि में मछलीपालन एक मुनाफे का व्यापार है। किसान मछलीपालन के साथ जलीय खेती, सिंचाई जैसे काम भी कर सकते हैं। इससे किसानों को काफी फायदा और तिगुना तक मुनाफा हो सकता है। लेकिन मछलीपालन करने वाले किसानों के अलावा भी लोग इस व्यापार को कर सकते हैं। मछलीपालक किसानों से जुड़ कर उनसे मछलियों की खरीदी कर बाहर सप्लाई कर सकते हैं। इससे भी अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है। चूंकि फिश प्रोटीन और विटामिन का एक बेहतरीन स्रोत है, इसलिए लोग इसे खाने के लिए प्रमुखता से उपयोग में लाते हैं। फिश आउटलेट खोल कर मछलियों की बिक्री करने के अलावा आजकल सजावटी मछलियां भी काफी मांग में है। सजावटी मछलियां अच्छे रेट में बिकती है। इस तरह मछलियों का बिजनेस कर अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं।

शहद का बिजनेस

शहद का औषधीय उपयोग के अलावा इसे ऊर्जा का नेचुरल स्वीटनेस का स्रोत माना जाता है। भारत में शहद की मांग काफी ज्यादा है। बहुत कम ऐसे ब्रांड हैं जो नेचुरल और बिना मिलावट वाली शहद को बेचते हैं। ऐसे में जो किसान मधुमक्खी पालन का काम करते हैं, इस व्यापार को आसानी से कर सकते हैं। अपने उत्पादन की अच्छी पैकेजिंग, ब्रांडिंग और उसकी क्वालिटी पर ध्यान देकर इस बिजनेस में अच्छा कस्टमर बेस बना सकते हैं। जो लोग शहद बनाने के काम से नहीं जुड़े हैं, वे उन मधुमक्खी पालक किसानों से जुड़कर उनसे शुद्ध उत्पाद लेकर अच्छी ब्रांडिंग करते हुए शहद का व्यापार कर सकते हैं। इस व्यापार से अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है। सामान्यतः मार्केट में शहद का एक किलो का रेट 350 से 400 रुपए तक देखने को मिलता है। किसान से यही उत्पाद 150 से 200 रुपए तक खरीदा जा सकता है। अच्छी पैकेजिंग, ब्रांडिंग करके इसे 350 रुपए के रेट तक बिक्री कर सकते हैं। शुरुआत में इस व्यापार से कम आमदनी हो सकती है लेकिन जैसे जैसे ग्राहकों की संख्या बढ़ेगी। इस व्यापार से अच्छी कमाई होगी।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors