ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

मौसम अपडेट : कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट, चक्रवात के कारण इन राज्यों में बदलेगा मौसम

मौसम अपडेट : कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट, चक्रवात के कारण इन राज्यों में बदलेगा मौसम
पोस्ट -16 नवम्बर 2023 शेयर पोस्ट

चक्रवात के कारण कई राज्यों में भारी बारिश अलर्ट, छठपूजा से पहले इन इलाकों का बदलेगा मौसम

 IMD Weather Update : भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने मौसम अपडेट जारी किया है। इसमें मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि अगले 24 घंटों के दौरान तटीय आंध्र प्रदेश, तटीय ओडिशा,  गंगीय पश्चिम बंगाल और तटीय तमिलनाडु में मध्यम से भारी बारिश होने की संभावना है। दक्षिणी असम, केरल, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा और नागालैंड में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने अपने मौसम अपडेट में दी है। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और आंतरिक तमिलनाडु में अगले 24 घंटों के दौरान, हल्की / मध्यम बारिश के साथ एक या दो स्थानों पर भारी बारिश होने का पूर्वानुमान मौसम विभाग ने जारी किया है। वहीं, भारत मौसम विज्ञान विभाग यानी कि IMD के मुताबिक,  राजधानी दिल्ली और एनसीआर का एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) गंभीर से खतरनाक श्रेणी में रहेगा। इसमें किसी सुधार की गुंजाइश अभी नजर आती दिखाई नहीं दे रही है। दरअसल, दिल्ली और आस-पास के एनसीआर क्षेत्र के लोग बीते कई हफ्तों से वायु प्रदूषण से जूझ रहे हैं। दिल्ली और एनसीआर के कई इलाकों में बीते कई दिनों से हवा जहरीली बनी हुई है और एक्यूआई (वायु गुणवत्ता सूचकांक) गंभीर श्रेणी में दर्ज होता रहा है। हालत ये है कि लोगों को सांस लेने में भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। आईए, आईएमडी के मौसम अपडेट की मदद से जानें कि अगले 24 घंटों के दौरान देशभर में मौसम का मिजाज कैसा रहने वाला है।
 
अगले 24 घंटों के दौरान, ओडिशा और बंगाल में भारी बारिश
 
आईएमडी के मौसम अपडेट के मुताबिक, एक दबाव पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना हुआ है, जो अगले 24 घंटों के दौरान, उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ेगा और गहरे दबाव में बदल सकता है। बाद में यह दिशा बदल देगा और उत्तर-पूर्व दिशा में आगे बढ़ेगा। इसी प्रकार पश्चिमी विक्षोभ से दक्षिण तमिलनाडु तट पर चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है, जिसका असर मौसम पर देखा जा सकता है। पश्चिमी विक्षोभ के कारण मौजूदा समय में बंगाल की खाड़ी में दो साइक्लोनिक सर्कुलेशन (low-pressure area) बने हुए हैं। इन दोनों चक्रवाती सर्कुलेशन के कारण से ओडिशा और बंगाल में अधिक भारी बारिश की चेतावनी मौसम विज्ञान विभाग ने दी है। उक्त चक्रवाती गतिविधि को देखते हुए मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों के दौरान ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों के कुछ स्थानों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई है। इसके बाद बारिश में और वृद्धि होकर इन हिस्सों के कई इलाकों में भारी बारिश संभव है।
 
अगले दो दिनों के दौरान इन इलाकों में हल्की से मध्य और भारी बारिश
 

मौसम विज्ञान विभाग, अभी दोनों साइक्लोनिक सर्कुलेशन के प्रभाव को समझ रहे हैं कि आगे इसका असर मौसम पर कितना हो सकता है। दोनों चक्रवाती सर्कुलेशन की वजह से मौसम में बड़े बदलाव होने के संकेत मिल रहे हैं। पहले चक्रवाती सर्कुलेशन की वजह से पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी में एक एक्टिव लो प्रेशर एरिया बना हुआ है, जिसके पश्चिम-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है। अगले कुछ घंटों में इसके आंध्र प्रदेश के ऊपर एक गहरे दबाव में तब्दील होने की आंशका है। मौसम विभाग के अनुसार, दूसरा चक्रवाती प्रसार दक्षिण पश्चिम बंगाल की खाड़ी और उससे लगे श्रीलंका के ऊपर बना हुआ है। इस साइक्लोनिक सर्कुलेशन की वजह से निचले स्तरों पर लो प्रेशर एरिया बना हुआ है। इन कम दबाव के क्षेत्र से साइक्लोनिक सर्कुलेशन तक एक ट्रफ रेखा भी जा रही है। लेकिन इसके दबाव में तब्दील होने की कोई आशंका अभी नहीं है। मौसम विभाग ने अगले 48 घंटों के दौरान ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में भारी बारिश होने का पूर्वानुमान दिया है। वहीं, अगले 24 घंटों के दौरान ओडिशा के तटीय जिलों के कुछ इलाकों में बहुत भारी बारिश होने के संभावना है। इसको लेकर मौसम विभान ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। वहीं नागालैंड के अलग-अलग हिस्सों में भारी बारिश होने की आशंका है। मौसम विभाग के अनुसार, आज से 18 नवंबर यानी अगले 2 दिनों के दौरान मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में और 17 नवंबर को दक्षिण असम और पूर्वी मेघालय में हल्की से मध्यम बारिश संभव है।
 
छठ पूजा से पहले बदलेगा उत्तर प्रदेश का मौसम

New Holland Tractor

लखनऊ मौसम विज्ञान केंद्र की जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के मौसम में लगातार बदलाव देखने को मिल रहा है। लोगों को रात में हल्की ठंड का एहसास महसूस होने लगा है। मौसम केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार, बंगाल की खाड़ी में अगले 24 घंटे में निम्न दबाव का क्षेत्र बनने से उत्तर प्रदेश के मौसम में बड़े बदलाव होने की आशंका है। जानकारों की मानें तो छठ पूजा महापर्व से पहले उत्तर प्रदेश में कड़ाके की ठंड पड़ना शुरू हो जाएगी। वहीं प्रदेश के कई जनपदों में कोहरा छाना भी शुरू हो जाएगा। इस माह के अंत में कई जिलों का अधिकतम तापमान 22-23 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की आशंका है। राजधानी लखनऊ में न्यूनतम तापमान 15-16 डिग्री सेल्सियस रहेगा। मौसम वैज्ञानिक अतुल कुमार के अनुसार, 20 नवंबर तक पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मौसम शुष्क रहने वाला है और इस समय अवधि में पूर्वी उत्तर प्रदेश में भी मौसम शुष्क रहने की आशंका है।
 
किसानों को अलर्ट

लखनऊ मौसम वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह बताया कि फिलहाल यूपी के मौसम में ज्यादा बदलाव नहीं है। सुबह के समय थोड़ा बहुत कोहरा पड़ सकता है। इस साल राज्य में सर्दी सामान्य रहने वाली है। वहीं, मौसम की जानकारी को ध्यान में रखते हुए प्रदेश के कृषि विभाग ने किसानों को अलर्ट जारी किया है। इसमें कहा गया है कि किसान अपने खेतों में तैयार धान और अन्य फसलों की कटाई करें। कृषि विभाग ने सब्जी किसानों के लिए भी सलाह जारी की है जिसमें खड़ी फसलों की सुरक्षा के लिए सावधानी बरतने को कहा गया है।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर