ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

घना कोहरा : हरियाणा, दिल्ली एवं उत्तर प्रदेश समेत इन राज्यों में घना कोहरा रहने की संभावना, जानें मौसम अपडेट

घना कोहरा : हरियाणा, दिल्ली एवं उत्तर प्रदेश समेत इन राज्यों में घना कोहरा रहने की संभावना, जानें मौसम अपडेट
पोस्ट -27 दिसम्बर 2023 शेयर पोस्ट

देश के इन राज्यों में नहीं मिलेगी घने कोहरे से राहत, अगले 3-4 दिनों तक इन हिस्सों में भारी कोहरा रहने का अलर्ट 

IMD Weather Update : पहाड़ी इलाकों में चल रही बर्फबारी का असर अब मैदानी क्षेत्रों में देखने को मिल रहा है। कोहरे की घनी चादर ने भारत के उत्तरी मैदानी इलाकों पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर-पश्चिमी राजस्थान और उत्तर प्रदेश के हिस्सों को एक भयानक आवरण में ढक दिया है। घना कोहरा रहने के कारण यात्रा में बड़ी बाधा उत्पन्न हुई है, जिससे उड़ानें, ट्रेनें और सड़क यातायात प्रभावित हुआ है। हल्की हवाओं और कम तापमान के साथ-साथ उच्च आर्द्रता ने इस तीव्र कोहरे के गठन के लिए एकदम सही परिस्थितियां बनाई हैं। इस मौसम की घटना के पीछे का कारण पश्चिमी विक्षोभ है, जिसने पूरे क्षेत्र में नमी के स्तर को बढ़ा दिया है। 

New Holland Tractor

घना कोहरा रहने से विजिबिलिटी भी प्रभावित हुई, जिससे उड़ानों में देरी हो रही है या उन्हें रद्द कर दिया गया है और ट्रेनें धीमी गति से चल रही हैं। इस बीच भारत मौसम विज्ञान विभाग यानी आईएमडी ने मौसम को लेकर ताजा पूर्वानुमान जारी किया है। इस पूर्वानुमान रिपोर्ट में मौसम विभाग ने अगले 3-4 दिनों के बीच उत्तर पश्चिम और निकटवर्ती मध्य भारत के कुछ इलाकों में घना से बहुत घना कोहरा रहने का अलर्ट जारी किया है। लोगों को अभी घना कोहरे से छुटकारा मिलने वाला नहीं है। अगले तीन से चार दिनों के दौरान उत्तर पश्चिम और मध्य भारत के कुछ हिस्सों में घने कोहरे की चादर देखी जा सकती है, जिसके कारण दृश्यता काफी कम हो जाएगी, जिससे यात्रा खतरनाक हो गई है।

देश के इन हिस्सों में घना कोहरा रहने की संभावना

स्काईमेट वेदर के अनुसार, अगले 24 घंटों के दौरान पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान के कई हिस्सों में घना से बहुत घना कोहरा रहने की संभावना है। मध्य प्रदेश, बिहार, झारखंड, उड़ीसा और अरुणाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में मध्यम कोहरा रहेगा। वहीं, पूर्वोत्तर भारत और तटीय तमिलनाडु में अगले 24 घंटों के दौरान हल्की बारिश संभव है। आईएमडी ने कहा है कि बांग्लादेश और आसपास के इलाकों पर चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी ईरान और उससे सटे अफगानिस्तान के हिस्सों पर है। इसके चलते अगले 24 घंटो के दौरान ओडिशा, उत्तराखंड के अलग-अलग हिस्सों में घना कोहरा जारी रहने की संभावना है।  वहीं, 30 और 31 दिसंबर को हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली एवं उत्तर प्रदेश में घने कोहरे का प्रभाव रहेगा। वहीं आज से अगले 4 दिन यानी कि 31 दिसंबर के दौरान असम, मेघालय और नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम तथा त्रिपुरा में घना कोहरा  रहने की संभावना है।

उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत में हल्की छिटपुट बारिश की संभावना

मौसम विज्ञान केंद्र ने कहा है कि बांग्लादेश और आसपास के इलाकों पर चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। इसके चलते 30 दिसंबर तक एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ द्वारा उत्तर पश्चिम भारत को प्रभावित करने की संभावना है। जिसके प्रभाव और निचले स्तर की पूर्वी हवाओं के साथ इसके संपर्क के कारण, 30 दिसंबर से 02 जनवरी, 2024 के बीच उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत में आसपास के हिस्सों में हल्की छिटपुट बारिश होने की संभावना है। साथ अगले 5 दिनों के दौरान भारत के उत्तरी भागों में न्यूनतम तापमान में कोई महत्वपूर्ण बदलाव रहने की कोई संभावना नहीं है। 27 से 31 दिसंबर के दौरान पंजाब में सुबह के समय घने से बहुत घने कोहरे की संभावना है। वहीं, 27 से 29 दिसंबर के बीच हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और 28 को उत्तर प्रदेश और अगले 24 घंटों के दौरान उत्तरी राजस्थान और उत्तरी मध्य प्रदेश में घना कोहरा रहने की संभावना है।

इन राज्यों में न्यूनतम तापमान सामान्य से ऊपर

आईएमडी के अनुसार हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़, दिल्ली और पश्चिम यूपी के अधिकांश इलाकों में न्यूनतम तापमान  6 से 10 डिग्री सेल्सियस, राजस्थान, पूर्वी उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और उत्तर के कुछ हिस्सों में 11 से12 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया है। झारखंड और छत्तीसगढ़ में भी न्यूनतम तापमान समान स्थिति में रहा। विभाग ने कहा है कि पंजाब, दिल्ली, पश्चिम राजस्थान, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड के कुछ हिस्सों और गंगीय पश्चिम बंगाल, गुजरात और पूर्वोत्तर भारत के कई हिस्सों में तापमान सामान्य या सामान्य से 2-3 डिग्री सेल्सियस ऊपर बना हुआ है।

राजस्थान में कैसा रहेगा मौसम

मौसम केंद्र जयपुर के अनुसार, राजस्थान में साल 2023 के आखिरी दिन मौसम का मिजाज बिगड़ेगा और नए साल की शुरूआत के साथ ही राज्य में कड़ाके की सर्दी के साथ ठिठुरन बढ़ने का पूर्वानुमान है। मौसम विभाग ने कहा है कि अगले 24 घंटे के दौरान न्यूनतम तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की जा सकती है। राज्य में 30 दिसंबर तक मौसम शुष्क रहेगा। परंतु साल के आखिर दिन 31 दिसंबर से सूबे के जयपुर, जोधपुर, कोटा, उदयपुर संभाग सहित अधिकतर जिलों में हल्की से हल्की मध्यम बारिश हो सकती है। जिससे तापमान में भारी गिरावट आएगी और ठंड बढ़ जाएगी। प्रदेश में नए साल 2024 के पहले ही दिन भयंकर सर्दी रहने की संभावना है। जयपुर में न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस व अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना मौसम विभाग ने व्यक्त की है।

कृषि के लिए महत्वपूर्ण है कोहरा

मौसम विभाग ने कहा है कि कोहरे के कारण होने वाली बाधा अस्थायी असुविधा होगी, लेकिन इसकी अलौकिक सुंदरता की स्मृति इसके साफ होने के बाद भी लंबे समय तक बनी रह सकती है। जहां कोहरे ने कुछ व्यवधान पैदा किया है, वहीं यह एक प्राकृतिक घटना भी है जो क्षेत्र के पारिस्थितिकी तंत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। कोहरा मिट्टी में नमी बनाए रखने में मदद करता है, जो कृषि के लिए महत्वपूर्ण है। इसके अतिरिक्त, कोहरा प्रदूषकों को फ़िल्टर करके हवा की गुणवत्ता में सुधार करने में मदद कर सकता है। मौसम विज्ञानियों ने कहा है कि घना कोहरा अगले तीन से चार दिनों तक बना रह सकता है, जिससे क्षेत्र खतरे में रहेगा। लोगों को यात्रा के दौरान सावधानी बरतने और मौसम संबंधी सलाह के बारे में अपडेट रहने की सलाह मौसम विभाग की ओर से दी जाती है।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

क्विक लिंक

लोकप्रिय ट्रैक्टर ब्रांड

सर्वाधिक खोजे गए ट्रैक्टर