ट्रैक्टर समाचार सरकारी योजना समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

गेहूं किसानों के लिए खुशखबरी : सरकार अब 2400 रुपए के भाव से खरीदेगी गेहूं

गेहूं किसानों के लिए खुशखबरी : सरकार अब 2400 रुपए के भाव से खरीदेगी गेहूं
पोस्ट -24 जनवरी 2024 शेयर पोस्ट

रबी विपणन सीजन 2024-25 में गेहूं रजिस्ट्रेशन शुरू, किसान जल्दी करें अपना पंजीयन

गेहूं किसानों के लिए एक बड़ी खुशखबरी सामने आई है। गेहूं को अब खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभागखाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग (MSP) से ज्यादा कीमत पर खरीदा जाएगा। रबी विपणन सीजन 2024-25 के लिए केंद्र सरकार ने गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य 2275 रुपए प्रति क्विटंल तय किया है। लेकिन अब राज्य सरकार ने अपने प्रदेश के किसानों को फायदा पहुंचाने के लिए गेहूं की कीमत 2400 रुपए प्रति क्विंटल घोषित कर दी है।

New Holland Tractor

इसमें किसानों को 125 रुपए का बोनस दिया जाएगा। साथ ही किसानों को 48 घंटे के अंदर भुगतान कर दिया जाएगा। ट्रैक्टर गुरु की इस पोस्ट में आपको रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया, खरीद केंद्र, आवश्यक दिशा-निर्देश आदि की जानकारी दी जा रही है।

गेहूं खरीद के लिए किसान कैसे करें पंजीकरण 2024 (How to register farmers for wheat purchase 2024)

राजस्थान की भजन लाल सरकार ने रबी विपणन सीजन 2024-25 के लिए रजिस्ट्रेशन प्रकिया शुरू कर दी है। राजस्थान के गेहूं किसान https://mspproc.rajasthan.gov.in/ पर जाकर गेहूं की सरकारी खरीद के लिए रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। यहां किसान को अपना जनाधार कार्ड नंबर दर्ज करना होगा।

गेहूं की सरकारी खरीद के लिए इन बातों का रखना होगा ध्यान

राजस्थान में गेहूं की सरकारी खरीद के लिए किसानों को कुछ बातों का ध्यान रखना होगा। जो इस प्रकार है :

  • पंजीकरण के लिए जन आधार में कम से एक सदस्य का मोबाइल नंबर जरुरी है
  • राजस्थान में गेहूं विक्रय के लिए पंजीयन प्रक्रिया 20 जनवरी 2024 से शुरू हो चुकी है जो 25 जून 2024 तक जारी रहेगी
  • किसान इस अवधि में सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक पंजीयन करा सकते हैं
  • किसी भी प्रकार की समस्या सामने आने पर हेल्पलाइन Email ID [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं
  • पंजीकरण के 7 से 10 दिनों में उपज को बेचने हेतु पंजीकृत मोबाइल नंबर पर SMS (संदेश) प्राप्त होगा
  • मोबाइल पर एमएमएस नहीं आने पर संबंधित क्रय केंद्र पर संपर्क करें अथवा स्वयं के पंजीकरण संख्या/ जन आधार से विभाग की वेबसाइट पर जाकर जानकारी प्राप्त करें
  • उपज को खरीद केंद्र पर बेचने के लिए जाते समय किसान के पास पहचान पत्र होना चाहिए। पहचान पत्र में जन आधार कार्ड/ आधार कार्ड/ वोटर कार्ड/ पैन कार्ड आदि शामिल है
  • स्वयं की भूमि नहीं होने की स्थिति में अनुबंध/किरायानामा/लीज की प्रति खरीद केंद्र पर साथ लाएं
  • नवीनतम मूल गिरदावरी की प्रति खरीद केंद्र पर साथ लाएं
  • खरीद केंद्र पर प्रस्तुत गिरदावरी के विवरण का ऑनलाइन पंजीकरण के समय दिए गए विवरण से मिलान होने पर ही खरीद की जाएगी
  • गेहूं की खरीद का भुगतान पंजीकरण के समय जनाधार में दिए गए बैंक खाते में ही किया जाएगा
  • जन आधार में अपने बैंक खाते की जानकारी अवश्य जांच लें। यदि बैंक विवरण सही नहीं है तो जन आधार कार्ड में बैंक विवरण अपडेट कराना सुनिश्चित करें

20 लाख मीट्रिक टन की होगी खरीद

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग राजस्थान सरकार की ओर से रबी विपणन सीजन 2024-25 में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर 20 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीद का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसके लिए दर 2400 रुपए प्रति क्विटंल निर्धारित की गई है। राज्य में गेहूं खरीद का कार्य कोटा संभाग में 15 मार्च से शुरू होगा। जबकि शेष जिलों में 1 अप्रैल से 30 जून तक किया जाएगा। हालांकि राज्य में 10 मार्च से गेहूं खरीद करने का निर्णय किया जा चुका है।

कृषक समर्थन योजना के तहत किसानों को मिलेगा बोनस

देश की अधिकांश राज्यों में गेहूं की खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य 2275 रुपए प्रति क्विंटल पर की जा रही है। लेकिन राजस्थान में गेहूं की खरीद 2400 रुपए के भाव से की जाएगी। राज्य सरकार कृषक समर्थन योजना के तहत किसानों को 125 रुपए का बोनस देगी। यहां आपको बता दें कि भाजपा ने सत्ता में आने से पहले किसानों से 2700 रुपए प्रति क्विंटल की दर से गेहूं खरीदने का वादा किया था लेकिन सरकार अपना यह वादा अभी पूरा नहीं कर पाई है। किसानों को गेहूं का भाव 2700 रुपए मिलने का इंतजार बना हुआ है।

28.51 लाख हेक्टेयर में गेहूं की बुवाई

राजस्थान में इस बार रबी सीजन में 31 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में गेहूं की बुवाई का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। लक्ष्य के मुकाबले 28 लाख 51 हजार 480 हेक्टेयर क्षेत्र में गेहूं की बुवाई की गई है। राज्य में सबसे ज्यादा गेहूं की बुवाई गंगानगर जिले में होती है। यहां इस बार 4 लाख 39 हजार 10 हेक्टेयर क्षेत्र में गेहूं की बुवाई की गई है। राज्य सरकार ने गंगानगर खंड से 12 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीद का लक्ष्य रखा है। 

470 केंद्रों पर होगी गेहूं की खरीद

राजस्थान में गेहूं की सरकारी खरीद के लिए 470 केंद्र बनाए गए हैं। राज्य सरकार फूड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एफसीआई) के अलावा तिलम संघ, नाफेड, राजफेड और एनसीसीएफ के माध्यम से गेहूं की खरीद करेगी। राज्य में सबसे ज्यादा 211 सेंटर राजफेड के है जबकि सबसे कम 9 सेंटर एनसीसीएफ के है। किसान गेहूं खरीद के लिए टोकन की जानकारी इस लिंक mspproc.rajasthan.gov.in/Farmer_Application_Status.aspx से प्राप्त कर सकते हैं।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Call Back Button

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors