सरकारी योजना समाचार ट्रैक्टर समाचार कृषि समाचार कृषि मशीनरी समाचार मौसम समाचार कृषि व्यापार समाचार सामाजिक समाचार सक्सेस स्टोरी समाचार

कृषि ड्रोन पायलट : कृषि ड्रोन खरीदने पर मिलेगी 75% तक की सब्सिडी

कृषि ड्रोन पायलट : कृषि ड्रोन खरीदने पर मिलेगी 75% तक की सब्सिडी
पोस्ट -04 जनवरी 2023 शेयर पोस्ट

किसान और युवा भी बनेंगे ड्रोन पायलट, जानें, कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन

भारत में अब कृषि क्षेत्र में नई-नई आधुनिक तकनीकों को बढ़ावा दिया जा रहा है। सरकार भी किसानों को खेती किसानी में प्रयोग होने वाली नई तकनीकों के उपयोग करने के बारे में जानकारी दे रही है। इसी कड़ी में सरकार किसानों को ऐसी ही एक नई तकनीक कृषि ड्रोन चलाने का प्रशिक्षण दे रही है। अपने देश में कृषि ड्रोन योजना केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई है। इसका मुख्य उद्देश्य किसानों के लिए खेती के काम को आसान बनाना है। इसके तहत केंद्र सरकार किसानों को कृषि ड्रोन खरीदने पर सब्सिडी का लाभ भी प्रदान कर रही है। कृषि  ड्रोन चलाने से पहले किसानों को ड्रोन चलाने के लिए ड्रोन पायलट का प्रशिक्षण लेना होता है। इस कृषि ड्रोन से किसानों को खेती करने में बहुत मदद मिलेगी। क्योंकि इन ड्रोन की मदद से किसान खेतों में बीज, यूरिया और कीटनाशकों का छिड़काव कम समय में बड़े आसानी के साथ कर सकेंगे, कृषि ड्रोन से किसानों का समय और श्रम बचने के साथ-साथ कीटनाशक, दवा, खाद तथा उर्वरक की भी बचत होगी। इसलिए केंद्र सरकार भी कृषि ड्रोन के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए कई प्रकार की योजनाएं संचालित कर रही है। किसान भाईयों, आज ट्रैक्टर गुरु की इस पोस्ट के माध्यम से कृषि ड्रोन व उसके प्रशिक्षण से संबंधित सभी जानकारियां आपके साथ साझा करेंगे।

New Holland Tractor

कृषि ड्रोन संचालन के लिए लेना होगा प्रशिक्षण

कृषि ड्रोन को संचालन करने के लिए सबसे पहले आपको ड्रोन प्रशिक्षण सर्टिफिकेशन प्राप्त करना होगा। इसके लिए सरकार द्वारा द्वारा कृषि ड्रोन पायलट बनने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। आपको कृषि ड्रोन की ऑफिशियल वेबसाइट https://digitalsky.dgca.gov.in/home पर सर्टिफिकेट कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। ड्रोन उड़ाने के सर्टिफिकेट को प्राप्त करने की इस प्रक्रिया के लिए आपको 100 रुपये आवेदन शुल्क का भुगतान भी करना होगा।

ड्रोन पायलट सर्टिफिकेशन से पहले आपको DGCA यानी डायरेक्टरेट जनरल ऑफ सिविल एविशन के माध्यम से ट्रेनिंग की परीक्षा पास करनी होगी। यानी की आपको कृषि ड्रोन को उड़ाने के लिए लाइसेंस प्राप्त करना होगा। जैसे आपको बाइक या कार चलाने के लिए लाइसेंस की जरुरत होती हैं उसी तरह कृषि ड्रोन के लाईसेंस की जरुरत होती है व उसको बनवाते समय कुछ जरूरी नियमों का पालन करना होता है। कृषि ड्रोन चलाने के भी कुछ महत्वपूर्ण नियम होते हैं। ड्रोन का लाईसेंस लेने के लिए आपको 1000 रुपये की राशि का भुगतान करना होता है।

3 घंटे का काम कृषि ड्रोन की मदद से 10 मिनट में करें पूरा

कृषि ड्रोन की मदद से किसान 10 मिनट में एक एकड़ क्षेत्र में कीटनाशक का छिड़काव आसानी से कर सकते हैं, जबकि इसी काम को स्प्रे से करने में किसान को करीब तीन घंटे से अधिक का समय लग जाता है। इसके अलावा कृषि ड्रोन से कीटनाशक का छिड़काव करने पर समय की बचत होती है और कीटनाशक के शरीर पर पड़ने वाले दुष्प्रभावों से भी बचा जा सकता है। खेती में कृषि ड्रोन का इस्तेमाल खेत की मैपिंग और सर्वेक्षण करने में भी किया जा सकता है।

कृषि ड्रोन खरीदने पर सरकार दे रही सब्सिडी

कृषि में ड्रोन के इस्तेमाल को बढ़ाने और हर किसान तक इस तकनीक को पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार भी किसानों को कृषि ड्रोन खरीदने पर 100 प्रतिशत तक की आर्थिक मदद दे रही है। सरकार की इस योजना के तहत कृषि ड्रोन खरीदने के लिए कृषि विश्वविद्यालयों और कृषि प्रशिक्षण संस्थानों को 100 फीसदी तक की सब्सिडी दी जा रही है।

इस योजना के तहत किसान उत्पादक संगठन को भी कृषि ड्रोन खरीदने पर 75 प्रतिशत तक की सब्सिडी (अधिकतम 10 लाख रुपये) का लाभ प्रदान कर रहीं हैं। महिला किसान, एससी-एसटी किसानों को कृषि ड्रोन की खरीद पर 50 प्रतिशत (अधिकतम 5 लाख रुपये) और सामान्य वर्ग के किसानों को 40 प्रतिशत (अधिकतम 4 लाख) तक की सब्सिडी का लाभ सरकार दे रही है।

कृषि ड्रोन पायलट बनने के लिए योग्यता शर्तें

कृषि ड्रोन पायलट बनने के लिए सरकार ने कुछ योग्यता शर्तें तय की हैं जो इस प्रकार से हैं-

  • कृषि ड्रोन उड़ाने के लिए आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक की निर्धारित की गई हैं।
  • आवेदक को कृषि ड्रोन पायलट बनने के लिए 10वीं पास होना चाहिए
  • आवेदक को कृषि ड्रोन पायलट बनने के लिए प्रशिक्षण लेना अनिवार्य हैं।
  • कृषि ड्रोन पायलट बनने के लिए रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य हैं।

ट्रैक्टरगुरु आपको अपडेट रखने के लिए हर माह न्यू हॉलैंड ट्रैक्टर व सोनालिका ट्रैक्टर कंपनियों सहित अन्य ट्रैक्टर कंपनियों की मासिक सेल्स रिपोर्ट प्रकाशित करता है। ट्रैक्टर्स सेल्स रिपोर्ट में ट्रैक्टर की थोक व खुदरा बिक्री की राज्यवार, जिलेवार, एचपी के अनुसार जानकारी दी जाती है। साथ ही ट्रैक्टरगुरु आपको सेल्स रिपोर्ट की मासिक सदस्यता भी प्रदान करता है। अगर आप मासिक सदस्यता प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

Website - TractorGuru.in
Instagram - https://bit.ly/3wcqzqM
FaceBook - https://bit.ly/3KUyG0y

Quick Links

Popular Tractor Brands

Most Searched Tractors